Thursday, December 10, 2020

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत हितग्राही का हो रहा अपमान

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत हितग्राही का हो रहा अपमान

खाते में आये 2000 का पता लगाने बैंक के चक्कर काट रहे किसान 

9 अगस्त को पॉसबुक में 2000 रूपये जमा लेकिन मैन बेलेंस 65 रूपये दिखाया




अजय नागेश्वर संवाददाता
सिवनी/उगली। गोंडवाना समय।

किसानों का सम्मान बढ़ाने के लिये जिस तरह से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत दिये जा रहे लाभ का प्रचार-प्रसार सरकार, शासन-प्रशासन द्वारा जोर-शोर से किया जाता है लेकिन धरातल में सम्मान निधि के रूप में दी जाने वाली राशि वास्तविक रूप में उन तक पहुंच रही है कहीं किसानों का अपमान तो नहीं हो रहा है, इसकी खोज खबर संभवतय: नहीं लिया जाता है। सत्ताधारी संगठन के जनप्रितनिधियों व संगठन के जिम्मेदार पदाधिकारियों द्वारा प्रधानमंत्री सम्मान निधि का लाभ दिये जाते समय हितग्राहियों को देने वाले भाषणों में जिस तरह बयानबाजी की जाती है, उसकी हकीकत जानने के लिये योजना का फीडबैक लेना उचित नहीं समझते है। यही कारण है कि सरकार की लोककल्याणकारी योजनाओं का लाभ पाने से वंचित रहने के कारण पूरी की पूरी योजना पर ही प्रश्न खड़े होने लगते है। 

7 दिसंबर को पॉसबुक मेें एँट्री कराने पर 61 रूपये ही दिखा रहा है बेलेंस 


हम आपको बता दें कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने अगस्त के महीने में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत हितग्राहियों के खाते में सिंगल क्लिक के माध्यम से राशि डाले थे। जिसमें जिला सिवनी ग्राम पंचायत खामी के रहने वाले श्री नंदकिशोर नागेश्वर बताते हैं कि उनका खाता बैंक आॅफ महाराष्ट्र शाखा उगली में नंदकिशोर नागेश्‍वर के नाम से है जिनका खाता नंबर 60240830869 है।  वह जब बैंकपासबुक लेकर 09/08/2020 को बैंक आफ महाराष्ट्र उगली गये और पासबुक में एंट्री कराये तो खाते में 2000 रूपये जमा दर्शा रहा था लेकिन मेन बेलेंस 65 रुपए ही दिखा रहा था। फिर लगभग चार महीने बाद 07/12/2020 को बैंक में जाकर एंट्री कराये तो मेन बेलेंस 61 रूपए बता रहा है। श्री नंदकिशोर नागेश्वर कहते हैं यदि खाते में पैसा जमा ही नहीं होते तो कोई दिक्कत नहीं थी लेकिन खाते में एंट्री कराने पर दो हजार और मेन बैलेंस 61 रुपए ही दिखा रहा है। ये तो प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत मुझ किसान के साथ मजाक के साथ ही साथ अपमान भी हो रहा है।

बैंक में किसान को कहते है हमें नहीं पता 


प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत खाते में आई राशि के लिये जब किसान बैंक आफ महाराष्ट्र शाखा उगली में जाते है तो बैंक पॉसबुक में एंट्री कराने पर जमा 9 अगस्त 2020 को 2000 रूपये दिखा रहा था लेकिन मेन बेलेंस 65 रूपये दिखा रहा था वहीं जब 7 दिसंबर को बैंक गये तो इंट्री कराने पर मेन बेलेंस 61 रूपये दिखा रहा है। वहीं 2000 रूपये के संबंध में बैंक प्रबंधन से पूछने पर बैंक के कर्मचारी किसान के साथ अव्हारिकता पूर्वक जवाब देते हुये कहते है कि हमें क्या पता कहां गया 2000 रूपये, क्यों नहीं आया हमें कुछ नहीं मालूम है। जिससे किसान बैंक में अपने आप को अपमानित सा महसूस करता है। 

No comments:

Post a Comment

Translate