गोंडवाना समय

Gondwana Samay

गोंडवाना समय

Gondwana Samay

Saturday, October 26, 2019

राज्य पुलिस बलों में 1,69,550 महिला कर्मी का प्रतिशत 8.73 प्रतिशत हुआ

राज्य पुलिस बलों में 1,69,550 महिला कर्मी का प्रतिशत 8.73 प्रतिशत हुआ  

महिला पुलिस की ताकत में हुई 20.95  प्रतिशत की बढ़ोत्तरी

नई दिल्ली। गोंडवाना समय। 
केंद्रीय गृह राज्यमंत्री श्री जी. किशन रेड्डी ने 24 अक्टूबर को नई दिल्ली के नॉर्थ ब्लॉक स्थित गृह मंत्रालय के अपने कार्यालय में पुलिस अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो (बीपीआरडी) के प्रमुख प्रकाशन पुलिस संगठनों के आंकड़े (01.01.2018 तक) को जारी किया। बीपीआरडी के डीजी श्री वी. एस. के. कौमुदी और बीपीआरडी के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी इस मौके पर उपस्थित थे।

भारत में पुलिस संगठन के ये आंकड़े सभी राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों, सीएपीएफ और सीपीओ से मिली पुलिस के बुनियादी ढांचे, श्रमशक्ति और अन्य संसाधनों की जानकारी का एक महत्वपूर्ण संकलन है। यह प्रकाशन गृह मंत्रालय और राज्य स्तर पर विभिन्न नीति विश्लेषणों और संसाधन आवंटन निर्णयों के लिए बहुत उपयोगी साबित हुआ है। इस प्रकाशन को पुलिस से जुड़े विषयों पर कई अनुसंधानों में व्यापक रूप से उद्धृत किया गया है।

जनसंख्या के अनुपात में पुलिस की संख्या में हुई मामूली वृद्धि 

1. डीओपीओ के 2017 संस्करण के बाद के एक साल में राज्य पुलिस की स्वीकृत संख्या में 19,686 पुलिस कर्मियों और सीएपीएफ के बल में 16,051 पुलिस कर्मियों की वृद्धि हुई है।
2. महिला पुलिस की ताकत में 20.95 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है जिससे राज्य पुलिस बलों में महिला कर्मियों की कुल संख्या 1,69,550 हो गई। इससे भारतीय पुलिस में महिलाओं का कुल प्रतिशत 8.73 तक पहुंच गया है।
3. इस अवधि के दौरान 1,24,429 पुलिस कर्मियों को विभिन्न रैंकों में भर्ती किया गया।
4. इस अवधि के दौरान पुलिस कर्मियों पर प्रशिक्षण व्यय में 20.41 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है।
5. राज्य स्तर पर कुल पुलिस जनसंख्या अनुपात (पीपीआर) प्रति लाख की जनसंख्या पर 192.95 पुलिसकर्मियों का था जो एक मामूली वृद्धि दशार्ता है।
6. इस अवधि के दौरान पुलिस कर्मियों के लिए विभिन्न प्रकार के लगभग 20,149 परिवार क्वार्टरों का निर्माण किया गया।

पुलिस स्टेशन 16422 तो साईबर पुलिस स्टेशन 120 हुये

क. पुलिस स्टेशनों की संख्या 15579 से बढ़कर 16422 हो गई है। इसमें साइबर पुलिस स्टेशन भी शामिल हैं जिनकी संख्या 84 से बढ़कर 120 हो गई है।
ख. इलेक्ट्रॉनिक निगरानी में सुधार हुआ है क्योंकि 2,10,278 अतिरिक्त सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। अब ताजा आंकड़े के अनुसार ये संख्या 2,75,468 है।
पुलिस संगठनों के आंकड़े (01.01.2018 तक) प्रकाशन जल्द ही बीपीआरडी की वेबसाइट www.bprd.nic.in के 'वॉट्स न्यू' सेक्शन में उपलब्ध होगा।

No comments:

Post a Comment

Translate