Tuesday, May 12, 2020

जन अभियान परिषद के 14369 कार्यकर्ता, 7805 गाँवों में कोरोना से लड़ाई में दे रहे योगदान

जन अभियान परिषद के 14369 कार्यकर्ता, 7805 गाँवों में कोरोना से लड़ाई में दे रहे योगदान

भोपाल। गोंडवाना समय। 
कोरोना से लड़ाई में जन अभियान परिषद द्वारा गाँव-गाँव में गठित ग्राम विकास प्रस्फुटन समितियों और स्वैच्छिक संगठनों के सदस्यों द्वारा महत्वपूर्ण योगदान दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से जन अभियान परिषद के पदाधिकारियों, सदस्यों से चर्चा कर उनसे कोरोना से लड़ाई में योगदान देने का आव्हान किया।
          मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की अपील पर अप्रैल के पहले सप्ताह से सक्रिय हुए जन अभियान परिषद का अमला निरंतर क्रियाशील है। कार्यपालक निदेशक जन अभियान परिषद श्री आलोक सिंह ने बताया कि लाकडाउन की पिछली एक माह की अवधि में 14369 कार्यकर्ता/सदस्य के साथ प्रदेश के 7805 गाँवों में जन अभियान परिषद कार्य करती रही है।

गांवो में दीवारों पर लिखावाया जा रहा उपाय 

जन अभियान परिषद के नेटवर्क से जुड़े 8441 ग्राम विकास प्रस्फुटन समितियाँ, 952 स्वैच्छिक संगठन, मुख्यमंत्री सामुदायिक नेतृत्व क्षमता विकास पाठ्यक्रम के 5106 छात्र और 1146 परामर्शदाता प्रदेश के 7806 गाँवों में कोरोना से बचाव के उपायों को बता रहे है। गाँवों में जरूरी उपायों को दीवार पर लिखवाया जा रहा है।                 
गाँवों को सेनेटाइजेशन करवाने के साथ सोशल डिस्टेंसिंग रखने, मास्क पहनने की सलाह दी जा रही है। ग्रामीणों को नि:शुल्क मास्क भी वितरित कर रहे है। इसके साथ ही जरूरतमंदों को राशन और दवाई का नि:शुल्क वितरण खास कर रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवाई (काढ़ा) का वितरण किया जा रहा है।

4 लाख 80 हजार मास्क निर्माण कर नि:शुल्क वितरित किये गये

कार्यपालक निदेशक ने बताया कि पिछले एक माह में प्रदेश के 7805 गाँवों में कोरोना से बचाव की जानकारी देने के लिये दीवार लेखन किया गया है। जरूरतमंद ग्रामीणों को 6620 ग्रामों में भोजन और दवाई का नि:शुल्क वितरण किया गया है।
        प्रदेश के 6492 ग्रामों में 4 लाख 80 हजार मास्क निर्माण कर नि:शुल्क वितरित किये गये। प्रदेश के ग्रामों की पी.डी.एस की दुकानों और बैंकों में पहुँचने वालों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करवाने में परिषद के कार्यकतार्ओं द्वारा सहयोग किया जा रहा है। जन अभियान परिषद के कार्यकर्ता गेहूँ खरीदी केन्द्रों पर भी कोरोना से बचाव के उपायों की जानकारी दे रहे हैं।

देशी सेनीटाइजर का निर्माण कर वितरण किया जा रहा है

अभियान परिषद द्वारा प्रमुख नवाचारी गतिविधियों में इंदौर संभाग के ग्राम पुवर्डा, जुनार्दा ग्राम पंचायतों के प्रवेश द्वार पर सेनेटाइजर मशीन लगाई गई है। उज्जैन संभाग में नमस्ते अभियान चला कर कोरोना नियंत्रण के तहत लॉकडाउन में उज्जैन नगर के जरूरतमंद 2000 परिवारों की सूची बनाकर किराना और सब्जी के पैकेट्स घर-घर पहुँचाये गये।
          रीवा संभाग में लॉकडाउन में फँसे मजदूरों की भोजन व्यवस्था और जबलपुर संभाग के डिण्डौरी जिले में प्रस्फुटन समितियों को खादी का कपड़ा उपलब्ध करवा कर मास्क तैयार करवाये और ग्रामीणों में वितरण सुनिश्चित करवाया।
              भोपाल संभाग के सिलवानी विकासखण्ड के ग्राम भानपुर में देशी सेनीटाइजर का निर्माण कर वितरण किया जा रहा है। कार्यपालक निदेशक ने बताया कि जन अभियान परिषद् से जुड़े सदस्य पूरे प्रदेश में गाँव-गाँव कोरोना से लड़ाई में पूरी क्षमता और समर्पण के साथ योगदान दे रहे है।

No comments:

Post a Comment

Translate