Monday, April 6, 2020

प्रधानमंत्री के आह्वान को मिला “व्यापक जनसमर्थन

 प्रधानमंत्री के आह्वान को मिला “व्यापक जनसमर्थन



नई दिल्ली। गोंडवाना समय।
केंद्रीय विद्युत मंत्री श्री आर.के. सिंह ने कहा कि कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में राष्ट्रव्यापी एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए बत्तियां बंद कर प्रकाश करने के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान को व्यापक जनसर्मथन मिला है। श्री सिंह देर रातबत्तियां बंद किए जाने के दौरान पॉवर ग्रिडों पर होने वाले प्रभाव से निपटने के इंतजामों की व्यक्तिगत रूप से निगरानी करने के लिए नेशनल पॉवर मॉनिटरिंग सेंटर में गए थे। इस दौरान उनके परिवार के सदस्य सभी के लिए आशा और सकारात्मकता का 'दीयाजला रहे थे।
एक ट्वीट में श्री सिंह ने कहा कि बत्तियां बंद किए जाने के दौरान बिजली की मांग 2049 बजे से 2109 बजे के बीच 117300 मेगावाट से घटकर 85300 मेगावाट हो गई थी। इस तरह से कुछ ही मिनटों में बिजली की मांग में 32000 मेगावाट की कमी आई, लेकिन इसके फौरन बाद फिर मांग बढ़ने लगी। उन्होंने बताया कि इस दौरान बिजली की आवृत्ति और वोल्टेज को 49.7 से 50. 26 हर्ट्जके बीच सामान्य बैंड के भीतर बनाए रखा गया था। जिसका अर्थ है कि वोल्टेज स्थिर रखा गया था। कुछ मिनटों में बिजली की राष्ट्रीय मांग में 32000 मेगावाट की गिरावट प्रधानमंत्री के आह्वान पर राष्ट्र की एक व्यापक प्रतिक्रिया थी।
  बत्तियां बंद कर प्रकाश करने के कार्यक्रम को सफल बनाने के लिएएक टीम के रूप में काम करने के लिए श्री सिंह ने समस्त देशवासियों सहित राष्ट्रीय बिजली प्रणाली की भी सराहना की। उन्होंने देश के नागरिकों को प्रधानमंत्री के आह्रवान पर 9 बजे से 9 बजकर 9 मिनट तक  बत्तियां बंद करके प्रकाश करने की अपनी भूमिका का सफलतापूर्वक निर्वहन करने के लिए हार्दिक बधाई दी। उन्होंने राष्ट्रीय ग्रिड प्रबंधक पोसोकाऔर बिजली उत्पादक कंपनियों एनटीपीसीएनएचपीसीटीएचडीसीएनईईपीसीओएसजेवीएनएलबीबीएमबी और पीजीसीआईएलउनके अधिकारियों और राज्य बिजली विभागों के इंजीनियरों की भी प्रशंसा की।  उन्होंने कहा, "हम सभी और पूरा देश कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में प्रधानमंत्री के साथ मिलकर खड़ा है"।

No comments:

Post a Comment

Translate