Saturday, May 16, 2020

दुराचार की घटना से संपूर्ण समाज व क्षेत्रवासियों में रोष व्याप्त

दुराचार की घटना से संपूर्ण समाज व क्षेत्रवासियों में रोष व्याप्त

आरोपी को मिले कड़ी सजा और परिवार को दिय जाये सुरक्षा 

मंडला। गोंडवाना समय। 
जनजाति बाहुल्य जिला मंडला में मासूम बालिका के साथ घिनौना दुराचार करने वाले दरिंदे के द्वारा किये गये कृत्य का मामला सामने आया है। जबकि देखा जाये तो बलात्कार के मामले में फांसी की सजा माननीय न्यायालय द्वारा सुनाई जा रही है लेकिन इसके बाद भी दरिंदों की हरकते थमने का नाम नहीं ले रही है। दरिंदों को फांसी की सजा का भी डर भय नाम की दहशत कहीं नजर नहीं आ रही है।
             
हम आपको बता दे कि मण्डला जिले में 13 मई को रात्रि में अनुसूचित जनजाति वर्ग की छ: वर्षीय मासूम नाबालिक बालिका के साथ, आरोपी-रंजीत सिंह ठाकुर पिता गोपाल सिंह ठाकुर निवासी, ग्राम सागर जिला मण्डला, अनैतिकता का परिचय देते हुये अमानवीयता की हद को पार करते हुये दुराचार/बलात्कार के साथ निर्मम हत्या का प्रयास जैसे जघन्य अपराध किया गया हैं। ऐसी मानवता को शर्मसार व मन:स्थिति को विचलित कर देने वाली घटना से सुनने-जानने वाले हैरान है।

कार्यवाही हेतु ज्ञापन सौंपते समय ये रहे मौजूद 

गोंडवाना स्टूडेंट यूनियन व सगा सग्गुम गढ़ गोण्डवाना संगठनों द्वारा पुलिस प्रशासन को ज्ञापन दिया जाकर व दोषी को तत्काल सजा मिले व पीड़ित परिवार की सुरक्षा प्रदान किये जाने की मांग किया गया है। इस दौरान जीएसयू के राष्टीय अध्यक्ष प्रताप सिंह कुलस्ते, सगा सग्गुम जिला अध्यक्ष घासी रावन पोर्ते, गढा गोंडवाना संघ के जिला अध्यक्ष नंदलाल वरकड़े, जीएसयू के जिला कार्यवाहक अध्यक्ष बृजेश धुर्वे मौजूद रहे। 

No comments:

Post a Comment

Translate