Friday, May 3, 2019

शराब ठेकेदार ने शुष्क दिवस के दिन पाण्डियाछपारा में धड़ल्ले से बिकवाया शराब

शराब ठेकेदार ने शुष्क दिवस के दिन पाण्डियाछपारा में धड़ल्ले से बिकवाया शराब  

सिवनी/पाण्डिया छपारा। गोंडवाना समय। 
अक्सर लोग जनचर्चा में यह कहते है कि शराब से ही सरकार चलती है इसलिये सरकार इसे बंद नहीं करना चाहती है कि क्योेंकि इससे राजस्व का संग्रह सबसे ज्यादा सरकार को प्राप्त होता है । वहीं चुनाव आयोग के दिशा निर्देशों के चलते आचार संहिता के दोरान जिस तरह से आबकारी ओर पुलिस प्रशासन के द्वारा सघन मुहिम चलाई गई और शराब किराना दुकान व ढाबों सहित अन्य स्थानों पर पकड़ाई है । प्रशासन की यहीं कार्यवाही स्वयं ही प्रमाणित कर रही है कि कच्ची शराब हो या देशी विदेशी शराब किस तरह खुले व्यापार के रूप में गांव-गांव, गली-गली, सड़कों के किनारे बेखौफ होकर बिक रही है । वहीं चुनावी आचार संहिता के दौरान तो कच्ची व देशी विदेशी शराब पर कार्यवाही की गई है लेकिन सिवनी जिले में 29 अप्रैल को चुनाव होने के बाद एवं शुष्क दिवस में शराब की दुकानों में लगी सील टूटने के बाद अवैध शराब का यह काला कारोबार या व्यापार फिर दिन दुनी रात चौगुनी गति से बढ़ रहा है ।

शुष्क दिवस के दिन भी बिकी शराब

देशी शराब दुकान पाण्डियाछपारा ठेकेदार और उनके कर्मचारियों के द्वारा शुष्क दिवस के पहले ही गांव गांव और पाण्डियाछपारा में ही शराब दुकान के बगल में शराब बेचने के लिये शराब उपलब्ध करवा दी गई थी । यह हम नहीं कह रहे है वरन शराब ठेकेदार का वह कर्मचारी जो गांव गांव व हॉटल-ढाबों व अन्य दुकानों में अवैध रूप से शराब पहुंचाने का काम  करता है । शुष्क दिवस के दौरान पाण्डिया छपारा में शराब दुकान के बाजू में ही शराब की बिक्री हो रही थी । इस मामले की शिकायत जब दीपक मेश्राम पत्रकार के द्वारा इस संबंध में पुलिस थाना उगली में किया गया था पर समय रहते कोई कार्यवाही नहीं की गई ।

दीपक मेश्राम ने मारपीट व अपमानित करने की उगली थाने में किया शिकायत

शुष्क दिवस के दिन शराब बिक्री को लेकर पुलिस थाना में जानकारी देने के बाद शराब ठेकेदार नकुलराम यादव ओर
उनके कर्मचारी गौतम गुप्ता भड़क गया ओर उसने  पत्रकार दीपक मेश्राम को 1 मई की रात्रि में लगभग 9 से 10 बजे के बीच में अपने मोबाईल नंबर 6264956235 पर फोन कर पाण्डिया छपारा में स्थित मनीष सागर लाली की हॉटल में बुलवाया ओर जबरन उसके साथ मारपीट किया और जातिगत रूप से अपमानित किया । जिसकी शिकायत दीपक मेश्राम के द्वारा पुलिस थाना उगली में किया गया है।

म प्र में 10 मार्च से 21 अप्रैल तक 228471 लीटर पकड़ाई शराब

आचार संहिता के दौरान चुनाव आयोग के दिशा निर्देश के चलते मध्य प्रदेश में जिस तरह से अवैध शराब को लेकर 52 जिलो में 10 मार्च 2019 से 21 अप्रैल तक कार्यवाही की गई उस दौरान 228471 लीटर अवैध शराब का जखीरा पकड़ाया है वहीं इसकी कीमत 54013457 है एवं कुल 22558 छापामार कार्यवाही की गई थी । जिसमें 17202 मामलों पर प्रकरण दर्ज किया गया है । जिसमें सिवनी जिले में 286 प्रकरण कायम किये गये थे वहीं अवैध शराब के मामलों में 8124 लोगों की गिरफतारी मध्य प्रदेश में की गई थी वहीं सिवनी जिले में 219 लोगों की गिरफतारी की गई थी। इसके बाद के और आंकड़ों को जोड़ लिया जाये तो इससे यह पता चलता है कि लगभग एक माह में ही 100 करोड़ रूपये से ऊपर का अवैध शराब का अवैध कारोबार मध्य प्रदेश में चल रहा है यानि एक साल का यह 1000 करोड़ रूपये से अधिक का हो सकता है ।

No comments:

Post a Comment

Translate