Friday, January 31, 2020

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के क्रियान्वयन में मध्य प्रदेश अव्वल

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के क्रियान्वयन में मध्य प्रदेश अव्वल

बेहतर प्रदर्शन के लिये इंदौर जिले को मिला पहला स्थान

भोपाल। गोंडवाना समय। 
मध्यप्रदेश को प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के क्रियान्वयन के लिये पहला स्थान प्राप्त हुआ है। इंदौर जिले को इस योजना के बेहतर प्रदर्शन के लिये पहले स्थान पर चुना गया है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री मातृ वंदना सप्ताह के क्रियान्वयन के लिये भी प्रदेश को तीसरा स्थान प्राप्त हुआ है। प्रदेश में यह सप्ताह 2 से 8 दिसम्बर 2019 को मनाया गया था। प्रमुख सचिव महिला-बाल विकास श्री अनुपम राजन 3फरवरी को नई दिल्ली में यह पुरस्कार प्राप्त करेंगे।
मातृ वंदना योजना का मुख्य उद्देश्य कार्य करने वाली महिलाओं की मजदूरी के नुकसान की भरपाई करने के लिये आर्थिक क्षतिपूर्ति के रूप में प्रोत्साहन राशि देना और उनके उचित आराम और पोषण की व्यवस्था सुनिश्चित करना है। प्रोत्साहन राशि का भुगतान हितग्राही के आधार से जुड़े बैंक खाते या डाकघर खाते में सीधे जमा की जायेगी। पात्र हितग्राही को गर्भावस्था का पंजीयन शीघ्र कराने पर एक हजार रुपये पहली किश्त, कम से कम एक प्रसव पूर्व जाँच (गर्भाव्स्था के 6 माह बाद) के बाद द्वितीय किश्त 2 हजार रुपये तथा बच्चे के जन्म का पंजीकरण और उसके प्रथम चक्र का टीकाकरण पूरा होने पर 2 हजार रुपये की तीसरी किश्त देय होगी।
प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में अब तक कुल 14 लाख 55 हजार 501 हितग्राहियों को पंजीकृत किया गया है। लगभग 13 लाख 40 हजार 224 हितग्राहियों को पहली किश्त, 12 लाख 60 हजार 304 को दूसरी और 8 लाख 80 हजार 517 हितग्राहियों को योजना के तहत तीसरी किश्त प्रदान की गई है।

No comments:

Post a Comment

Translate