Tuesday, January 5, 2021

गौधन के हत्यारों को क्यों नहीं होती सजा-ए-मौत, गौवंश तस्करी में जा रही मूक पशुओं की जान

गौधन के हत्यारों को क्यों नहीं होती सजा-ए-मौत, गौवंश तस्करी में जा रही मूक पशुओं की जान 

गौवंश तस्करी करता ट्रक पलटा, 16 गायों की मौके पर ही हुई दर्दनाक मृत्यू 

पलारी पुलिस चौकी क्षेत्र में 33 गौवंश भरकर कत्लखाने ले जाते ट्रक पलटा 

गौवंश तस्करी करने वाले क्रूरतम तरीके से अत्याचार करते हुये जिस तरह से ट्रकों में मूक पशुओं को भरकर ले जाते है, उसकी दर्दनाक हकीकत जब सामने आती है जब कभी-कभी गौवंश तस्करी करते हुये ट्रक को पकड़ लिया जाता है। उसके बाद देखने में यह आता है कि ट्रक में भरकर ले जाये जा रहे गौवंश में से इतने गौवंश की मृत्यू ट्रक में ही हो गई। वहीं कई बार गौवंश तस्करी करने वाले वाहन के चालकों की तेज गति से वाहन को भगाये जाने के कारण दुघर्टना हो जाने के कारण वाहन के पलट जाने से दर्दनाक मृत्यू भी गौवंश की हो जाती है। गौवंश का परिवहन करते समय दुघर्टना में या वाहन के पकड़े जाने पर गौवंश की मृत्यू के जिम्मेदार भी कहीं न कहीं वाहन चालक, मालिक व वाहन में सवार लोग ही होते है क्योंकि यह जानबूझकर किया जाना वाला कृत्य है। गौवंश का तस्करी का अवैध कारोबार थमने का नाम नहीं ले रहा है। 


सिवनी। गोंडवाना समय। 

पुलिस चौकी पलारी के अंतर्गत सोमवार व मंगलवार की दम्यानी रात्री में दु:खद घटना घटित हुई, जिसमें मूक पशुओं से भरा ट्रक थांवरी हिनोतिया के बीच में लगभग 3 बजे पलट गया। बताया जाता है कि ट्रक में लगभग 33 गौधन को भरकर कत्लखाने ले जाया जा रहा था, जिसमें लगभग 16 गाय की दर्दनाक मृत्यू मौके पर ही ट्रक पलटने की वजह से हो गई। वहीं शेष गाय का पशु चिकित्सक द्वारा उपचार किया जा रहा है। 

16 गायों की मौके पर ही दर्दनाक मौत, दर्जनों घायल


हम आपको बता दे कि पलारी पुलिस चौकी को सूचना मिली थी कि धनौरा की ओर से गौवंश परिवहन करते हुये ट्रक आ रहा है। जानकारी मिलने पर पलारी पुलिस चौकी द्वारा रोकने का प्रयास किया गया परंतु ट्रक चालक द्वारा वाहन को तेज गति से वाहन को ले जाते हुये चंदनवाड़ाकला रोड की ओर भाग गया। वहीं आगे जाकर छोटी पुलिया पड़ने के कारण और ट्रक का पुलिस द्वारा पीछे करते समय गौवंश से भरे हुये ट्रक को चालक द्वारा तेज गति से भगाने के कारण अनियंत्रित होकर हिनोतिया गौघाट धाम के पास खेत में पलट गया। जिससे ट्रक में गौकसी के लिये भरकर ले जाये जा रहे 33 गौवंश में से 16 गायों की घटनास्थल पर ही दर्दनाक मृत्यू हो गई वहीं अन्य मूक पशु गंभीर रूप से घायल हो गये। 

चालक व अन्य लोग हुये फरार 

हिनोतिया गौघाट धाम के पास मोड़ पर गौवंश तस्करी करता हुआ ट्रक पलट जाने से 16 गायों की दर्दनाक मौत हो गई और दर्जनों घायल हो गये। हम आपको बता दे कि गौ तस्करी के लिये गौवंश को भरकर ट्रक ले जाने की सूचना पलारी पुलिस चौकी को मिली थी जिस पर पुलिस द्वारा बैरिकेटिंग कर ट्रक को रोकने की कोशिश की गई थी लेकिन उक्त ट्रक नहीं रूका उसका पीछा किया गया।
        सोमवार व मंगलवार की दरम्यानी रात्रि में लगभग 3 बजे चालक द्वारा तेज रफ्तार से ट्रक को चलाने के कारण वह अनियंत्रित होकर गौघाट धाम हिनोतिया के पास एक खेत में जा पलटा। गौवंश तस्करी करता ट्रक क्रमांक एमएच 49 एटी 2626  है। वहीं उक्त मामले में ट्रक चालक व अन्य लोग खेत में ट्रक के जाने के तुरंत बाद मौके से फरार बताए जा रहे हैं। 

कार्यवाही के बाद भी नहीं थम रहा गौकसी का कारोबार 

पुलिस द्वारा ही प्रतिमाह किसी न किसी पुलिस थाना क्षेत्र में कार्यवाही करते हुये गौवंश तस्करी करते हुये ट्रक को पकड़ा जाता है। इसके बाद भी यह गौवंश या मूकपशुओं पर अत्याचार करने वाला अवैध व्यापार-कारोबार रूकने का नाम नहीं ले रहा है। पुलिस भी इन पर कार्यवाही करती है लेकिन गौवंश को तस्करी के ले जाने वाले वाहन चालक अत्याधिक तेज गति से वाहन को चलाते है वे न तो पुलिस की वर्दी की देखते है न ओर इंसान यदि कोई रोकने के लिये सामने आने की कोशिश करें तो उन पर ही वाहन चढ़ाने से भी पीछे नहीं हटते है।
        गौवंश तस्करी करने वाले वाहन चालक और उसमें सवार लोग हैवानियत की हद पार करते हुये हत्यारों की भूमिका में क्रूरतम रूप से लिये हुये वाहनों को भगाते है। अनेको बार पुलिस कार्यवाही भी होती है माननीय न्यायालय से सजा भी मिलती है लेकिन उसके बाद भी मूक पशुओं पर अत्याचार के साथ उनके व्यापार का कारोबार रूकने और न ही थमने का नाम ले रहा है। 


No comments:

Post a Comment

Translate