Wednesday, September 23, 2020

लोक अभियोजन अधिकारियों को पीड़ितों की आवाज बनने '' मीडिया सहयोग '' विषय पर दिया गया प्रशिक्षण

लोक अभियोजन अधिकारियों को पीड़ितों की आवाज बनने '' मीडिया सहयोग '' विषय पर दिया गया प्रशिक्षण 

महत्वपूर्ण एवं संवेदनशील मामलों पर विशेष जोर दिया गया 


सिवनी। गोंडवाना समय। 

मध्य प्रदेश लोक अभियोजन विभाग के मीडिया सेल प्रशिक्षण आॅनलाइन वेबिनार के माध्यम से 23 सितंबर 2020 को आयोजित किया गया। जिसमें म.प्र. अभियोजन के सभी संभागीय जनसंपर्क अधिकारी, मीडिया सेल प्रभारी एवं सहायक मीडिया सेल प्रभारीगण, कुल 150 अधिकारी सम्मिलित हुए। मध्य प्रदेश लोक अभियोजन विभाग के मीडिया सेल प्रशिक्षण आॅनलाइन वेबिनार के '' मीडिया सहयोग '' विषय पर प्रशिक्षण के संबंध में जानकारी देते हुये श्री मनोज सैयाम प्रभारी, मीडिया सेल सिवनी ने बताया कि प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्घाटन श्री पुरुषोत्तम शर्मा, महानिदेशक/संचालक लोक अभियोजन, मध्य प्रदेश द्वारा किया गया। प्रशिक्षण शिक्षण कार्यक्रम में मुख्य अतिथि का स्वागत एवं परिचय मो. अकरम शेख मध्य प्रदेश राज्य समन्वयक एनडीपीएस एक्ट/डीपीओ इंदौर द्वारा किया गया। श्रीमती मौसमी तिवारी, प्रमुख जनसंपर्क अधिकारी, लोक अभियोजन मध्यप्रदेश में मुख्य वक्ता एवं विषय विशेषज्ञ के रूप में प्रशिक्षण में व्याख्यान दिया।

पीड़ित के प्रति संवेदनशील, उन्हें सरल, सुलभ एवं त्वरित न्याय दिलाने हेतु कटिबद्ध

श्री रईस शेख एडीपीओ, प्रमुख जनसंपर्क कार्यालय मध्यप्रदेश ने बताया कि श्री पुरुषोत्तम शर्मा महानिदेशक / संचालक लोक अभियोजन मध्य प्रदेश के पीड़ित व्यक्ति के प्रति अति संवेदनशील है तथा उन्हें सरल, सुलभ एवं त्वरित न्याय दिलाने हेतु कटिबद्ध है। इसी तारतम्य में 23 सितंबर 2020 को मध्य प्रदेश लोक अभियोजन के सभी संभागीय जनसंपर्क अधिकारी, मीडिया सेल प्रभारी एवं सहायक मीडिया सेल प्रभारीगण को प्रशिक्षित करने के उद्देश्य से यह प्रशिक्षण आयोजित किया गया है।

हमें हमारे कार्यों को सभी तक पहुंचाना है और जागरूक करना है             

श्री पुरुषोत्तम शर्मा, महानिदेशक/संचालक लोक अभियोजन मध्यप्रदेश ने अपने उद्बोधन में सोशल मीडिया की भूमिका पर प्रकाश डालते हुए कहा कि आज के इस आधुनिक युग में किसी व्यक्ति के विचारों, कार्यों, समाचार इत्यादि का प्रचार- प्रसार करने का सोशल मीडिया एक बहुत ही सशक्त माध्यम है तथा इसका प्रभाव प्रत्येक व्यक्ति पर पड़ता है। सोशल मीडिया की इसी उपयोगिता को समझते हुए हमें अभियोजन विभाग के द्वारा किए गए कार्यों का उचित प्रचार-प्रसार सोशल मीडिया के माध्यम से करना है। उन्होंने यहां भी कहा की आज लगभग हर व्यक्ति सोशल मीडिया पर सक्रिय है इसलिए हमें हमारे कार्यों को सभी तक पहुंचाना है और जागरूक करना है जिससे कि हर वह व्यक्ति जिसके साथ अन्याय हुआ है उसको सुलभ, सरल एवं समय पर न्याय मिल सके। इसी उद्देश्य से पूर्ति के लिए इस प्रशिक्षण का आयोजन किया गया है।

सोशल मीडिया के महत्व को समझाया गया        

श्रीमती मौसमी तिवारी, प्रमुख जनसंपर्क अधिकारी, लोक अभियोजन मध्य प्रदेश के द्वारा अपने व्याख्यान में सोशल मीडिया के महत्व को समझाया गया। उन्होंने सभी प्रितभागी अधिकारियों को विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्म जैसे ट्विटर, फेसबुक, व्हाट्सएप आदि पर विभाग के कार्यों संबंधी जानकारी एवं समाचारों को प्रचारित एवं प्रसारित किए जाने के संबंध में प्रशिक्षित किया। उन्होंने मुख्य रूप से ट्विटर और फेसबुक का उपयोग करने के संबंध में विस्तार से बताय कि ट्विटर पर ट्वीट कैसे किया जाता है, लाइक कैसे किया जाता है, रिट्वीट कैसे किया जाता है, किसी व्यक्ति को ट्विटर पर फॉलो कैसे करते हैं आदि। इसी तरह फेसबुक पर कुछ पोस्ट कैसे करते हैं लाइक कैसे किया जाता है, कमेंट कैसे किया जाता है, शेयर कैसे करते हैं आदि उपयोग के संबंध में विस्तार से बताया। प्रशिक्षण उपरांत श्रीमती तिवारी द्वारा सभी प्रितभागियों के प्रश्नों के उत्तर देकर समाधान किया गया।

      प्रशिक्षण कार्यक्रम के अंत में श्रीमती तिवारी द्वारा आभार प्रकट किया गया। साथ ही उन्होंने इस प्रशिक्षण कार्यक्रम को आयोजित कराने के लिए श्री पुरुषोत्तम शर्मा, महानिदेशक/संचालक लोक अभियोजन को धन्यवाद अर्पित किया कि उन्ही के मार्गदर्शन में यह प्रशिक्षण कार्यक्रम संभव हो सका।


                    


No comments:

Post a Comment

Translate