Thursday, April 15, 2021

अच्छी खबर, आॅक्सीजन जनरेटिंग क्षमता 400 लीटर प्रति मिनट, पीएसए प्लांट हवा से आॅक्सीजन करता है प्राप्त

अच्छी खबर, आॅक्सीजन जनरेटिंग क्षमता 400 लीटर प्रति मिनट, पीएसए प्लांट हवा से आॅक्सीजन करता है प्राप्त

जिला चिकित्सालय में पीएसए आॅक्सीजन जनरेटिंग प्लांट ने कार्य करना किया प्रारंभ, सिवनी विधायक का सतत निरीक्षण जारी 

विधायक ने 25 स्टाफ नर्स व 15 वार्ड बाय की तत्काल नियुक्ति किये जाने की रखी बात 


सिवनी। गोंडवाना समय। 

कोरोना महामारी के सिवनी जिले में बढ़ते प्रकोप से जहां कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ रही थी और इसी के कारण आॅक्सीजन की आवश्यकता अत्याधिक पड़ रही थी। अब आॅक्सीजन की समस्या से सिवनी जिला चिकित्सालय को निजात मिल सकेगी।
            


भारत सरकार स्वास्थ्य मंत्रालय के द्वारा इसके लिये इंदिरा गांधी जिला चिकित्सालय में ही पीएसए आॅक्सीजन जनरेटिंग प्लांट ने कार्य करना किया प्रारंभ कर दिया है। इस प्लांट की आॅक्सीजन जनरेटिंग क्षमता 400 लीटर प्रति मिनिट है। वहीं सिवनी विधानसभा क्षेत्र के विधायक श्री दिनेश राय मुनमुन भी जिला चिकित्सालय में प्रतिदिन सतत निरीक्षण कर कोविड सेंटर में पीपीई किट पहनकर स्वयं जाकर मरीजों से चर्चा कर जायजा ले रहे है।
            

इसके साथ ही विधायक ये प्रयास कर रहे है जिला चिकित्सालय की व्यवस्था में तत्काल सुधार आये एवं मरीजों के उपचार हेतु आवयश्यक सामग्री की व्यवस्थाओं की कोई कमी न हो। इसके लिये वे जिला चिकित्सालय में कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप के बाद भी अपना कार्य कर रहे है।
            

इस जिला चिकित्सालय में विभिन्न विषयों को लेकर कलेक्टर डॉ राहूल हरिदास फटिंग के साथ उन्होंने बैठक में चर्चा भी किया। जिसमें अस्पताल में कर्तव्य नहीं निभाने वाले चिकित्सकों पर कार्यवाही व अन्य स्टॉफ की भर्ती के लिये भी विशेष रूप से बात रखा है। 

नागपूर-जबलपुर पर निर्भरता होगी कम, कोरोना मरीजों के उपचार में मिलेगी सहायता 


स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार से प्राप्त पीएसए आॅक्सीजन जनरेटिंग प्लांट ने जिला चिकित्सालय में कार्य करना प्रारंभ कर दिया हैं। इस प्लांट की आॅक्सीजन जनरेटिंग क्षमता 400 लीटर प्रति मिनट हैं। जिसकी जनरेटिंग आॅक्सीजन की गुणवत्ता की जांच भी विगत दिवस लैब में करवाई जा चुकी हैं।
        

उल्लेखनीय है कि पीएसए प्लांट हवा से आॅक्सीजन प्राप्त करता हैं, इसमें विद्युत सप्लाई के अतिरिक्त न तो लिक्विट नाइट्रोजन एवं न ही किसी अन्य रॉ मटेरियल की आवश्यकता होती हैं। इस पीएसए आॅक्सीजन जनरेटिंग प्लांट के प्रारंभ हो जाने से नागपुर जबलपुर से आने वाले आॅक्सीजन सिलेंडर पर निर्भरता कम हो जायेगी तथा कोरोना मरीजों के उपचार में सहायता मिलेंगी। 

विधायक ने पुन: किया कोविड वार्ड सहित जिला चिकित्सालय का निरीक्षण


विधानसभा क्षेत्र के भाजपा विधायक श्री दिनेश राय मुनमुन ने कोविड वार्ड सहित जिला चिकित्सालय का निरीक्षण 15 अप्रैल 2021 को पुन: किया। इसके साथ ही उन्होंने कलेक्टर डॉ राहूल हरिदास फटिंग व स्वास्थ्य अधिकारियों व चिकित्सकों के साथ बैठक में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं के संबंध मे चर्चा भी की।
        

विधायक श्री दिनेश राय मुनमुन 15 अप्रैल 2021 को प्रात: 10 बजे पीपीई किट पहनकर कोविड वार्ड सहित जिला चिकित्सालय का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने कोविड मरीजों से चर्चा किया तथा उन्हें मिल रही सुविधाओं के संबंध मे जानकारी प्राप्त की।

13 डाक्टरों के कोविड डयूटी से नदारद रहने पर कार्यवाही की मांंग  


इसके पश्चात विधायक श्री दिनेश राय मुनमुन ने स्वास्थ्य संबंधी व्यवस्थाओं के संबंध मे जिला कलेक्टर सहित वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक में भाग लिया। जहां पर स्वास्थ्य सेवाओं के संबंध मे विस्तार से चर्चा की गई। बैठक मे जिला चिकित्सालय में आक्सीजन की कोई कमी नहीं होने, आटोमेटिक आक्सीजन  प्लांट मशीन प्रारंभ करने,  17 आक्सीजन कंसंट्रेशन मशीन आज व 30 मशीन शीघ्र ही प्राप्त होने की बात कही गयी एवं 13 डाक्टरों की कोविड डयूटी से नदारद रहने पर भी चर्चा की गई।
            जिस पर विधायक श्री दिनेश राय मुनमुन ने ऐसे डाक्टरों पर कार्यवाही किये जाने, कोविड वार्ड मे स्टाफ की कमी को देखते हुए 25 स्टाफ नर्स व 15 वार्ड बाय की तत्काल नियुक्ति किये जाने तथा सभी व्यवस्थाओं का संचालन सुचारू रूप से किये जाने की बात कही। इस पर जिला कलेक्टर डॉ राहुल हरिदास फटिंग ने शीघ्र ही कार्यवाही किये जाने की बात कही। 

No comments:

Post a Comment

Translate