Monday, December 9, 2019

पांच दिवसीय कोयापुनेम कार्यक्रम प्रारंभ

पांच दिवसीय कोयापुनेम कार्यक्रम प्रारंभ
प्रसिद्ध अखाड़ा के साथ भव्य कलश यात्रा सम्पन्न

संवाददाता सुनील ठाकुर 
तेजगढ़/हर्रई। गोंडवाना समय। 
गोंड समाज महासभा जिला कमेटी दमोह की शाखा ग्राम कमेटी हर्रई सिंगौरगढ़ के द्वारा गोंडवाना साम्राज्य की पावन धरा के ग्राम हर्रई सिंगौरगढ़ में पांच दिवसीय कोयापुनेम कार्यक्रम का शुभारंभ भव्य कलश यात्रा के साथ सुप्रसिद्ध अखाड़े और गाजे-बाजे के साथ कार्यक्रम स्थल बड़ादेव ठाना से प्रारंभ होकर ग्राम के प्रमुख मार्गों से होते हुए गांव में भ्रमण किया। उसके बाद पुन: कार्यक्रम स्थल पर यह कलश यात्रा का समापन हुआ और उसके बाद बड़ादेव सुमरनी की गई।
हम आपको बता दें कि यह पांच दिवसीय कोयापुनेम सांस्कृतिक कार्यक्रम में सिवनी जिले से पधारे धमार्चार्य गेंदलाल इनवाती जी के मुखारविंद से प्रवचनों के माध्यम गोंडी धर्म दर्शन शास्त्र से प्रकाशित शक्ति फड़ापेन की सर्वोच्च शक्ति सल्ला गांगरा की क्रिया प्रक्रिया से संसार के समस्त जीवो का प्रादुर्भाव हुआ, पंचखंड धरती में 88 शंभूशेक महादेव बड़ादेव राजाओं का वर्णन बड़ादेव शक्ति उपासना प्रकृति पूजा, विधान, तीज त्यौहार जन्म, विवाह, मृत्यु संस्कार, गढ़ गोत्र, सरना, ठाना-वाना, निशाना टोटम चिन्ह एवं प्रकृति शक्ति भगवान देवी देव शक्तियों का वंशावली वार प्रतिदिन प्रवचनों के माध्यम से वर्णन किया जाएगा।
प्रवचन प्रतिदिन दोपहर 3 बजे से शाम 6 बजे तक उसके ततपश्चात सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। यह कार्यक्रम प्रतिदिन ग्राम हर्रई सिंगौरगढ़ में आयोजित किया गया है। जिसमें गोंड समाज महासभा जिला कमेटी दमोह ब्लॉक कमेटी तेंदूखेड़ा, जबेरा,पटेरा, बांदकपुर, बटियागढ़ , हटा, आदि एवं ग्राम कमेटी हर्रई सिंगौरगढ़ द्वारा सभी जिले वासियों व धर्म प्रेमी बंधुओं को व सगा समाज को सादर अधिक से अधिक पहुंचने के लिए आमंत्रित किया गया है

कार्यक्रम में प्रमुख रूप से ये रहे उपस्थित

प्रदेश सह-सचिव तिरुमाल कौंशल सिंह पोर्ते, जिलाध्यक्ष के.एस उरेर्ती, जिला मीडिया प्रभारी कुँवर सुनील शाह ठाकुर, युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष अनरत सिंह ऐड़ाली, सीताराम सोयाम, सुनील सिंह ऐड़ाली, लखनसिह मरकाम, डेलन सिंह धुर्वे सरपंच, सीताराम कुलस्ते एडवोकेट, बबलू सिंह इरपाचे,सुनील, महाराज सिंह भुमका संघ ब्लॉक अध्यक्ष महाराज सिंह धुर्वे धमार्चार्य ब्रजेश सिंह परस्ते, गोपाल सिंह मरकाम, गोविंद सिंह मरकाम, गोरेलाल करपेती, दादा नन्हेलाल धुर्वे शंभू सिंह, सोनी सिंह धुर्वे, गोपाल सिंह करपेती, कड़ोरी शाह धुर्वे, यशवंत शाह करपेती, मोहन सिंह पुरतेती, भागीरथ सिंह, बैनी सिंह धुर्वे, फागू सिंह, भानसिंह सिंह मरावी, उदयसिंह तेकाम, महेंद्र सिंह, अशोक सिंह तेकाम आदि बुद्धिजीवी के साथ ग्राम के लोगों की उपस्थिति रही।

No comments:

Post a Comment

Translate