Tuesday, March 31, 2020

इसीलिए मेरा भारत महान है

इसीलिए मेरा भारत महान है

अनेकता में एकता, 
इस देश की शान है, 
इसीलिए मेरा भारत महान है,
मेरा भारत महान है ।
प्रिय सिवनी वासियों,

जैसा कि विदित है आज सम्पूर्ण विश्व कोरोना वायरस संक्रमण की वैश्विक समस्या से जूझ रहा हैं। इसके संक्रमण को फैलने से रोकना ही बचाव का कारगर उपाय है। अभी तक जिले के नागरिकों के समक्ष उत्पन्न वर्तमान परिस्थितिथियां चाहे जनता कफर्यू हो या लाक डाउन हो, हर स्थिति में जिले के सभी नागरिकों, जनप्रतिनिधियों, मीडिया, व्यापारियों, शासकीय सेवकों का भरपूर सहयोग मिल रहा है। देश हित में कोरोना वासरस के संक्रमण हेतु सभी के समन्वित प्रयासों और नि:स्वार्थ भावना से सहयोग की नितांत आवश्यकता होगी। 

आप न्यूनतम मुनाफे में अधिकतम सेवा करें

मेरा सभी व्यापारी भाइयों (थोक/ खुदरा/सब्जी/राशन/अन्य सभी व्यापारी) से अनुरोध है कि हम पूरे सिवनी की आपूर्ति व्यवस्था को बनाये रखने में जी जान लगा दें, हम कुछ दिनों के लिए यह सोच कि हम व्यापार नहीं सेवा कर रहे हैं, व्यापार तो हम जीवन मे जब तक जिंदा है तब तक करेंगे परंतु इस राष्ट्रीय आपदा में राष्ट्र सेवा का मौका विरले लोगो को मिलता है, आप को ये मौका मिला है, मैं चाहता हूं कि आप न्यूनतम मुनाफे में अधिकतम सेवा करें ।

यह सब का वतन है संभालो इसे 

हम सभी को मिलकर वैश्विक महामारी कोरोना वासरस के आसन्न संकट से उबरने के लिए अपनी पूरी क्षमता के साथ मेरा-तेरा, इसका-उसका को भूलकर लडना होगा । किसी शायर ने ऐसी ही परिस्थितियों के लिए कहा है कि -
नफरत बुरी है, ना पालो इसे
दिलों में खालिस है, निकालो इसे
ना मेरा, न तेरा, इसका, ना उसका
यह सब का वतन है संभालो इसे ।।

तो कोई हस्ती हमें पराजित नहीं कर सकती

जिला प्रशासन की अपेक्षा है कि जिले के नागरिकगण भविष्य में भी कंधा से कंधा मिलाकर कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम में सहयोगी बनेंगे और कठिन से कठिन परिस्थियों में, हम सब बिना हिम्मत हारे, डटकर मुकाबला करेंगे। जब हम सोच लेते हैं कि हमें जीतना है तो कोई हस्ती हमें पराजित नहीं कर सकती । कहते हैं कि
हार हो जाती है जब मान लिया जाता है
जीत तब होती है जब ठान लिया जाता है

संदेश शासकीय अमले के लिए

प्रशासन के आव्हान पर स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों एवं अधीनस्थ अमले, अनुविभागीय अधिकारियों (राजस्व), पुलिस अधिकारियों, तहसीलदारों, नायब तहसीलदारों, पटवारियों, ग्राम सचिवों, रोजगार सहायकों एवं सरपंचों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता तथा सहायिका, कोटवार, नगरपालिकाओं के सफाईकर्मी सहित प्रशासन के प्रत्येक अधिकारी कर्मचारियों ने इस आपदा की घड़ी में कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए अपने स्वयं की, अपने घर-परिवार की चिंता किये बिना, बिना भयभीत हुए खुशी-खुशी लगातार बिना थके कार्य किया है और अभी भी अपने कर्त्तव्य पथ (डियूटी स्थल) पर काम करते हुए कोरोना वायरस के नियंत्रण हेतु अभेद्य दीवार बनकर सीना ताने यह कहते हुए खड़े हैं कि 
अपनी धरती, अपना है यह वतन ।
मेरा है, मेरा है यह वतन ।।

और संकट से निपटने के लिए हर संभव मदद हेतु तत्पर रहते हैं

सिवनी जिले की अमिट पहचान स्थापित है, यहां के नागरिक प्रत्येक संकट के समय में स्वपहल करते हुए, सकारात्मसक सोच के साथ शासन-प्रशासन को सहयोग करते हैं, जनता की सेवा में लगे शासकीय सेवकों की हौंसला अफजाई करते हैं और संकट से निपटने के लिए हर संभव मदद हेतु तत्पर रहते हैं । शासकीय सेवक भी कड़ी मेहनत करते हुए अपना सर्वोत्तसम योगदान देते हुए विभिन्न स्थानों पर, विषम परिस्थितियों में भी अपने कार्य को पूर्ण जिम्मेवारी से संपादित कर रहे है ।

24 घंटे निर्वहन कर रक्षक की भूमिका निभा रहा है

इस जिले में कार्यरत प्रत्येक अधिकारी-कर्मचारी धन्यवाद का पात्र है, जो मानव सेवा के लिए, अपनी परवाह किये बिना जिले में निवासरत प्रत्येक नागरिक को किसी भी संकट, विषम परिस्थितियों, कोरोना वायरस जैसी वैश्विक महामारी से बचने के लिए अपने दायित्वों का 24 घंटे निर्वहन कर रक्षक की भूमिका निभा रहा हैं । जिला प्रशासन शासकीय सेवकों की कोरोना की रोकथाम के लिए अपना सब कुछ दांव पर लगाकर बिना थके, बिना रूके, बिना डरे, पूर्ण दृणता के साथ संपादित की जा रही जिम्मेवारी पूर्वक कार्यवाही और कर्तव्य, बोध से अत्यन्त अभिभूत होकर कृतज्ञता व्यक्त करते हुए हर्षित है कि हमें किसी ने इतनी शक्ति और साहस दिया है तथा शासन से दायित्व सौंपा है जिस पर हम सब मिलकर इस प्रकार खरे उतरेंगे-
दिल से निकलेगी न
मरकर भी वतन की उल्फत
मेरी मिट्टी से भी
खुशबू ए वफा आएगी

यह सुनिश्चित करें कि इस महामारी का संक्रमण न फैले

अब तक सिवनी जिला इस महामारी के प्रकोप से बचा हुआ हैं, जिसमें निश्चित रूप से आप सभी की महत्वपूर्ण भूमिका रही हैं किंतु अभी भी हम सबको इस महामारी से बचाव हेतु सतत रूप से कार्य करने की आवश्यकता है। हम सभी जनसेवा की भावना से अपने कर्तव्यों का निर्वहन करें, एक टीम की तरह कार्य कर यह सुनिश्चित करें कि इस महामारी का संक्रमण न फैले जिसके लिए जनजागरूकता के साथ ही शासन प्रशासन द्वारा जारी निर्देशों का कड़ाई से पालन कराया जाए। निश्चित रूप से आपके द्वारा किये गए प्रयास सकारत्मक परिणाम देंगे, हमें कोरोना संक्रमण में विजय अवश्य प्राप्त होगी ।

कृपया अनुमति न देने के लिये मुझे क्षमा करें

मेरे द्वारा मेडिकल इमरजेंसी को छोड़कर अन्य लोगों को सिवनी में आने की इजाजत नहीं दी है, मैं उन लोगों को बताना चाहूंगा कि ये निर्णय सिवनी के सार्वजनिक हित में है, कृपया अनुमति न देने के लिये मुझे क्षमा करें। आप लोगों का सहयोग मुझे सिवनी जिले को इस महामारी से बचाव करने हेतु कड़े निर्णय लेने हेतु ताकत देता है।
आशा है इसी प्रकार विषम परिस्थितियों में आपका सहयोग मिलेगा।
( प्रवीण सिंह )
कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी
जिला सिवनी

No comments:

Post a Comment

Translate