Sunday, April 26, 2020

मजदूर भाई अब आराम से घर पर रहें, नियमों का पूरा पालन करें

मजदूर भाई अब आराम से घर पर रहें, नियमों का पूरा पालन करें

मुख्यमंत्री ने अन्य राज्यों से लौटे मजदूरों से की बातचीत

भोपाल। गोंडवाना समय।
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को अन्य प्रदेशों से  मध्यप्रदेश में अपने घरों को लौटे मजदूरों से वीडियो कॉन्फेंसिंग के माध्यम से बातचीत की।  श्रमिकों ने मुख्यमंत्री का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि हम लोग लगभग एक माह से बाहर फंसे थे। आपने वहाँ हमारे लिये भोजन एवं रहने की अच्छी व्यवस्था करवा दी थी। इस कारण परेशान नहीं होना पड़ा। हमें आपके द्वारा भेजे गए एक-एक हजार रुपए की राशि भी प्राप्त हो गई थी, फिर भी हमको अपने घर+परिवार की याद आ रही थी। हम घर लौटने के लिए बेचैन थे। मजदूरों ने कहा कि मामाजी, आपने हमें घर वापस बुलाकर हम पर बहुत मेहरबानी की है। हमारा पूरा गाँव आपको धन्यवाद दे रहा है।

14 दिनों तक रखें विशेष सावधानी

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मजदूरों से कहा कि वे 14 दिनों तक विशेष सावधानी रखें। घर पर भी सभी सदस्यों से दूरी बनाते हुए अलग रहें। उसके बाद भी पूरी सावधानी रखे जाने की आवश्यकता है। मास्क पहनें, दूसरों से बात करते समय कम से कम 2 गज की दूरी बनाकर रखें। बार बार हाथ धोएं। लॉक डाउन का पूरा पालन करें।

घर आने पर बेहद खुश हैं

मुख्यमंत्री ने राजस्थान से लौटे शिवपुरी के मजदूरों श्री मुकेश आदिवासी एवं  श्री भरत आदिवासी, श्योपुर के श्री प्यारेलाल आदिवासी एवं श्री सूरज, विदिशा के श्री सगीर एवं श्री फैजान, गुना की श्रीमती पवित्रा बाई एवं श्री राकेश से बातचीत की। मुख्यमंत्री ने गुजरात से वापस लौटे अलीराजपुर के श्री राजू  दमड़िया एवं सुश्री थुनिया तथा झाबुआ के श्री भरत वासू एवं श्री महेश पॉल से भी बातचीत की।
मुख्यमंत्री को राजू ने बताया कि वह गुजरात के नवसारी में एक माह से फंसा था।  वहाँ रहने-खाने की अच्छी व्यवस्था हो गई थी लेकिन घर वापस आने की बेचैनी थी। घर आने पर हम बेहद खुश हैं। प्यारे लाल आदिवासी ने मुख्यमंत्री को बताया कि वे चना काटने सवाई माधौपुर गए थे तथा वहां फंस गए। श्री सगीर सवाई माधौपुर में सब्जी का काम करते थे। भरत वासू ने बताया कि वे जहाँ फंसे थे, वहाँ से काफी दूर पैदल चलकर पाटन पहुंच गए थे, परन्तु जब उन्हें पता चला कि मामाजी उन्हें लेने के लिए बस भिजवा रहे हैं, तो उनकी खुशी का ठिकाना न रहा। पवित्रा बाई राजस्थान के सवाई माधौपुर में फंसी थीं। सभी घर वापस आने पर बेहद खुश हैं तथा मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को हृदय से धन्यवाद दे रहे हैं। बैठक में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस,  पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी, अपर मुख्य सचिव श्री आई.सी.पी. केसरी और सचिव जनसंपर्क श्री पी. नरहरि थे।

No comments:

Post a Comment

Translate