Wednesday, June 26, 2019

अपनत्व की भावना से निपटायें अजा-अजजा वर्ग की समस्याएँ- ओमकार मरकाम

अपनत्व की भावना से निपटायें अजा-अजजा वर्ग की समस्याएँ- ओमकार मरकाम

मिन्टो हॉल में अजा-अजजा वर्ग के प्रति संवेदनशीलता विषयक पुलिस प्रशिक्षण प्रारम्भ

भोपाल। गोंडवान समय। 
जनजातीय कल्याण मंत्री श्री ओमकार सिंह मरकाम ने बुधवार को मिन्टो हॉल में अजा-अजजा वर्ग के प्रति संवेदनशीलता विषयक दो दिवसीय राज्य स्तरीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए पुलिस विभाग के अधिकारियों-कर्मचारियों से कहा कि अनुसूचित जाति एवं अनूसूचित जनजाति वर्ग की समस्याओं का निराकरण अपनत्व और संवेदनशीलता से किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि देश और प्रदेश के विकास में सामान्य वर्गो की तरह इन वर्गो का भी हमेशा महत्वपूर्ण योगदान रहा है।

काँच में पारा लगा दो तो आईना बन जाता है, व्यक्ति को आईना दिखा दो तो पारा चढ़ जाता है

मंत्री श्री ओमकार मरकाम ने कहा कि देश में स्वतंत्रता संग्राम से लेकर आज तक हुए विकास में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति वर्ग के त्याग और बलिदान को प्रदेश की सीमाओं में नहीं बांधा जा सकता। उन्होंने पुलिस महकमे से अपेक्षा की कि अगर इन वर्गो की समस्याओं का निराकरण करते समय इनकी आवश्यकताओं के बारे में आप इंसानियत के नाते सोच कर फैसला करेंगे, तो आपसे कभी गलती नहीं होगी। मंत्री श्री ओमकार सिंह मरकाम ने वर्तमान सामाजिक वातावरण को शायराना अंदाज में बताते हुए कहा कि काँच में पारा लगा दो तो आईना बन जाता है, व्यक्ति को आईना दिखा दो तो पारा चढ़ जाता है। उन्होंने कहा कि इस सोच को बदलना होगा। तभी हम इन वर्गो को समाज की मुख्य धारा से जोड़ने में सफल होंगे। श्री मरकाम ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा इन वर्गो के सर्वांगीण विकास के लिये सभी संभव प्रयास किये जा रहे है। इस मौके पर पुलिस महानिदेशक श्री व्ही.के. सिंह, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (अजाक) सुश्री प्रज्ञा ऋचा श्रीवास्तव और पुलिस मुख्यालय के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

Translate