Saturday, August 28, 2021

अवैध वसूली के 15 हजार रूपये बरघाट पुलिसकर्मियों ने किसान के घर जाकर किया वापस

अवैध वसूली के 15 हजार रूपये बरघाट पुलिसकर्मियों ने किसान के घर जाकर किया वापस 

रेत माफियाओं से सांठगांठ के चलते किसान से अवैध रूप से वसूले थे 15 हजार रूपये 


सिवनी। गोंडवाना समय।

बरघाट पुलिस थाना का रेत माफियाओं के साथ सांठगांठ व ग्राम चिमनाखारी के 1 किसान से रेत के उत्खनन के नाम पर टैÑक्टर को पकड़कर 15 हजार रूपये अवैध वसूली किये जाने के बाद पूर्व जिला पंचायत सदस्य ओमकार सिंह पटले के द्वारा हस्तक्षेप करने व वरिष्ठ पुलिस अधीकारियों के संज्ञान में लाये जाने के बाद 15 हजार रूपये लेने वाले संबंधित पुलिस कर्मचारियों ने ग्राम चिमनाखारी के किसान के घर जाकर ससम्मान 15 हजार रूपये वापस किये जाने से यह जनचर्चा का विषय बन गया है कि बरघाट पुलिस थाना और रेत माफियाआें की सांठगांठ कितनी मजबूत है। 

घरेलू उपयोग के लिये किसान परिवार के साथ गया था रेत लेने 

बरघाट पुलिस थाना और रेत माफियाओं से सांठगांठ का आरोप लगाते हुये एवं अवैध रूप से की गई 15 हजार रूपये की वसूली की राशि वापस कराने में भूमिका निभाने वाले ओंमकार सिंह पटले पूर्व जिला पंचायत सदस्य व सरपंच पति ग्राम पंचायत चिमना खारी ने गोंडवाना समय को जानकारी देते हुये बताया कि रक्षाबंधन के दिन ग्राम चिमनाखारी के किसान कीर्तन राहंगडाले अपने परिवार सहित ट्रैक्टर लेकर अपने स्वयं के घर के उपयोग के लिए थोड़ी सी रेत लेने के लिए नाले के किनारे गया था। 

पुलिस के 3 जवानों ने 30 हजार रूपये की मांग किया था 

आगे जानकारी देते हुये ओमकार सिंह पटले ने बताया कि इस दौरान क्षेत्र में अवैध रूप से रेत का धंधा करने वाले रेत माफियाओं के द्वारा बरघाट पुलिस थाना में जिन पुलिस कर्मचारियों से उनकी सांठगांठ हैं उनके माध्यम से किसान कीर्तन राहंगडाले की रेत को उन्होंने पकड़वा दिया। वहीं रेत का धंधा नहीं करने वाले किसान कीर्तन राहंगडाले को डरा धमका कर पुलिस के 3 जवानों के द्वारा पहले तो 30 हजार रूपये की मांग की गई। इस दौरान किसान कीर्तन राहंगडाले ने ग्राम के सरपंच पति तथा पूर्व जिला पंचायत सदस्य ओमकार सिंह पटले को बताया कि पुलिस ने मेरी ट्रैक्टर को पकड़ लिया है तो ओमकार सिंह पटले ने सिर्फ इतना ही कहा कि कौन पुलिस वाले है उनसे मेरी बात कराओ तो मौजूद पुलिस वाले ने कहा कि ओमकार पटले जैसे कई सरपंच हमने देख लिए हैं हम बात नहीं करेंगे और धमका चमका करके 15 हजार रूपये की अवैध राशि लेकर के चले गए।

रात्री में किसान के घर जाकर पुलिसकर्मी ने वापस किये रूपये 

आगे श्री ओमकार पटले ने जानकारी देते हुये बताया कि मेरे द्वारा इस संबंध में एसडीओपी बरघाट, पुलिस थाना प्रभारी बरघाट को शिकायत की गई और चर्चा की तो बरघाट पुलिस थाना प्रभारी ने उक्त तीनों पुलिसकर्मी को 3 घंटे में घर जाकर सम्मान के साथ में पैसे लौटाने को कहा। पुलिसकर्मियों ने घर जाकर किसान कीर्तन राहंगडाले को 15 हजार रूपये की राशि रात्रि में राशि वापस दिये।

प्रथम बार सरपंच बने थे तब भी पुलिस से राशि लौटाने का कीर्तिमान हासिल किया था


आगे जानकारी देते हुये ओंकार सिंह पटले ने बताया कि मेरे द्वारा उक्त पुलिसकर्मियों को हिदायत देते कहां गया कि हम कैसे सरपंच हैं, अब आप देख लो और दोबारा मेरी ग्राम पंचायत में सरपंच के बिना अनुमति के प्रवेश द्वार के प्रवेश मत करना। वहीं श्री ओमकार पटले ने यह भी कहा कि ग्राम में अवैध रेत के धंधा करने वालो से पुलिस सांठगांठ करती थी और जो लोग रेत का धंधा नहीं करते वैसे किसान लोगों को परेशान करके राशि वसूली करती थी जिसका ओमकार पटले काफी दिनों से इंतजार कर रहे थे और यह शुभ समय रक्षाबंधन के दिन आया तो उन्होंने पुलिस की अवैध वसूली का न सिर्फ खुलासा किया वरन अवैध वसूली के रूपये भी वापस कराये। इतना ही नहीं श्री ओमकार सिंह पटले इसके पूर्व में जब प्रथम बार सरपंच बने थे तब भी पुलिस से राशि लौटाने का कीर्तिमान हासिल किया था।

No comments:

Post a Comment

Translate