Wednesday, November 13, 2019

धोखाधड़ी के आरोपी को गिरफ्तार कराने पुलिस थाना पहुंचे कांग्रेस विधायक

धोखाधड़ी के आरोपी को गिरफ्तार कराने पुलिस थाना पहुंचे कांग्रेस विधायक

दो दिन में नहीं हुई गिरफतारी तो पीड़ितों के साथ बैठेंगे भूख हड़ताल पर

जनजाति बाहुल्य घंसौर में तहसीलदार के डिजीजल हस्ताक्षर का दुरूपयोग कर प्रमाण पत्र जारी करने वाले धोखाधड़ी के मुख्य आरोपी दीपेश नेमा को कांग्रेस की सरकार में पुलिस थाना में जाकर घंसौर पुलिस थाना प्रभारी से गिरफतारी की कार्यवाही के लिये कांग्रेस के विधायक योगेन्द्र सिंह बाबा को घंसौर पुलिस थाना जाकर दो दिन में गिरफतारी कार्यवाही के लिये पहुंचना पड़ा। इतना ही नहीं विधायक ने यह भी कहा कि यदि दो दिन में मुख्य आरोपी की गिरफतारी नहीं हुई तो उन्होंने पीड़ित पक्ष के साथ भूख हड़ताल पर बैठने की बात भी कही है। 

घंसौर। गोंडवाना समय। 
तहसील मुख्यालय में पदस्थ तहसीलदार श्री अमृतलाल धुर्वे के फर्जी हस्ताक्षर कर प्रमाण पत्र जारी करने के मामले में मुख्य आरोपी दीपेश नेमा की गिरफ्तारी की मांग को लेकर मुख्य आरोपी दीपेश नेमा की दुकान में काम करने वाले प्रिंस गिरियाम पर पुलिस प्रशासन द्वारा कार्यवाही करते हुये गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। जबकि मुख्य आरोपी दीपेश नेमा पर शिकायत करते हुये घंसौर थाना में विभिन्न धाराओं के तहत तहसीलदार द्वारा एफआईआर दर्ज करवाई गई थी।

दीपेश को नहीं पकड़ पाई पुलिस ने प्रिंस को भेज दिया जेल

घंसौर में तहसीलदार श्री अमृतलाल धुर्वे के डिजिटल हस्ताक्षर को लेकर जब नया मोड़ सामने आया था कि दीपश नेमा के यहां काम करने वाले खैरी निवासी कृष्ण कुमार गिरियाम के पुत्र प्रिंस गिरियाम को आरोपी बनाकर पुलिस ने जेल भेज दिया था वहीं जबकि मुख्य आरोपी दीपेश नेमा को अभी भी पुलिस गिरफ्तारी नहीं कर पाई है। बीते दिनो 5 नवंबर से कतिया समाज के नागरिक सहित परिजन भी जनपद पंचायत घंसोर के समक्ष भूख हड़ताल पर बेठ गए थे लेकिन 3 दिन बाद एस.डी.एम. ने धरना स्थल पर पहुंचकर 5 दिन के अंदर गिरफ्तारी की बात कर हड़ताल को समाप्त कराया था लेकिन आज तक दीपेश नेमा की गिरफ्तारी नहीं हो पाई।

किसी भी वर्ग के साथ अन्याय बर्दाश्त नहीं किया जायेगा 



उक्त मामले में 13 नवंबर बुधवार को लखनादौन विधायक श्री योगेंद्र सिंह बाबा ने घंसोर पहुंचकर पीड़ित पक्ष व कतिया समाज के लोगो के समर्थन में थाने पहुंचकर फरार आरोपी दीपेश नेमा की गिरफ्तारी को लेकर घंसोर थाना  प्रभारी श्री रमन सिंह मरकाम से मुलाकात किया और कहा कि अगर दो दिवस के अंदर फरार मुख्य आरोपी दीपेश नेमा की गिरफ्तारी नहीं हुई तो मैं खुद ही इनके समर्थन के साथ ही भूख हड़ताल में बैठूंगा क्योकि किसी भी वर्ग के साथ अन्याय बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। क्षेत्र की जनता हमारी है और हम उनके जनप्रतिनिधि होने के नाते उनके साथ हरदम खड़े रहेंगे।

निष्पक्ष जाँच कर आरोपी को गिरफ्तार कर कार्यवाही की जावे

विधायक ने कहा कि आरोपी दीपेश नेमा को बचाने में जो सहयोग कर रहे है चाहें वह किसी भी राजनीतिक दल के हो बिल्कुल बक्शा नहीं जाएगा दो दिन के अंदर आरोपी गिरफ्तार होना चाहिए, चाहे आपको जिससे भी पूछताछ करनी पड़े कर सकते है। साथ ही किसी भी प्रकार की कोताही इस केस में नहीं बख्शी जाए क्योकि यह मामला धोखाधड़ी का है। निष्पक्ष जाँच कर आरोपी को गिरफ्तार कर कार्यवाही की जावे।

No comments:

Post a Comment

Translate