Tuesday, June 25, 2019

भोपाल मेमोरियल अस्पताल पी.जी. इंस्टीट्यूट के रूप में विकसित होगा, राज्य द्वारा संचालित करने का प्रस्ताव भारत सरकार को भेजा जाएगा

भोपाल मेमोरियल अस्पताल पी.जी. इंस्टीट्यूट के रूप में विकसित होगा, राज्य द्वारा संचालित करने का प्रस्ताव भारत सरकार को भेजा जाएगा

अन्य राज्यों की चिकित्सा शिक्षा का तुलनात्मक अध्ययन होगा
मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ द्वारा चिकित्सा शिक्षा विभाग की गतिविधियों की समीक्षा
 

 

भोपाल- भोपाल मेमोरियल अस्पताल एण्ड रिसर्च सेंटर को पी.जी. इंस्टीट्यूट के रूप में विकसित कर राज्य द्वारा संचालित करने के संबंध में भारत सरकार को प्रस्ताव भेजा जाएगा। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने यह निर्देश  मंत्रालय में चिकित्सा शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक में दिए। मुख्यमंत्री ने चिकित्सा शिक्षा के क्षेत्र में मध्यप्रदेश एवं अन्य राज्यों की तुलनात्मक स्थिति का अध्ययन करवाने को कहा। बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. विजय लक्ष्मी साधौ उपस्थित थीं।
मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने शासकीय हमीदिया चिकित्सालय में चल रहे निर्माण कार्यों की प्रगति की समीक्षा करते हुए कहा कि इस संबंध में अगले सात दिन में रिपोर्ट दी जाए ताकि निर्माण में आ रहे व्यवधान को तत्काल दूर किया जा सके। मुख्यमंत्री ने शासकीय एवं अन्य चिकित्सालय में अध्ययन कर रहे चिकित्सकों की सेवाएँ ग्रामीण क्षेत्रों में देने के लिए नीति निर्धारित करने को कहा। श्री नाथ ने चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधीन अस्पतालों में आवश्यकता के अनुसार दवा, उपकरण, सामग्री एवं सेवा उपलब्ध करवाने के लिए मध्यप्रदेश पब्लिक हेल्थ सर्विस कॉर्पोरेशन लि. के समान मेडिकल चिकित्सा शिक्षा कॉर्पोरेशन बनाने को कहा। मुख्यमंत्री ने बेहतर चिकित्सा सेवाएँ उपलब्ध करवाने के लिए चिकित्सा महाविद्यालयों में कम से कम 10 प्रतिशत आय अपने स्वयं के स्रोतों से अर्जित करने को कहा।
मुख्यमंत्री श्री नाथ ने चिकित्सा शिक्षकों को मिलने वाले वेतन एवं अन्य सुविधाओं की अन्य राज्यों में क्या व्यवस्था है इसका अध्ययन करने तथा निजी-जन-भागीदारी से चिकित्सीय सुविधाओं के विकास के संबंध में योजनाओं की जानकारी एकत्रित करने के निर्देश दिए। उन्होंने चिकित्सा महाविद्यालयों के डॉक्टरों की सुरक्षा एवं अस्पताल परिसर में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रत्येक चिकित्सा महाविद्यालय में पुलिस चौकी स्थापित करने के निर्देश दिए।मुख्यमंत्री ने कहा कि इंदौर में सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल के सुचारू संचालन के लिए आवश्यकता अनुसार पदों का निर्धारण कर उन पर नियुक्ति की जाए जिससे वहाँ सभी सुपर स्पेशियलिटी सेवाएँ शुरू हो सकें।बैठक में मुख्य सचिव श्री एस.आर. मोहंती, प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा श्री शिवशेखर शुक्ला एवं वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

Translate