गोंडवाना समय

Gondwana Samay

गोंडवाना समय

Gondwana Samay

Saturday, April 11, 2020

होम्योपैथिक चिकित्सकों के लिए टेलीमेडिसिन दिशा-निर्देशों को स्वीकृति

होम्योपैथिक चिकित्सकों के लिए टेलीमेडिसिन दिशा-निर्देशों को स्वीकृति

आयुष मंत्री श्रीपद नाइक ने विश्व होम्योपैथी दिवस पर अंतरराष्ट्रीय वेबिनार का किया शुभारम्भ


नई दिल्ली। गोंडवाना समय।
आयुष मंत्रालय के तहत आने वाले केन्द्रीय होम्योपैथी अनुसंधान परिषद (सीसीआरएच) ने 10 अप्रैल, 2020 को होम्योपैथी के संस्थापक डॉ. सैमुअल हैनेमैन की 265वीं जयंती पर विश्व होम्योपैथी दिवस के अवसर पर एक अंतरराष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन किया। एक डिजिटल प्लेटफॉर्म पर हुई इस वेबिनार में हजारों लोगों ने भाग लिया, जिसे लाइव स्ट्रीम भी किया गया। आयुष राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री श्रीपद येसो नाइक ने अपने उद्घाटन भाषण के दौरान होम्योपैथिक चिकित्सकों के लिए टेलीमेडिसिन दिशानिर्देशों को स्वीकृति देने की घोषणा की और साथ ही आवश्यकता पड़ने पर कोविड कार्यबल के साथ मिलकर आयुष कार्यबल को गतिशील बनाने की जरूरत पर भी जोर दिया।
आयुष मंत्रालय में सचिव वैद्य राजेश कोटेचा उन्हें शुभकामनाएं दीं। इंटरनेशनल एकेडमी ऑफ क्लासिकल होम्योपैथी के निदेशक प्रो. (डॉ.) जॉर्ज विठलकास, सीसीआरएच में डीजी (आई/ सी) डॉ. अनिल खुराना, दिल्ली सरकार के आयुष विभाग में होम्योपैथी निदेशक डॉ. आर के मनचंदा, एनआईएच कोलकाता में निदेशक डॉ. सुभाष सिंह, आयुष मंत्रालय में निदेशक डॉ. एस आर के विद्यार्थी, डॉ. वी के गुप्ता (भारत), डॉ. रॉबर्ट वैन हसलेन (यूके), प्रो. आरोन टो (हॉन्गकॉन्ग) इस अवसर मुख्य वक्ता रहे। ज्यादातर वक्ताओं ने होम्योपैथी की संभावनाओं पर बात की, जिनका कोविड 19 की रोकथाम में भी उपयोग किया जा सकता है। उन्होंने कोविड के मरीजों के लिए उचित देखभाल के साथ होम्योपैथी के उपयोग से जुड़े तथ्यों को भी प्रस्तुत किया।

No comments:

Post a Comment

Translate