गोंडवाना समय

Gondwana Samay

गोंडवाना समय

Gondwana Samay

Wednesday, May 20, 2020

खाते में 5 हजार एवं लायसेंस के आधार पर राशन दिये जाने की मांग

खाते में 5 हजार एवं लायसेंस के आधार पर राशन दिये जाने की मांग

चालक-परिचालक संघ ने विधायक, कलेक्टर व जनप्रतिनिधियों को सौंपा ज्ञापन

सिवनी। गोंडवाना समय।
चालक परिचालक संघ सिवनी द्वारा अपनी विभिन्न मांगों को लेकर जिला कलेक्टर, सिवनी विधायक, जिला भाजपाध्यक्ष एवं जिला कांग्रेस अध्यक्ष को ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन में लिखित समस्याएं प्रदेश के मुख्यमंत्री तक पहुंचाई जाएंगी एवं निराकरण किया जाएगा उक्त आश्वासन ज्ञापन प्राप्तकतार्ओं द्वारा संघ को दिया गया है। संघ के मीडिया प्रभारी सुनील डहेरिया ने बताया कि कोरोना योद्धा जो कि सरकारी पदों में है। अगर उनकी कोरोना के मरीजों का इलाज करते हुई मृत्यु हो जाती है तो सरकार परिवार को 50 लाख रुपये देगी।

हमें भी कोरोना यौद्धा की दी जाये सुविधायें

चालक परिचालक संघ सिवनी ने अपनी समस्यायों को लेकर समाधान कराने की बात कहते हुये बताया कि राज्यों की वार्डर पर जो ड्राइवर एवं क्लीनर मजदूरों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ला रहे ले जा रहे हैं, अगर वे भी संक्रमित होते हैं तो सरकार की तरफ से क्या व्यवस्था है, संघ की मांग है कि सरकार ड्राइवर कंडक्टर या क्लीनर की कोरोना से मृत्यु होती है तो उन्हें कोरोनो योद्धा मानकर उनके परिवार को भी 50 लाख रुपये की मदद की जावे।

लॉकडाउन लगते ही काम हुआ बंद

चालक परिचालक संघ सिवनी ने सरकार से यह भी मांग रखी गई कि सभी ड्राइवर, कन्डेक्टर और हेल्पर विगत 2 माह से अपने घरों में बैठें हैं और अभी भी पूर्णत: बसें व अन्य परिवहन चालू होने की संभावनाएं नजर नही आती हैं। ऐसी स्थिति में मध्यप्रदेश सरकार दिल्ली सरकार की तर्ज पर पांच-पांच हजार रुपये उनके बैंक खाते में सीधे डाले, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री के समक्ष संघ ने उक्त जनप्रतिनिधियों के माध्यम से यह मांग भी रखी हैं कि बहुत से गरीब ड्राइवर, कन्डेक्टर, हेल्पर के पास गरीबी रेखा का राशन कार्ड नही है, ऐसी स्तिथि में लायसेंस के आधार पर राशन प्रदान किया जावे।

ज्ञापन सौंपते समय ये रहे मौजूद

ज्ञापन सौंपते समय संघ के अध्यक्ष दीनू डहेरिया सहित अकील खान, सुजीत नायक, हेमंत ठाकुर, आरिफ खान, मदन ठाकुर, सत्या ठाकुर, संदीप विश्वकर्मा, नवीन ठाकुर, सोनू ठाकुर,हरि भाऊ सहित अनेक पदाधिकारी उपस्थित रहे। 

No comments:

Post a Comment

Translate