Friday, February 7, 2020

विशेष पिछड़ी जनजाति सांस्कृतिक केन्द्र का निर्माण 18 महीने में पूरा करने के निर्देश

विशेष पिछड़ी जनजाति सांस्कृतिक केन्द्र का निर्माण 18 महीने में पूरा करने के निर्देश

आदिम जाति कल्याण मंत्री द्वारा निमार्णाधीन भवन का निरीक्षण

भोपाल। गोंडवाना समय।
आदिम जाति कल्याण मंत्री श्री ओमकार सिंह मरकाम ने अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि भोपाल में अरेरा हिल्स क्षेत्र में निमार्णाधीन विशेष पिछड़ी जनजाति सांस्कृतिक केन्द्र का निर्माण कार्य गुणवत्तापूर्ण हो और इसे नियत समय अक्टूबर 2021 तक हर हाल में पूरा किया जाये। आदिम जाति कल्याण मंत्री श्री ओमकार मरकाम ने निमार्णाधीन भवन का निरीक्षण करते हुए यह निर्देश दिये।

श्योपुर में सहरिया, डिंडोरी में बैगा और छिन्दवाड़ा में भारिया जनजाति की संस्कृति के आधार पर बन रहा केंद्र

आदिम जाति कल्याण मंत्री श्री ओमकार मरकाम के निरीक्षण के दौरान बताया गया कि प्रदेश की विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा, भारिया एवं सहरिया की संस्कृति और विभिन्न कलाओं के संरक्षण और प्रोत्साहन के लिये भोपाल में 18 करोड़ रुपए की लागत से सांस्कृतिक सह-आवासीय केन्द्र का निर्माण किया जा रहा है। इस केन्द्र में एक इंडोर और एक आउटडोर आॅडिटोरियम होगा। ये आॅडिटोरियम 200-200 सीटर क्षमता के होंगे। इस केन्द्र में कलाकारों के रुकने की व्यवस्था भी रहेगी। निमार्णाधीन भवन में विशेष पिछड़ी जनजाति से संबंधित प्रशासनिक कार्यालय भी होंगे। इस पाँच मंजिला भवन में दो ब्लॉक बनाये जा रहे हैं। कार्य की निर्माण एजेन्सी राजधानी परियोजना को बनाया गया है। भोपाल के अलावा श्योपुर में सहरिया, डिंडोरी में बैगा और छिन्दवाड़ा में भारिया विशेष पिछड़ी जनजाति के सांस्कृतिक केन्द्रों का निर्माण कराया जा रहा है।

No comments:

Post a Comment

Translate