Sunday, July 18, 2021

भांजी-भांजे के हत्याकांड में आज तक खोज-खबर लेने नेमावर नहीं पहुंचे प्रदेश के मामा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

भांजी-भांजे के हत्याकांड में आज तक खोज-खबर लेने नेमावर नहीं पहुंचे प्रदेश के मामा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 

गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के नेमावर हत्याकाण्ड में नेताओं ने शिवराज सरकार से पूछा क्यों नहीं करवाई जा रही सीबीआई जांच 

गोंगपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तुलेश्वर सिंह मरकाम सहित मौजूद रहे राष्ट्रीय, प्रांतीय, जिला व ब्लॉकों से पहुंचे पदाधिकारी 


नेमावर/देवास। गोंडवाना समय। 

मध्य प्रदेश के देवास जिले के नेमावर पुलिस थाना में एक ही परिवार के 5 आदिवासी सदस्यों की निर्मम हत्या करने के बाद शव को 12 फिट गड्डे में नमक और यूरिया डालकर गड़ा दिये जाने के लगभग डेढ़ माह बाद पुलिस ने शव को जिस हालत में निकाला था, वह निर्दयिता का ज्वलंत प्रमाण है।
        


वहीं सबसे महत्वपूर्ण बात यह थी कि नेमावर हत्याकाण्ड के मामले में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी द्वारा आदिवासी समाज के 5 सदस्यों के गायब होने के मामले को लेकर नेमावर पुलिस सहित देवास पुलिस प्रशासन के अधिकारियों को अवगत कराने के साथ विरोध प्रदर्शन तक किया गया था यहां तक गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कुंवर बलवीर सिंह तोमर द्वारा आत्मदाह तक चेतावनी दी गई थी। इसके बाद पुलिस प्रशासन ने जांच की कार्यवाही को मुस्तैदी के साथ बढ़ाया।
        

इसके बाद 5 आदिवासियों के शव निकालकर हत्याकाण्ड का पुलिस ने खुलासा किया और मुख्य आरोपी सहित 7 आरोपियों को पकड़ा था। वहीं हत्याकाण्ड का खुलासा होने के बाद से ही गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के घटना की सीबीआई जांच कराये जाने की मांग की जा रही थी। इस संबंध में 5 जुलाई को गोंडवाना गणतंत्र पार्टी द्वारा राष्ट्रव्यापी धरना प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा गया था जिसमें विभिन्न मांगों के पूरा न होने पर 18 जुलाई को न्याय यात्रा निकालकर पीड़ित पक्ष को न्याय दिलाने के लिये घोषणा किया गया था।
            

इसी के तहत 18 जुलाई 2021 दिन रविवार को नेमावर में न्याय यात्रा में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष तुलेश्वर सिंह मरकाम, राष्ट्रीय महासचिव श्याम सिंह मरकाम, प्रदेश अमान सिंह पोर्ते सहित राष्ट्रीय, प्रांतीय, जिला व ब्लॉक से गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के पदाधिकारी देवास जिले के नेमावर पहुंचे जहां गोंगपा का जनसैलाव के बीच में गोंगपा नेताओं ने नेमावर की घटना को मध्य प्रदेश सरकार व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से सवाल करते हुये अपना आक्रोश जताया। 

नेमावर की घटना को लेकर पूरा देश हो एकजुट 


नेमावर में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के राष्ट्रीय व प्रांतीय पदाधिकारियों ने 5 आदिवासियों की निर्मम हत्या होने के मामले में दु:ख जताते हुये अपनी बात रखते हुये मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान से सवाल करते हुये कहा कि नेमावर हत्याकाण्ड की सीबीआई जांच क्यों नहीं कराई जा रही है। वहीं जबकि भारतीय जनता पार्टी छोटी-छोटी घटनाओं में भी सीबीआई जांच की मांग करने लगती है और सीबीआई जांच भी कराई जाती है।
        

मध्य प्रदेश के नेमावर में एक ही परिवार के 5 सदस्यों की हत्या होने के बाद भी इसकी आखिर सीबीआई जांच क्यों नहीं कराई जा रही है इसके पीछे क्या कारण है। इसके साथ ही गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के नेताओं ने मंच के माध्यम से कहा कि नेमावर में एक ही परिवार के 5 सदस्यों की हत्या हो जाने के बाद भी मध्य प्रदेश मामा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पीड़ित परिवार की खोज खबर लेने नेमावर पहुंचे है और न ही घटना के संबंध में जानने के लिये घटना क्षेत्र नेमावर पहुंचे है। भोपाल में बैठकर घटना का संज्ञान लेकर निर्देश देने का भर काम किया है।
        घटना क्षेत्र जबकि उनकी विधानसभा क्षेत्र बुधनी के लगा हुआ है इसके बाद भी मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा इस संंबंध में पीड़ित परिवार से नहीं मिलना एवं घटना की शुद नहीं लेने के पीछे आखिर क्या कारण है। गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के नेताओं ने कहा कि पीड़ित पक्ष को गोंगपा के द्वारा सौंपे गये ज्ञापन अनुसार न तो मुआवजा दिया गया है और न ही अब शासकीय नौकरी दी गई है। इसके साथ ही गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के नेताओं ने कहा कि नेमावर की घटना दु:खद है इसके लिये पूरे देश को एकजुट होना चाहिये। हत्यारों को फांसी की सजा दिये जाने के लिये पूरे देश से आवाज उठाना होगा। 

No comments:

Post a Comment

Translate