Saturday, March 28, 2020

राष्ट्रहित मे कार्य कर रहे स्वसहायता समूह की महिलाएं, जेल के बंदी तथा सुधारालय बच्चे

राष्ट्रहित मे कार्य कर रहे स्वसहायता समूह की महिलाएं, जेल के बंदी तथा सुधारालय बच्चे

ईको फे्रंडली और री यूजेबल बना रहे मास्क 

सिवनी। गोंडवाना समय। 
वैश्विक कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम तथा जिलेवासियों की सुरक्षा के उद्देश्य से स्वसहायता समूह की महिलाओं, जिला जेल के बंदियों एवं सुधारालय के बच्चों द्वारा आगे आकर मास्क निर्माण कर राष्ट्र हित मे कार्य किया जा रहा हैं।
कोरोना वायरस जैसी वैश्विक महामारी के संक्रमण के देश मे प्रवेश उपरांत से ही बाजारों में मास्क की कमी हो गयी थी।
जिसके मद्देनजर जिला प्रशासन द्वारा इन महिला स्वसहायता समूह, बंदियों एवं सुधारालय के बच्चों को प्रशिक्षण प्रदान कर जिले के प्रत्येक नागरिक की सुरक्षा के उद्देश्य से मास्क निर्माण हेतु प्रोत्साहित किया गया।
जिसमें जिले के कपड़ा कारीगरों (दर्जियों) द्वारा भी सहभागिता निभाई गई। जिन्होंने घरो से ही मास्क बनाकर प्रशासन को उपलब्ध कराए। सभी की सकारात्मक सहभागिता से अब तक 16 हजार से अधिक मास्क तैयार कर इनकी आपूर्ति मेडिकल स्टोर्स के माध्यम से आम जनो में की जा रही है। खास बात यह है कि सभी ईको फ्रेंडली और री-यूजेबल है । जो स्वास्थ्य की दृष्टि से काफी उपयुक्त हैं। जो आम जनों को रियायती दरों में उपलब्ध किये जा रहे हैं। 

No comments:

Post a Comment

Translate