Tuesday, January 4, 2022

नेमावर हत्याकांड के हत्यारों को दी जाये फांसी की सजा पीड़ित परिवार को मध्यप्रदेश सरकार दे न्याय-गोंगपा

नेमावर हत्याकांड के हत्यारों को दी जाये फांसी की सजा पीड़ित परिवार को मध्यप्रदेश सरकार दे न्याय-गोंगपा

नेमावर से भोपाल तक पीड़ित परिवार की पदयात्रा को समर्थन देने पहुंची गोंडवाना गणतंत्र पार्टी 


देवास/भोपाल। गोंडवाना समय। 

आदिवासी समाज के एक ही परिवार के 5 सदस्यों की हत्या कर उनके शव को 12 फिट गड्डे में गढ़ाने वाले हत्यारों को फांसी की सजा दिलाने और मध्य प्रदेश सरकार से न्याय मांगने को लेकर नेमावर से भोपाल तक 1 जनवरी 2022 से पदयात्रा पीड़ित परिवार के द्वारा निकाली जा रही है।


न्याय यात्रा को गोंडवाना गणतंत्र पार्टी द्वारा समर्थन दिया गया है वहीं पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिये सबसे पहले गोंडवाना गणतंत्र पार्टी ने आवाज उठाकर ज्ञापन सौंपकर कार्यवाही की मांग की थी जिस पर पुलिस प्रशासन द्वारा कार्यवाही प्रारंभ की गई थी

जिसमें पुलिस को लगभग डेढ़ माह बाद हत्या का खुलासा करने में सफलता मिली थी लेकिन 5 आदिवासी सदस्यों की निर्ममता पूर्वक हत्या करने के बाद उनके शव को 12 फिट गड्डे से निकाला गया था।

वहीं इसके बाद छानबीन करने के बाद पुलिस ने हत्यारों को गिरफतार किया गया था। 

पीड़ित परिवार के साथ संवेदलनशीलता नहीं बरत रही प्रदेश सरकार-बलवीर सिंह तोमर 


हत्या के खुलासे के बाद गोंडवाना गणतंत्र पार्टी सहित अन्य समाजिक संगठनों के द्वारा हत्या के बाद पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिये गोंडवाना गणतंत्र पार्टी सहित समाजिक संगठनों के द्वारा धरना प्रदर्शन कर न्याय की मांग की गई थी वहीं सीबीआई जांच की मांग की गई थी लेकिन मध्यप्रदेश सरकार ने सिर्फ पीड़ित परिवार को मुआवजा जो कि नियमानुसार अनुसूचित जाति जनजाति वर्ग को मिलता है वहीं भर दिया था। इसके साथ ही सीबीआई जांच के अनुशंसा भी मध्य प्रदेश सरकार ने घटना के लगभग 7 माह की है।

पीड़ित परिवार न्याय की मांग को लेकर निरंतर गुहार लगा रहा था लेकिन पीड़ित परिवार की मांग पूरी नहीं होने के कारण पीड़ित परिवार ने नेमावर से भोपाल तक पदयात्रा निकालने की घोषणा करते हुये 1 जनवरी 2022 से पदयात्रा प्रारंभ कर दिया है जो कि 4 जनवरी को नसरूल्लागंज पहुंची थी जहां पर गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कुंवर बलवीर सिंह तोमर व सीहोर सहित अन्य जिले के पदाधिकारी पदयात्रा में शामिल हुये। कुंवर बलवीर सिंह तोमर ने इस दौरान यह मांग किया कि सर्वप्रथम गोंडवाना गणतंत्र पार्टी ने ही इस घटना को लेकर धरना, प्रदर्शन, रैली, ज्ञापन सौंपकर कार्यवाही की मांग किया था।

वहीं प्रदेश सरकार से पीड़ित परिवार को न्याय दिये जाने व अन्य सहायता किये जाने के लिये ज्ञापन भी सौंपा था लेकिन प्रदेश सरकार ने पीड़ित परिवार की मदद नहीं किया। वहीं उन्होंने कहा कि आदिवासी परिवार के 5 सदस्यों की हत्या के बाद भी मध्य प्रदेश सरकार संवेदनशीलता नहीं बरत रही है। 

न्याय यात्रा के दौरान प्रांतीय व जिला के पदाधिकारी रहे मौजूद 


उक्त संबध में जानकारी देते हुये गोंगपा के राष्ट्रीय महासचिव कुंवर बलवीर सिंह तोमर ने बताया कि 4 जनवरी 2022 को नेमावर हत्याकांड कोे अंजाम देने वाले हत्यारों को फांसी की सजा दिये जाने एवं पीड़ित परिवार की अन्य मांगों को लेकर समर्थन देते हुये नसरूल्लागंज तहसील से पदयात्रा में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के पदाधिकारियों के साथ शामिल हुआ। इस दौरान गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के प्रदेश व जिला पदाधिकारियों में प्रमुख रूप से मोहन पटेल प्रदेश उपाध्यक्ष, देवास जिला अध्यक्ष राहुल इवने, सीहोर जिला अध्यक्ष अशोक भाई, सुभाष बेलवंशी प्रदेश मीडिया प्रभारी, इमरान पटेल जिला अध्यक्ष अल्पसंख्यक मोर्चा, अजय राठौर प्रदेश सचिव तथा क्षेत्र के समस्त जिला ब्लाक पदाधिकारी उपस्थित रहे। 

No comments:

Post a Comment

Translate