गोंडवाना समय

Gondwana Samay

गोंडवाना समय

Gondwana Samay

Wednesday, August 21, 2019

देशभर में 42 लाख सरकारी शिक्षकों के प्रशिक्षण की अभूतपूर्व राष्‍ट्रीय पहल ‘निष्‍ठा’ का शुभारंभ

देशभर में 42 लाख सरकारी शिक्षकों के प्रशिक्षण की अभूतपूर्व राष्‍ट्रीय पहल ‘निष्‍ठा’ का शुभारंभ 

निष्‍ठा’ विश्‍व में अपनी तरह का सबसे बड़ा शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम

नई दिल्ली। गोंडवाना समय। 
केन्‍द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री रमेश पोखरियाल 
निशंक’ ने आज नई दिल्‍ली स्थित डॉ. अम्‍बेडकर अंतर्राष्‍ट्रीय केन्‍द्र में प्राथमिक शिक्षा का स्‍तर बेहतर करने के राष्‍ट्रीय मिशन निष्‍ठा (राष्‍ट्रीय स्‍कूल प्रधानाध्‍यापक एवं शिक्षक समग्र उन्‍नति पहल)का शुभारंभ किया। मंत्री ने इस कार्यक्रम के दौरान निष्‍ठा की वेबसाइट, प्रशिक्षणमॉड्यूल, प्राइमर बुकलेट और एक मोबाइल एप भी लॉन्‍च किया।
इस अवसर पर मानव संसाधन विकास मंत्री ने कहा कि यह विश्‍व में अपनी तरह का सबसे बड़ा शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम है। मंत्री ने इसका विवरण देते हुए कहा कि इस व्‍यापक प्रशिक्षण कार्यक्रम निष्‍ठा’ का मूल उद्देश्‍य विद्यार्थियों में गहन चिंतन प्रक्रिया को बढ़ावा देने के लिए शिक्षकों को प्रोत्‍साहित करना है। उन्‍होंने कहा कि शिक्षकों की जागरूकता बढ़ाने के साथ-साथ विभिन्‍न पहलुओं से जुड़े उनके कौशल को बढ़ाया जाएगा। पठन-पाठन के बेहतर नतीजे सुनिश्चित करना, योग्यता आधारित शिक्षण एवं परीक्षण, विद्यार्थी केन्द्रित शिक्षण शास्‍त्र, स्‍कूलों में सुरक्षा, व्‍यक्तिगत-सामाजिक गुणवत्‍ता, समावेशी शिक्षा, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सहित शिक्षक-शिक्षण में आईसीटी, स्‍वास्‍थ्‍य एवं योग सहित तंदुरूस्‍ती, पुस्‍तकालय, इको-क्‍लब, युवा क्‍लब, किचन गार्डनसहित स्‍कूली शिक्षा में पहल, स्‍कूलों में नेतृत्‍व के गुण इत्‍यादि इन पहलुओं में शामिल हैं।
     
श्री पोखरियाल ने कहा कि शिक्षक ही राष्‍ट्र की शक्ति हैं, इसलिए उनकी गुणवत्‍ता अवश्‍य ही सर्वश्रेष्‍ठ होनी चाहिए। उन्‍होंने कहा कि यह प्रधानमंत्री का सपना है कि हमारे शिक्षकों की गुणवत्‍ता इतनी बेहतर हो, जिससे कि उन्‍हें विश्‍व भर में सम्‍मान मिले।

      श्री पोखरियाल ने कहा कि यह प्रशिक्षण कार्यक्रम भी सरकार के 100 दिवसीय कार्यक्रम के लिए इस विभाग के दो बड़े क्रांतिकारी विचारों (आइडिया) में से एक है। इस एकीकृत कार्यक्रम का उद्देश्‍य लगभग 42 लाख प्रतिभागियों की पाठन क्षमता को बेहतर बनाना है, जिसके तहत सभी सरकारी स्‍कूलों में प्राथमिक स्‍तर के समस्‍त स्‍कूली शिक्षकों एवं प्रधानाध्‍यापकों, राज्‍य शिक्षा अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषदों एवं जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्‍थानों के सदस्‍योंऔर सभी राज्‍यों एवं केन्‍द्र शासित प्रदेशों के प्रखंड संसाधन समन्‍वयकों और क्‍लस्‍टर संसाधन समन्‍वयकों को कवर किया जाएगा।
      श्री पोखरियाल ने इस बात पर प्रकाश डाला कि यह अपनी तरह की पहली ऐसी पहल है, जिसके तहत सभी राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों के लिए राष्‍ट्रीय स्‍तर पर मानक प्रशिक्षण मॉड्यूल विकसित किये गये हैं।
     इस कार्यक्रम का शुभारंभ स्कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग में सचिव श्रीमती रीना रे और मानव संसाधन विकास मंत्रालय, सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के वरिष्ठ अधिकारियोंनीति निर्माताओं और संस्थानों के प्रमुखों की उपस्थिति में किया गया।

No comments:

Post a Comment

Translate