गोंडवाना समय

Gondwana Samay

गोंडवाना समय

Gondwana Samay

Wednesday, January 13, 2021

इस आयु मे युवाओं को उचित दिशा का मार्गदर्शन मिल जाये तो ऊच शिखर पर पहुंच सकते-दयाराम धुर्वे

इस आयु मे युवाओं को उचित दिशा का मार्गदर्शन मिल जाये तो ऊच शिखर पर पहुंच सकते-दयाराम धुर्वे 

आर्मी से सेवानिवृत दयाराम धुर्वे जी ने युवाओं को किया मोटीवेट


अनिल उईके जिला संवाददाता
छिंदवाड़ा। गोंडवाना समय।

होमगार्ड ग्राउंड छिंदवाड़ा में 13 जनवरी 2021 दिन बुधवार को अभ्यास के दौरान आर्मी से सेवानिवृत सैनिक श्री दयाराम धुर्वे जी ने जय जवान फिजिकल सोसाइटी के युवाओं को मोटीवेट किया। युवाओं को मार्गदर्शन देते हुए श्री दयाराम धुर्वे जी ने कहा युवाओं कि 15 से 25 वर्ष के बीच की आयु किसी एक निश्चित धेय पर केंद्रित करके उस पर काम करने की होती है। इस आयु मे युवाओं को उचित दिशा का मार्गदर्शन मिल जाये तो ऊच शिखर पर पहुंच सकते एवं अपने लक्ष्य को हासिल कर सकते है। जो भी कार्य करना है उसको मुख्यत: नोट कर लेना चाहिए जिससे की मनोदशा इधर उधर ना भटकते हुए उसी पर ध्यान पूर्वक कार्य किया जा सके। 

हमेशा सकारात्मक विचारों को ही जगह देना चाहिए


आगे श्री दयाराम धुर्वे जी ने कहा की हमेशा सकारात्मक विचारों को ही जगह देना चाहिए। अपने जीवन मे काम आने वाले कार्यों को मन लगाकर करना चाहिए। जय जवान फिजिकल सोसाइटी संचालक सुबेदार मोहन घंगारे जी ने आभार व्यक्त करते हुए बताया की श्री दयाराम धुर्वे जी ने अत्यधिक महत्वपूर्ण बातो को बड़ी ही सरलता से बच्चों तक पहुंचाया है। इसके साथ ही बताया की युवाओं के लिए सोसाइटी निशुल्क फिजिकल ट्रेनिंग एवं समय समय पर बच्चो को मोटिवेशन कराते रहती है। इस मौके पर सोसायटी के अध्यक्ष मिथुन धुर्वे, संचालक मोहन घंगारे और युवा मौजूद रहे। 

जय जवान फिजिकल सोसाइटी के युवाओं ने  5 किलोमीटर की दौड़ लगाकर किया योगा


जय जवान फिजिकल सोसाइटी छिंदवाड़ा ने मंगलवार 12 जनवरी 2021 को स्वामी विवेकानंद जी की जयंती को युवा दिवस के रूप में मनाया और 5 किलोमीटर की दौड़ लगाकर आम नागरिकों को योगा का प्रशिक्षण दिया। इस योगा अभ्यास मे बच्चे, युवा एवं बुजुर्ग शामिल रहे। सोसाइटी के संचालक सूबेदार मोहन घंगारे ने बताया की स्वामी विवेकानंद जी बहुआयामी युग द्रष्टा एवं धर्मयोद्धा सन्यासि थे।

स्वामी विवेकानन्द जी एक महान दार्शनिक थे। स्वामी विवेकानंद जी ने सामाजिक कुरूतियो को उखाड़ फेकने मे अहम भूमिका निभाई है। सोसाइटी शिक्षक दिनेश कालोकार ने बताया की स्वामी विवेकानंद जी ने पुरे विश्व भर मे भारत की अमिट छाप छोड़ी है। स्वामी विवेकानंद जी युवाओं के प्रेरणा स्रोत है। इसलिए हर वर्ष 12 जनवरी को उनकी जयंती को युवा दिवस के रूप मे मनाया जाता है। हम आपको जानकारी के लिए बता दें कि जय जवान फिजिकल सोसाइटी छिंदवाड़ा जिले को फिजिकल मे न.1 बनाने के लिए  कार्यरत है। और इस सोसाइटी का कार्य निरंतर जारी है जिसमें युवा और युवतियां भी काफी रुचि ले रहे है।

No comments:

Post a Comment

Translate