Tuesday, November 30, 2021

भूपेश बघेल सरकार में नवीन आश्रम पोटाली के बच्चे जिला पंचायत सदस्य पति अधीक्षक के खेत में काट रहे धान

भूपेश बघेल सरकार में नवीन आश्रम पोटाली के बच्चे जिला पंचायत सदस्य पति अधीक्षक के खेत में काट रहे धान 

निर्भीक और निडर सामाजिक कार्यकर्ता सोनी सोरी ने कलेक्टर को तत्काल कराया अवगत

शिक्षा के नाम पर स्कूली बच्चों का शोषण, बाल श्रम कानून की भी उड़ाई जा रही धज्ज्यिां 

छत्तीसगढ़ के दक्षिण बस्तर जिला दंतेवाड़ा का है गंभीर मामला

बेहतर शिक्षा के लिए माता पिता भेजते है आश्रम 


दुर्गाप्रसाद ठाकुर,प्रदेश संवाददाता।
दंतेवाड़ा/छत्तीसगढ़,गोंडवाना समय।

छत्तीसगढ़ राज्य मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के राज में छात्रावास व आश्रम में पढ़ने वाले छात्रों की स्थिति की पोल नीवन आश्रम पोटाली के अधीक्षक व जिला पंचायत सदस्य पति ने खोल कर रख दिया है।


छत्तीसगढ़ राज्य के जिला दन्तेवाड़ा में 28 नवंबर 2021 को आदिवासी सामाजिक कार्यकर्ता सोनी सोरी अपने ग्रह ग्राम समेली किसी काम से अपने मुंह बोले भाई के घर जा रही थी।

उसी बीच एक धान का खेत दिखाई दिया उस खेत में बहुत सारे स्कूली छात्र धान की कटाई कर रहे थे। सोनी सोरी बच्चों के नजदीक गयी और बच्चों से पूछताछ किया तो पता चला कि वह खेत नवीन आश्रम पोटाली के आश्रम अधीक्षक लिंगा राम मरकाम व जिला पंचायत सदस्य के पति का हैं। 

सर्व आदिवासी समाज के ब्लॉक ईकाई के अध्यक्ष भी है लिंगाराम मरकाम 


आश्रम अधीक्षक लिंगा राम मरकाम ग्राम पंचायत समेली के रहने वाले हैं, साथ ही सर्व आदिवासी समाज से ब्लाक इकाई अध्यक्ष है। वहीं उनकी धर्म पत्नी पायके मरकाम समेली क्षेत्र से जिला पंचायत सदस्य हैं। खेत में करीब 20 से 22 बच्चे धान की कटाई कर रहे थे। उन सभी बच्चों का नाम व कौन से कक्षा में पढ़ाई करते हैं पुरी जानकारी सोनी सोरी ने उनके साथी व जेल रिहाई समिति के सचिव बामन पोडियाम से एक डायरी में लिखवाया है। सर्व आदिवासी समाज के ब्लॉक अध्यक्ष होने के नाते ने लिंगाराम मरकाम का यह कर्तवय है कि वह समाज के बच्चों का शैक्षणिक विकास में योगदान दे ताकि उनका भविष्य सुरक्षित हो सके लेकिन लिंगाराम मरकाम सर्व आदिवासी समाज के अध्यक्ष होने के बाद भी अपने ही समाज के बच्चों को शैक्षणिक विकास की वजाय अपने खेत में धान कटाने का काम करा रहे है। 

सोनी सोरी ने जिलाधीश से बच्चों की बात कराई 


सारी जानकारी मिलने के बाद सोनी सोरी ने उसी खेत में रहकर दन्तेवाड़ा जिला के जिलाधीश को फोन किया और कहा कि आपके जिला में क्या हो रहा हैं ? जिलाधीश ने पूछा कि क्या हुआ मेडम तब सोनी सोरी ने पूरी बात बताई और धान काट रहे बच्चे से जिलाधीश की बात कराई। उस बच्चे से जिलाधीश दीपक सोनी ने बात किया और बच्चे से कहा कि आप अभी उस खेत से निकलो और वापस स्कूल चले जाओ। उसी बीच जिला पंचायत सदस्य पायके मरकाम के पति लिंगा राम मरकाम उस खेत में पहुंचे तो जिलाधीश ने सोनी सोरी से कहा कि आश्रम अधीक्षक से बात करवाईये, सोनी सोरी ने अधीक्षक को फोन दिया जिलाधीश ने अधीक्षक से कुछ सवाल पूछे व बच्चों से मजदूरी करवाने की बात भी पूछे तो अधीक्षक ने मजदूरी करवाने की बात स्वीकार किया।

यदि कोई घटना घटी तो कौन होगा जिम्मेदार ?

हम आपको बता दे कि नवीन आश्रम पोटाली ग्राम पंचायत पालनार में संचालित हैं। ग्राम पालनार से समेली की दूरी 9 से 10 किलोमीटर हैं। स्कूली बच्चे पालनार से 10 मिलीमीटर आश्रम अधीक्षक के घर जाकर मजदूरी कर रहे थे। स्कूली बच्चे 9 से 10 किलोमीटर दूर जाकर मजदूरी करते हैं उस दौरान ईश्वर न करे उस समय कोई घटना घटित हो जाये तो उस घटना का जिम्मेदार कौन होगा? जिला प्रशासन ? शिक्षा विभाग या आश्रम अधीक्षक? कौन होगा जिम्मेदार? 

शैक्षणिक गतिविधियों को छोड़ अधीक्षक करवा रहे मजदूरी 

सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार स्कूली बच्चों से मजदूरी करवाने की यह घटना कोई पहली घटना नहीं हैं। स्कूली बच्चों से जलाऊ लकड़ी कटवाना, पानी ढुलवाना ऐसे और कई कार्य हैं जिनको आश्रम अधीक्षक स्कूली बच्चों से करवाया जाता हैं। दन्तेवाड़ा जिला के कई अंदरूनी ईलाको में भी शिक्षा के नाम पर आश्रमों को संचालित किया जा रहा हैं। हो सकता हैं उन आश्रमों में भी बच्चों से मजदूरी करवाया जा रहा हो।  देश में तरह-तरह के बाल सरक्षण कानून बनाये गये हैं फिर  बच्चों से एक आश्रम अधीक्षक मजदूरी कैसे करवा सकता हैं ? 

अधीक्षक अपनी पत्नि की राजनैतिक धौंस की आड़ में करते है मनमानी 

सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार किसी के द्वारा अधीक्षक को कुछ कहने पर वह अपनी पत्नी की धौस देते हैं कि मेरी पत्नी जिला पंचायत सदस्य हैं, मेरा कौन क्या उखाड़ लेगा। आश्रम अधीक्षक शायद सच भी बोल रहे हैं क्योंकि जिसके पास पावर हैं वो कुछ भी कर सकता हैं। अधीक्षक पद में रहने के साथ-साथ ब्लाक इकाई  कुआकोण्डा से सर्व आदिवासी समाज के अध्यक्ष भी हैं।

No comments:

Post a Comment

Translate