Monday, December 28, 2020

नगरीय निकाय अधिकारी/कर्मचारी ड्रेस कोड का करें पालन, नगरीय विकास का बनेगा पंचवर्षीय रोडमैप

नगरीय निकाय अधिकारी/कर्मचारी ड्रेस कोड का करें पालन, नगरीय विकास का बनेगा पंचवर्षीय रोडमैप


भोपाल। गोंडवाना समय।

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा है कि नगरीय निकायों के सभी कर्मचारी एवं अधिकारी ड्रेस कोड के संबंध में जारी निदेशों का कड़ाई से पालन करें। इस आदेश के तहत नगरीय निकायों में कार्यरत पुरूष अधिकारियों एवं कर्मचारियों के लिये नेवी ब्लू पेंट एवं स्काई ब्लू शर्ट और महिलाओं के लिये स्काई ब्लू साड़ी, ब्लाउज / स्काई ब्लू कुर्ता, दुपट्टा एवं नेवी ब्लू सलवार निर्धारित की गई है।
        नगरीय विकास एवं आवास विभाग द्वारा सभी आयुक्त नगर पालिक निगम, परियोजना अधिकारी, संभागीय संयुक्त संचालक नगरीय प्रशासन एवं विकास, जिला शहरी विकास अभिकरण और मुख्य नगरपालिका अधिकारियों को निदेर्शों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये है।

जनवरी माह में सभी नगर निगमों का भ्रमण करेंगे मुख्यमंत्री 

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने जानकारी दी है कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के निदेर्शानुसार नगरीय निकायों का पंचवर्षीय (वर्ष 2021-26) रोडमैप बनाया जायेगा। उन्होंने बताया है कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जनवरी माह में सभी नगर निगमों का भ्रमण करेंगे। इस दौरान नगर निगमों द्वारा 5 वर्ष के विकास का रोडमैप प्रस्तुत किया जायेगा। मंत्री श्री सिंह ने बताया है कि नगर पालिकाओं तथा नगर पंचायत का भी विकास रोडमैप बनाया जायेगा।
         इसकी समीक्षा अलग से संभाग स्तर पर वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से की जायेगी। पंचवर्षीय कार्ययोजना के मुख्य बिन्दु समावेशी शहरी विकास, संवहनीय विकास, राजस्व एवं प्रशासनिक सुधार, शहरी सेवा प्रदाय की गुणवत्ता में सुधार और नगरीय नियोजन के माध्यम से शहरी अर्थव्यवस्था में सुधार होंगे।
         इन बिन्दुओं के अंतर्गत रात्रिकालीन आश्रय, दीनदयाल रसोई, स्व-सहायता समूहों का गठन एवं सुदृढ़ीकरण, कौशल प्रशिक्षण और रोजगार, गरीबों के लिये आवास, सीवरेज, सेनिटेशन, ठोस अपशिष्ठ प्रबंधन, स्वयं के स्रोतों से प्राप्त आय, जलकर, संपत्तिकर, उपभोक्ता प्रभार, ई-गवर्नेंस, जल आपूर्ति, वर्षा जल नाला, सार्वजनिक परिवहन, स्ट्रीट लाईट, जीआईएस सर्वे और मास्टर प्लान की स्थिति समाहित हैं।

No comments:

Post a Comment

Translate