गोंडवाना समय

Gondwana Samay

गोंडवाना समय

Gondwana Samay

Saturday, May 16, 2020

इंडिया पोटाश लिमिटेड, पोटाश म्यूरिएट की कीमत 19000 रुपये प्रति मीट्रिक टन से घटाकर रु 17500 प्रति मीट्रिक टन करेगा

इंडिया पोटाश लिमिटेड, पोटाश म्यूरिएट की कीमत 19000 रुपये प्रति मीट्रिक टन से घटाकर रु 17500 प्रति मीट्रिक टन करेगा


नई दिल्ली। गोंडवाना समय।
इंडिया पोटाश लिमिटेड 
(आईपीएलने पोटाश म्यूरिएट की मौजूदा कीमत 19000 रुपये प्रति मीट्रिक टन से घटाकर 17500 प्रति मीट्रिक टन करने का फैसला किया हैयानी प्रति बैग 75 रुपये की कमी। घटी हुई कीमत 18 मई 2020 से प्रभावी होगी।
पोटाश म्यूरिएटजिसे पोटेशियम क्लोराइड के रूप में भी जाना जाता हैपौधे के विकास और गुणवत्ता के लिए आवश्यक है। यह प्रोटीन और शर्करा के उत्पादन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह पौधों में नमी को बनाये रखने में मदद करता है और इस प्रकार पौधे को सूखे से बचाता है। यह प्रकाश संश्लेषण प्रक्रिया के लिए फायदेमंद है क्योंकि पत्तियां अपने आकार और शक्ति को बनाए रखती हैं।
कंपनी ने कहा है कि किसानों के हित के लिए यह कटौती पिछले एक साल में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपये के काफी कमजोर होने और एमओपी पर सरकार की सब्सिडी में 604 रुपये प्रति एमटी के कमी के बावजूद की गई है। सब्सिडी में कमी अप्रैल, 2020 से प्रभावी हो गयी है।
इंडिया पोटाश लिमिटेड (आईपीएल) के एमडी डॉ पीएस गहलौत ने कहा कि हम मानते हैं कि इस कदम से उर्वरकों का संतुलित उपयोग होगाजो भारत सरकार द्वारा किसानों को उर्वरकों पर लागत कम करने और कृषि उत्पादन को बढ़ाने के लक्ष्य की पूर्ति करने का एकमात्र तरीका है। उन्होंने कहा कि कंपनी हमेशा उर्वरकों के वैज्ञानिक और विवेकपूर्ण उपयोग को बढ़ावा देने के पक्ष में रहती है।
केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री श्री डी वी सदानंद गौड़ा ने समय की जरूरत को ध्यान में रखते हुए किसानों की सहायता के लिए उठाये गए इस बड़े कदम के लिए डॉ पीएस गहलौत और आईपीएल प्रबंधन को बधाई दी। उन्होंने कहा, "कोविड -19 की अवधि के दौरान एमओपी की कीमत में कटौती से किसानों को विशेष रूप से सीमांत और छोटे किसानों को काफी फायदा होगा। कम लागत से कृषि उत्पादन में वृद्धि होगी और किसानों की आय में को समर्थन मिलगा।"

No comments:

Post a Comment

Translate