Wednesday, July 22, 2020

कोविड-19 के संक्रमण से ठीक होने वालों की कुल संख्या बढ़कर 7.2 लाख हुई

कोविड-19 के संक्रमण से ठीक होने वालों की कुल संख्या बढ़कर 7.2 लाख हुई

बीमारी से स्वस्थ होने वाली की राष्ट्रीय दर बढ़कर 62.72% तक पहुंची

मृत्यु दर घटकर 2.43% हुई

नई दिल्ली। गोंडवाना समय।
कोविड-19 के मरीजों का प्रभावी नैदानिक उपचार सुनिश्चित करने के लिए मानक उपचार प्रोटोकॉल के साथ प्रभावी प्रयोगशालाओं के राष्ट्रव्यापी नेटवर्क के जरिए प्रभावी निगरानी और परीक्षण के लिए निरंतर, सक्रिय, प्रगतिशील और साक्ष्य आधारित कार्यनीतियों के नतीजे अब सामने आने लगे हैं।
           पिछले 24 घंटों के दौरान कोविड-19 के 24,491 मरीज उपचार के बाद स्वस्थ हुए हैं। इसके साथ ही कोविड-19 के संक्रमण से ठीक होने वाले लोगों की कुल संख्या 22 जुलाई 2020 की दोपहर तक बढ़कर 7,24,577 हो गई है। 

वर्तमान में 4,02,529 संक्रमित मरीज

इस बीमारी से ठीक होने की दर में और सुधार हुआ है जो बढ़कर अब 62.72% तक पहुंच गई है। इससे यह भी सुनिश्चित हो गया है कि भारत में कोविड से होने वाली मौतों के संदर्भ में मृत्यु दर घटकर 2.43% हो गई है जो दुनिया भर में सबसे कम मृत्य दरों में से एक है और यह लगातार कम हो रही है।
           कोविड-19 बीमारी से ठीक होने वाले लोगों और इससे संक्रमित मरीजों की संख्या के बीच का अंतर अभी बढ़कर 3,22,048 हो गया है। वर्तमान में 4,02,529 संक्रमित मरीज हैं और सबका चिकित्सकीय देखरेख में इलाज चल रहा है।

देश भर में 1274 प्रयोगशालाएं कार्यरत

22 जुलाई 2020 की दोपहर तक की यदि बात करें तो पिछले 24 घंटों में 3,33,395 नमूनों का परीक्षण किया गया। देश में अब तक कुल 1,43,81,303 नमूनों का परीक्षण किया जा चुका है। यह प्रयोगशालाओं की लगातार बढ़ती संख्या की वजह से संभव हो पा है।
         अभी देश भर में 1274 प्रयोगशालाएं कार्यरत हैं जिनमें सरकारी क्षेत्र की 892 और निजी क्षेत्र की 382 प्रयोगशालाएं शामिल हैं। इसमें शामिल है। वास्तविक समय आरटी पीसीआर आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं: 651 (सरकारी: 398 + निजी: 253) है, वहीं ट्रूनेट आधारित परीक्षण प्रयोगशाला: 516 (सरकारी: 457 + निजी: 59) है इसी तरह  सीबीएनएएटी आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं: 107 (सरकारी: 37 + निजी: 70) शामिल है। 

No comments:

Post a Comment

Translate