Thursday, January 31, 2019

कलेक्टर ने जनहित कार्यो की योजना तैयार कर प्रस्तुत करने दिये निर्देश

कलेक्टर ने जनहित कार्यो की योजना तैयार कर प्रस्तुत करने दिये निर्देश

छिन्दवाडा। गोंडवाना समय। 
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ की मंशा के अनुरूप कलेक्टर डॉ.श्रीनिवास शर्मा द्वारा सभी विभाग प्रमुख अधिकारियों को निर्देश दिये गये है कि राज्य शासन के सभी जनहित कार्यो की विभागीय समीक्षा कर अपूर्ण विकास कार्यो को पूर्ण करवाने की कार्य योजना तैयार कर एक फरवरी तक अनिवार्य रूप से प्रस्तुत करे । इस संबंध में मुख्यमंत्री द्वारा 31 दिसंबर को आयोजित समीक्षा बैठक में दिये गये निदेर्शों, 30 दिसंबर को मुख्यमंत्री की उपस्थिति में कलेक्टर द्वारा की गई घोषणाओं और 27 जनवरी को मुख्यमंत्री के ओ.एस.डी. और जिले के सभी विधायको के साथ संपन्न बैठक में दिये गये निदेर्शों को ध्यान में रखकर कार्य योजना तैयार करे । साथ ही शहरी और ग्रामीण पेयजल व्यवस्था, सिंचाई के लिये नहरों की सफाई, नल-जल योजना, कूप निर्माण, तालाब और जलाश्यो से पेयजल व्यवस्था, किसानों की ऋण माफी के लिये उचित कार्यवाही, खराब/कम वोल्टेज के ट्रांसफार्मर बदलवाने और सभी हितग्राहीमूलक योजनाओं को जनहित में लागू करने में तत्काल कार्यवाही सुनिश्चित करें । इन निदेर्शों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कर की गई कार्यवाही से सीधे अवगत कराये । कलेक्टर डॉ.शर्मा ने सभी विभाग प्रमुख अधिकारियों को निर्देश दिये है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा 31 दिसंबर को एफ.डी.डी.आई में संपन्न समीक्षा बैठक में शासन की योजनाओं को जनहित में शीघ्रातिशीघ्र पूर्ण किये जाने और विभागीय कार्यो को पूर्ण करने में अतिरिक्त आवंटन की आवश्यकता होने पर इस परिप्रेक्ष्य में तत्काल प्रस्ताव तैयार कर कार्य योजना स्वीकृति के लिये प्रस्तुत करे जिससे प्रस्ताव मुख्यमंत्री कार्यालय को प्रेषित किया जा सकें । उन्होंने कहा कि 30 दिसंबर को दशहरा मैदान में मुख्यमंत्री की उपस्थिति में कलेक्टर द्वारा की गई घोषणाओं के परिपालन की नैतिक जिम्मेदारी सभी जिला कार्यालय प्रमुखों की है ।

लापरवाही के लिये विभाग प्रमुख जिम्मेदार होंगे 

उन्होंने निर्देश दिये है कि मुख्यमंत्री की मंशानुसार की गई घोषणाओं के क्रियान्वयन की कार्य योजना तैयार करे और इस कार्य की प्रगति की प्रतिदिन मॉनिटरिंग अपने स्तर से सुनिश्चित करे । यदि घोषणाओं के क्रियान्वयन में किसी भी प्रकार की लापरवाही होती है तो इसके लिये संबंधित विभाग प्रमुख स्वयं जिम्मेदार रहेंगे । उन्होंने 27 जनवरी को मुख्यमंत्री के ओ.एस.डी और जिले के सभी विधायको के साथ संपन्न्? हुईै बैठक के परिप्रेक्ष्य में भी विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये है कि जनहित से संबंधित समस्याओ का तत्काल निराकरण कर विकास कार्यो को पूर्ण कराने के लिये कार्य योजना तैयार करे । हितग्राहीमूलक योजनाओं का लाभ संबंधित हितग्राही को पहुंचाने में किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं हो, यह सुनिश्चित करे । कलेक्टर डॉ.शर्मा ने निर्देश दिये है कि सभी विभाग प्रमुख और प्रत्येक मैदानी अमला प्रतिदिन डेली डायरी संधारित करें जिसमें अपने प्रतिदिन के मूवमेंट और कार्यो के संबंध में आवश्यक नोट अनिवार्य रूप से संधारित करें । साथ ही प्रत्येक विभाग में फाईल मूवमेंट पंजी भी अनिवार्य रूप से संधारित करें । उन्होंने कहा है कि वे अपने औचक निरीक्षण के दौरान डेली डायरी और फाईल मूवमेंट पंजी का अनिवार्य रूप से अवलोकन करेंगे । उन्होंने प्रतिसप्ताह समय सीमा की बैठक में भी सभी बिंदुओं की समीक्षा करने के लिये भी कहा है ।

No comments:

Post a Comment

Translate