Friday, May 8, 2020

आर्थिक समस्याओं से जूझ रहे केश शिल्पी बंधुओं का सहयोग करे सरकार

आर्थिक समस्याओं से जूझ रहे केश शिल्पी बंधुओं का सहयोग करे सरकार 

सेन (नाई) समाज की सुरक्षा एवं जीवन यापन  हेतु तत्कालिक सहयोग किये जाने की मांग

सिवनी। गोंडवाना समय। 
अशोक बंदेवार जागरूक युवा सभी वर्गों के लिये समाजिक सोच रखने वाले ने कोरोना महामारी के चलते सेन समाज की पीढ़ा व समस्या के समाधान के लिये मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चोहान से आग्रह करते हुये बताया कि सेन (नाई )समाज एक ऐसा समाज है, जो समाज के हर व्यक्ति के एकदम नजदीक है। इस समाज द्वारा दी जाने वाली सेवा आधे फीट के भीतर होती है।
         जबकि सरकार का कहना है कि सामाजिक दूरी 3 से 6 फिट होना चाहिए। अत: समाज में सेवा कर्मी जैसे पुलिस, डॉक्टर, स्वास्थ्य संबंधी कर्मचारी, सफाई कर्मचारी की तरह यह भी एक समाज महत्वपूर्ण भूमिका रखता है। इनका कार्य व्यक्ति को स्वस्थ्य एवं स्वच्छ, निरोगी करना है तथा समाज व राष्ट्र की सेवा करना है। वर्तमान समय में इस विश्वव्यापी कोरोना महामारी के संक्रमण के कारण इस समाज का यह व्यक्ति संक्रमण के खतरे के एकदम नजदीक है और इस समाज की पारिवारिक स्थिति भी कमजोर होती है। 

सेलून की दुकान ही एकमात्र जीवन यापन का सहारा 

प्रदेश में लगभग  60 से 70 प्रतिशत नाई सेन समाज के केश शिल्पी बंधु ऐसे है जिनका ना तो बीपीएल का कार्ड है और ना ही किसी प्रकार शासन की योजना का लाभ उन्हें मिलता है इसके साथ साथ अधिकांशतय: भूमिहीन भी है। उनका एक मात्र साधन उनकी सेलून दुकान है, जो उनके परिवार के जीवन यापन का एकमात्र साधन है। वह कोरोना जैसी महामारी के चलते बंद है, जिससे हमारी केश शिल्पी बंधुओं पर परिवार संचालन हेतु आर्थिक संकट मंडरा रहा है। 

शासन की योजनाओं का भी नहीं मिल रहा लाभ 

अधिकांश  बंधुओं की दुकान किराए पर है अब समस्या यह है कि इस पूरे वर्ग को ना ही शासन की  योजनाओं का लाभ मिल रहा है ना ही कोरोनावायरस  महामारी के चलते यह पूरा वर्ग कुछ और काम कर सकता है। अत: मध्य प्रदेश शासन के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से आग्रह है कि मानवता की दृष्टि से इस पूरे वर्ग के परिवार की स्थिति एवं उनका जीवन यापन कैसे हो इस विषय पर गंभीर विचार करें एवं एवं तत्कालिक व्यवस्थाओं के बारे में पूरे समाज को सहयोग प्रदान करे।

No comments:

Post a Comment

Translate