Tuesday, August 11, 2020

अस्पताल प्रबंधन एवं राजनैतिक षड़यंत्र की मिलीभगत के तहत की गई मेरे पिता की हत्या-मोनिका बट्टी

अस्पताल प्रबंधन एवं राजनैतिक षड़यंत्र की मिलीभगत के तहत की गई मेरे पिता की हत्या-मोनिका बट्टी

चिरायू अस्पताल प्रबंधक व अन्य पर एफआईआर दर्ज कराने थाना में की शिकायत 

भोपाल/सिवनी। गोंडवाना समय। 

पूर्व विधायक मनमोहन शाह बटट्ी के आकस्मिक संदिग्ध मृत्यु को लेकर अब उनके परिजनों ने चिरायु अस्पताल प्रबंधक व अन्य के खिलाफ भोपाल के खजूरी पुलिस थाना में एफआईआर दर्ज कराने को लिये शिकायती पत्र दिया है। वहीं 10 अगस्त को पूर्व विधायक मनमोहन शाह बट्टी जी की पुत्री मोनिका बट्टी अखिल भारतीय गोंडवाना पार्टी के पदाधिकारियों के साथ खजुरी पुलिस थाना भोपाल में अपने पिता की मृत्यू के लिये चिरायू अस्पताल प्रबंधन को जिम्मेदार ठहराते हुये एफआईआर दर्ज करने के लिये शिकायती पत्र दिया है। 

सामान्य चेकअ‍ॅप के लिये गये थे अस्पताल  

पूर्व विधायक मनमोहन शाह जी की मोनिका बटट्ी ने बताया कि मेरे पिता जी श्री मनमोहन शाह बटट्ी वर्तमान में पूर्व विधायक एवं अखिल भारतीय गोंडवाना पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष थे एवं आदीवासी समाज का नेतृत्व करते थे। जिनका में इलाज कराने चिरायु अस्पताल में 29 जुलाई 2020 को शाम के समय लगभग 5 बजे से उपचार कराने पहुंची थी। जिसके बाद उन्हें भर्ती कर लिया गया जबकि वह केवल मात्र सामान्य चेकअप कराने गये थे। जब मेनें पिताजी के इलाज के बारे मे चिरायु अस्पताल भैंसाखेड़ी, प्रंबधंक श्री अजय गोयनका एंव अधीक्षक अन्य चिरायु मेडीकल कॉलेज के मुख्य लोगो से बातचीत की तो ना मुझे पिताजी से मिलने दिया ना ही इलाज के बारे में बताया गया। 

भर्ती, उपचार से लेकर मृत्यू तक के दस्तावेज आज तक नहीं दिये 

पूर्व विधायक मनमोहन शाह बट्टी जी की बेटी मोनिका बट्टी खजुरी पुलिस थाना में दी गई शिकायत में आगे यह उल्लेख किया है कि उक्त मामले में मुझे संदेह है कि अस्पताल प्रबंधन एवं राजनैतिक षड़यंत्र की मिलीभगत के तहत हत्या की गई है। मेरे पिताजी का अस्पताल द्वारा हेल्थ बुलेटिन जारी नहीं किया गया और ना ही मुझे पिता जी के बीमारी के संबंध में किसी भी प्रकार के इलाज की जानकारी नही दी गई। यहां तक ना ही मेरे परिवार के किसी भी सदस्य कोई को इस संबंध में कोई जानकारी नही दी गई है। चिरायु अस्पताल प्रंबधन के कब्जे में मेरे पिता जी के इलाज के सर्म्पूण दस्तावेज भर्ती दिनांक से मेडीकल रिपोर्ट,पेशेंट केस फाइल, दस्तावेज के संबंध में मृत्यु 2 अगस्त 2020 से आज दिनांक तक किसी भी प्रकार की कोई भी जानकारी एवं दस्तावेज नही दिये गये।

पिता जी ने मोबाईल पर बताया था मैं स्वस्थ्य हूं 

पूर्व विधायक मनमोहन शाह बट्टी जी की बेटी मोनिका बट्टी खजुरी पुलिस थाना में दी गई शिकायत में आगे यह उल्लेख किया है कि मेरे पिता जी द्वारा अस्पताल से मोबईल नं. 8319782615, वाटॅसएप 8109230469 पर शाम के समय 6.30. पर एंव द्वारा पुन: 7 बजे शाम को दो बार अस्पताल से मेसेज से फोटो भेजे गये थे। इसके बाद मेरे पापा द्वारा मो.नं. 9009521750 से करीबन काफी समय तक बातचीत हुई की मैं स्वस्थ हूं। 

अस्पताल से मिली सूचना की हृद्यगति से हो गई है पिता की मृत्यू 

पूर्व विधायक मनमोहन शाह बट्टी जी की बेटी मोनिका बट्टी खजुरी पुलिस थाना में दी गई शिकायत में आगे यह उल्लेख किया है कि उसके बाद 2 अगस्त 2020 को अस्पताल से सूचना आई कि आप के पिता जी का निधन हद्यगति से हो गया है। जब हम परिवार के साथ पापा को लेने गये तो अजय गोयनका एवं अन्य स्टॉफ द्वारा ना ही हम को उनका चेहरा देखने नहीं दिया गया और ना ही उनकी मृत शरीर नहीं सोपा गया। 

मोबाईल की कॉल डिटेल्स अस्पताल द्वारा कर दी गई डिलीट 

पूर्व विधायक मनमोहन शाह बट्टी जी की बेटी मोनिका बट्टी खजुरी पुलिस थाना में दी गई शिकायत में आगे यह उल्लेख किया है कि इसके बाद हमारे समाज के लोगो द्वारा वरिष्ठ अधिकारियो से बातचीत की गई तो मृत शरीर को प्राईवेट एंबूलेंस से गृह जिले छिदंवाड़ा को ले जाने के लिए गाड़ी में रखवा दिया गया, फिर इसके बाद जब हम जाने लगे तो उन्होंने वापिस वॉडी को हमारे हाथ से छीनकर वापिस अस्पताल में रख ली गई और मोबाईल की कॉल डिटेल्स अस्पताल द्वारा डिलीट कर दी गई है, जिससे संदेह है कि मेरे पिता की हत्या की गई है। पूर्व विधायक मनमोहन शाह बट्टी आकस्मिक संदिग्ध मृत्यु के संबंध में अस्पताल प्रंबधंन के खिलाफ  प्राथमिकी दर्ज किये जाने की मांग की गई है। 

थाना प्रभारी ने दिया है कार्यवाही का आश्वासन 

पूर्व विधायक मनमोहन शाह बट्टी जी की बेटी मोनिका बट्टी खजुरी पुलिस थाना में दी गई शिकायत के संबंध में जानकारी देते हुये बताया कि थाना खजूरी सड़क भोपाल द्वारा आवेदन प्राप्त कर लिया गया है एवं आश्वासन दिया गया है कि मामले की जाचं कर दोषियो के कानूनी कार्यवाही की जायेगी। इस दौरान पूर्व विधायक मनमोहन शाह बट्टी जी की बेटी मोनिका बट्टी के साथ अखिल भारतीय गोंडवाना पार्टी पदाधिकारी व सामाजिक लोग मौजूद रहे जिसमें प्रमुख रूप से एस आर बौद्ध राष्ट्रीय महासचिव, रामवगस भारती.प्रदेश अध्यक्ष, आर एस सिंग खालसा प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष, शिवू एस दास.पार्टी एडवाकेट, रामवदन सेन, राकेश श्रीवास्तव अध्यक्ष भ्रष्टाचार निरोधक प्रचार समिति, राधेश्याम डेहरिया भोपाल के अन्य कार्यकर्ता मोजूद रहे। 


3 comments:

  1. हा ये बात सही है इस मे सबसे बडा हाथ RSSएवं BJP का जिसमे गुमराह करने के लिऐ मामा शिवराज को कोरोना पॉजिटीव साबित किया गया लेकिन उन उनका राम बचाये जिसने भी बटटी जी की ये हाल किया

    ReplyDelete
  2. हा ये बात सही है इस मे सबसे बडा हाथ RSSएवं BJP का जिसमे गुमराह करने के लिऐ मामा शिवराज को कोरोना पॉजिटीव साबित किया गया लेकिन उन उनका राम बचाये जिसने भी बटटी जी की ये हाल किया

    ReplyDelete
  3. Isme jobhi doshi ho to ushe to incounter kar Dena chahiye

    ReplyDelete

Translate