Tuesday, October 22, 2019

जब सरकार में थे तब अजजा आयोग क्यों नहीं बनाया-कुलस्ते

जब सरकार में थे तब अजजा आयोग क्यों नहीं बनाया-कुलस्ते 

देवास। गोंडवाना समय। 
आदिवासी प्रतिभा सम्मान समारोह में केंद्रीय इस्पात राज्यमंत्री फग्गनसिंह ने फ्रेंड्स आॅफ ट्राइब्स इंडिया व आदिवासी प्रतिभा सम्मान समारोह कार्यक्रम के दौरान कहा कि वर्ष 2014 में भाजपा की सरकार बनने के बाद आदिवासियों के हित में अनेक कार्य हुए है। वहीं भाजपा की सरकार के समय ही अजजा आयोग का गठन हुआ लेकिन जो आदिवासी हित की बात करते हैं, उन दल के नेताओं को यह बताना चाहिए कि जब अवसर मिला था तब इस अनुसूचित जनजाति आयोग का गठन क्यों नहीं किया। सड़क पर आदिवासी हित की बात करने से कुछ नहीं होता। इस दौरान कार्यक्रम में ट्राइफेड के नेशनल चेयरमैन रमेशचंद्र मीणा मुख्य अतिथि, विशेष अतिथि पूर्व मंत्री दीपक जोशी, बागली विधायक पहाड़सिंह कन्नौजे, वनवासी कल्याण आश्रम के सदस्य हर्ष चौहान, मानसिंह वर्मा उपस्थित रहे। संयोजक डॉ रवि वर्मा ने स्वागत किया। सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ ही प्रतिभाओं का सम्मान भी किया गया। विधायक कन्नौजे, धीरज निनामा, हरिओम मीणा, भोलाराम निनामा, जय मीणा, डॉ ऐश्वर्या मीणा, रेशम मुजाल्दे, मोहनलाल मीणा, कीर्ति राज राठौड़ आदि प्रतिभाओं का सम्मान किया गया।

आदिवासी की मान प्रतिष्ठा के बारे में कांग्रेस ने सोचा ही नहीं 

केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने कार्यक्रम के पश्चात पत्रकारों से चर्चा में बताया कि आदिवासियों की मान प्रतिष्ठा के बारे में कांग्रेस ने सोचा ही नहीं है। भाजपा सरकार ने आदिवासी क्रांतिकारियों के स्थानों को चिह्नित किया और उनका डेवलपमेंट कराया। वहां पर कार्य करने की योजना बनाई वहां पर धन खर्च किया। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देखेंगे तो भारत की स्थिति बेहतर है। मैं मानता हूं कि आज थोड़ा संकट जरूर है परंतु हम बहुत जल्दी इसको भरने वाले हैं। हम जिस काम में लगे हैं। हमें इस काम को पूरा करना है। पार्टी संगठन के ऊपर सारे निर्णय रहते हैं। पार्टी जो निर्णय करती है उस निर्णय के आधार पर हम आगे बढ़ते हैं।

No comments:

Post a Comment

Translate