Wednesday, May 13, 2020

गले की फांस बना धान का ट्रक तो डीएमओ ने कहा नोटिस किया है जारी

गले की फांस बना धान का ट्रक तो डीएमओ ने कहा नोटिस किया है जारी

सूचना पर नही पहुंचे अब नोटिस के नाम का जुलाब

नोटिस को कहा गोपनीय और सरकारी दस्तावेज

सिवनी। गोंडवाना समय। 
छीतापर कुरई की जगह बरघाट रोड बंजारी मंदिर के पास मिले धान से भरा हुआ ट्रक सूर्यवंशी राइस मिल के संचालक के साथ साथ विपणन के डीएमओ हीरेन्द्र रघुवंशी के लिए गले की फांस बन गया है। धान से भरा ट्रक बरघाट रोड में पहुंचने की सूचना मिलने के बाद भी गैर जिम्मेदाराना रवैया अपनाते हुए मौके पर न पहुंचने वाले डीएमओ अब पलटवार करते हुए अपनी खामियों को छिपाने के लिये सूर्यवंशी राइस मिल के संचालक को नोटिस जारी करने की बात कह रहे हैं।

नोटिस की कापी देने से इनकार

डीएमओ हीरेन्द्र रघुवंशी द्वारा टीवी चैनल और समाचार पत्रों में खबर प्रकाशित होने पर अपनी कार्यप्रणाली के चलते कटघरे में आने के बाद मौखिक तौर पर नोटिस जारी करने की बात कही जा रही है लेकिन मीडिया को नोटिस की पुष्टि करने के लिए नोटिस की कापी देने से इनकार कर रहे है। डीएमओ हीरेन्द्र रघुवंशी नोटिस को सरकारी दस्तावेज बता रहे है।
          जबकि हम बता दे कि हर एक विभाग नोटिस जारी करने से लेकर कार्यवाही तक को पारदर्शिता के साथ उजागर कर रहे हैं ताकि कोई भी आरोप प्रत्यारोप न लगा सके लेकिन जिस तरीके से विपणन संघ के डीएमओ हीरेन्द्र रघुवंशी अपनी कार्यप्रणाली को प्रदर्शित कर रहे है, उससे कई सवाल खड़े हो रहे है। वहीं प्रदेश में सत्तारूढ़ शिवराज सिंह चौहान सरकार की छबी को धूमिल करने का प्रयास भी कर रहे है।

291 क्विंटल धान का ट्रक पहुंच गया था बरघाट रोड

सिवनी के नरेला देवरी वेयरहाउस से बीते दो दिन पूर्व 11 मई 2020 को ट्रक क्रमांक सीजी 04 एलएल 6874  कुल 291 क्विंटल धान भरकर सूर्यवंशी राइस मिल छीतापर के नाम पर निकला था लेकिन वह छीतापर जाने की बजाय बरघाट रोड होते हुए बालाघाट जा रहा था।
जब मीडिया कर्मी को इस बात की भनक लगी तो ट्रक के दस्तावेजों की पड़ताल की जहाँ ड्राइवर की बातों से चौकाने वाली बात सामने आई जिससे स्प्ष्ट लग रहा था कि सरकारी धान बरघाट रोड होते हुए पार होने वाली थी और इस धान की गड़बड़ी के खेल में विपणन के अधिकारी की भी मिलीभगत थी। यही वजह है कि डीएमओ सूचना देने के बाद भी नही पहुंचे थे।

No comments:

Post a Comment

Translate