Wednesday, October 9, 2019

चोरी करने वाले अंतर्राज्जीय गिरोह का पदार्फाश

चोरी करने वाले अंतर्राज्जीय गिरोह का पदार्फाश

घरों के छप्पर काटकर एवं सूने घरों का ताला तोड़कर करते थे चोरी 

सोने चांदी के आभूषण एवं नगदी सहित कुल 80 हजार का मशरूका जप्त 

सिवनी। गोंडवाना समय। 
विगत लंबे समय से घंसौर, लखनादौन, धनौरा एवं केवलारी में घरों में हो रही चोरियों को गंभीरता से लेते हुये पुलिस अधीक्षक श्री कुमार प्रतीक एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री कमलेश कुमार खरपुसे के निर्देशन पर एसडीओपी सुश्री श्रद्धृा सोनकर के नेतृत्व में एक टीम गठित की गई उक्त टीम एवं थाना प्रभारी घंसौर अपने स्टॉफ के साथ अज्ञात आरोपियों की तलाश हेतु लगाया गया। इनके द्वारा आरोपियों की पतासाजी हेतु अलग-अलग स्थानों पर दबिश दी गई लेकिन आरोपियों का कोई सुराग नहीं लगा। इसी दौरान मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि ग्राम इंदरी थाना खटिया जिला मण्डला के कुछ लोगों के द्वारा सिवनी जिले में चोरी की घटना को अंजाम दिया गया है । सूचना की तस्दीकी हेतु अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सिवनी द्वारा थाना प्रभारी घंसौर एवं उक्त टीम को जानकारी एकत्रित किये जाने हेतु निर्देशित किया गया।

5-6 दिनों में दबिश के बाद मिली सफलता 

दोनों ही टीमों ने जिला मण्डला जाकर 5-6 दिन तक अलग-अलग स्थानों पर दबिश दी । जिला मण्डला के ग्राम डुंगरिया नांदिया थाना महाराजपुर के रहने वाले भीमा समाज के कुछ व्यक्तियों को संदेह के आधार पर पूछताछ हेतु लाया गया। पूछताछ के दौरान आरोपियों से थाना घंसौर के ग्राम रूपदौन एवं बिनेकी की चोरी के कुछ सुराग मिले। इनके द्वारा बताये गये सुराग के आधार पर काम करने पर पुलिस को सफलता प्राप्त हुई और आरोपियों के द्वारा बताये गये स्थानों से सोने चांदी के जेवरात एवं नगदी बरामद किये गये। ये सभी आरोपी मूलत: ग्राम डुंगरिया जिला मंडला के रहने वाले हैं जो कुछ समय से थाना खटिया के इंदरी ग्राम में रहने लगे हैं।  इनमें से अधिकांश लोग बिना मकान बनाये झोपड़ी में अलग-अलग स्थानों पर जाकर रहते हैं । इनका मुख्य व्यवसाय भीख मांगकर एवं तंबूरा (बाजा) बजाकर जीवन यापन करना है। इस समाज के लागे इंदरी, ककैया, नांदिया, घोघरी, धनपुरी, बिछिया, मण्डला, काठी, बालाघाट एवं पौण्डी, कटिया अधिकांशत: निवास करते हैं ।

रैकी करके देते थे वारदात को अंजाम

ये तबंूरा बजाने एवं भीख मांगने जब गांव में जाते हंै तब घरों की रकैी कर लेते हैं एवं दूसरे गांव में रह रहे अपने साथियों को बुलाकर रात में घरों की छत काटकर या सूने मकान का ताला तोड़कर चोरी करते हैं। चोरी करने वाले इनके साथी तुरंत ही वारदात को अंजाम देकर वापस चले जाते हैं ।

जेवरात व 80 हजार नगद तथा 7 आरोपी गिरफतार 

पुलिस द्वारा पकड़े गये आरोपियों से थाना घंसौर के अपराध क्रमांक 316/19 एवं 319/19 मे चोरी गए सोने चांदी के जेवरात सहित कुल 80 हजार रुपए का मशरूका जप्त किया गया है।  इसके साथ ही पुलिस ने सात आरोपियों को गिरफ्तार किया है जिसमें महेश पिता बीरबल धुर्वे उम्र 35 साल निवासी ग्राम इंदरी थाना खटिया स्थायी निवासी ग्राम नांदिया थाना महाराजपुर जिला मंडला, अशोक पिता लखन मरावी उम्र 32 साल निवासी कटिया थाना किंदरई स्थायी निवासी ग्राम डुंगरिया थाना महाराजपुन जिला मंडला, गोवर्धन पिता बीरबल धुर्वे उम्र 50 साल निवासी ग्राम इंदरी थाना खटिया स्थायी निवासी ग्राम नांदिया थाना महाराजपुर जिला मंडला, रिंकूलाल पिता दौलतराम धुर्वे उम्र 22 साल निवासी धनपुरी माल थाना बम्हनीबंजर जिला मंडला, रज्जूलाल पिता बीरबल धुर्वे उम्र 40 साल निवासी ग्राम इंदरी थाना खटिया स्थायी निवासी ग्राम नांदिया थाना महाराजपुर जिला मंडला, लक्ष्मी प्रसाद पिता करनसिंह मरावी उम्र 48 साल निवासी ग्राम इंदरी थाना खटिया जिला मंडला, प्रकाश पिता बीरबल धुर्वे उम्र 32 साल निवासी इंदरी थाना खटिया स्थायी निवासी ग्राम नांदिया थाना महाराजपुर जिला मंडला को किया गया है एवं सभी आरोपियों से घटना में चोरी गये सोने चांदी के जेवरात एवं नगदी बरामद किया गया है।

अन्य फरार आरोपियों की तलाश जारी तो इनकी रही मुख्य भूमिका 

वहीं अन्य चोरी के प्रकरणों के खुलासे के लिये अन्य फरार आरोपियों की पतासाजी पुलिस द्वारा लगातार की जा रही है । वहीं उक्त वारदात को अंजाम देने वाले चोरो को पकड़ने में मुख्य रूप से भूमिका निभाने वालों में थाना प्रभारी डूंडासिवनी निरीक्षक अमित विलास दाणी, थाना प्रभारी घंसौर निरीक्षक आर0एस0 मरकाम, सउनि पी0एल0 देशमुख, सउनि एन0एल0 परते थाना घंसौर, सउनि के0एस0 पटेल थाना घंसौर, सउनि ओ0पी0 साहू थाना घंसौर, प्र0आर0 योगेश राजपूत, प्र0आर0 देवेन्द्र जायसवाल, रजनीकांत आरक्षक अभिराज, अमर, परवेज, सुन्दर श्याम, अजय बघेल, मनीष पटेल एवं राजू की भूमिका सराहनीय रही।

No comments:

Post a Comment

Translate