Tuesday, January 18, 2022

सी.आर.पी.एफ. 34 बटालियन के जवान नीतू मोहरे की मृत्यू पर बैतुल जिला प्रशासन की अंसवेदनशीलता हुई उजागर

सी.आर.पी.एफ. 34 बटालियन के जवान नीतू मोहरे की मृत्यू पर बैतुल जिला प्रशासन की अंसवेदनशीलता हुई उजागर

पूर्व अर्धसैनिक विचार मंच वेलफेयर एसोसिएशन सोसाइटी बैतूल ने सम्मान के साथ अंतिम संस्कार में निभाई भूमिका 


बैतुल। गोंडवाना समय।

पूर्व अर्धसैनिक विचार मंच वेलफेयर एसोसिएशन सोसाइटी बैतूल के एक जवान जो कि जम्मू और कश्मीर में पत्थर के चोट से बीमारी से जूझते हुए (सी.आर.पी.एफ.) जवान स्व. नीतू मोहरे निवासी विजयग्राम, कोयलारी (भैंसदेही ) के जवान बीते दिवस अपने ही घर में बीमारी से जूझते हुए अंतिम सांस लिया। 

जवानों ने वर्दी पहनकर व तिरंगा अर्पण कर सम्मान की भावना किया प्रस्तुत 


पूर्व अर्धसैनिक विचार मंच वेलफेयर एसोसिएशन सोसाइटी के पदाधिकारियों ने जानकारी देते हुये बताया कि मृत जवान के सम्मान में कोई भी जिला प्रशासन एवं तैनाती बल के तरफ से नही आया।

इसके कारण संगठन से जुड़े पूर्व अर्ध सैनिक विचारमंच वेलफेयर एसोसिएशन, सोसायटी बैतूल ने शहीद जवान का विशेष सम्मान के साथ शोभा यात्रा तैयार कर अवकाश में उपस्थित जवानों ने वर्दी पहनकर व तिरंगा अर्पण सम्मान भावना प्रस्तुत किया है। जो देश के शहीद जवानों के प्रति सम्मान भावना के लिए किया जाता है। 

(सी.आर.पी.एफ.) के 34 बटालियन में तैनात थे नीतू मोहरे 

जवान (सी.आर.पी.एफ.) के 34 बटालियन में तैनात थे जो वर्तमान में ए.टी.सी. नागपुर में पदस्थ थे बीमार महसूस करने की वजह से छुट्टी पर घर आया थे। पूर्व अर्धसैनिक विचार मंच वेलफेयर एसोसिएशन सोसाइटी द्वारा निरंतर अर्ध सैनिक जवानों एवं परिजनों पर ध्यान देते हुए जिले में कार्य कर रहा है। 

अंतिम शोभा यात्रा में ये रहे शामिल 


जवान (सी.आर.पी.एफ.) के 34 बटालियन नीतू मोहरे की शोभा यात्रा में हरि संतोष गोह (सी.आर.पी.एफ), चंदन गोहे, प्रहलाद भलावी, विकास परते, रविन्द मसराम, गोपाल लोखंडे (सी.आर.पी.एफ. कोबरा),लखन वर्मा, दीपक वरकड़े, राजकुमार मस्ताकार, राजेश इवने एवं अन्य पूर्व अर्धसैनिक विचार मंच वेलफेयर एसोसिएशन सोसाइटी के जवान उपस्थित रहे है। 

No comments:

Post a Comment

Translate