Saturday, March 12, 2022

11 हजार रूपये पटवारी दीपनारायण तिवारी से वापस दिलाने किसानों ने कलेक्टर से की शिकायत

11 हजार रूपये पटवारी दीपनारायण तिवारी से वापस दिलाने किसानों ने कलेक्टर से की शिकायत 

बिना पैसे लिये कोई काम नहीं करते पटवारी दीपनारायण तिवारी पर किसानों ने लगाया आरोप  


सिवनी। गोंडवाना समय। 

दीपनारायण तिवारी हल्का पटवारी नंबर 31 राजस्व निरीक्षक मण्डल चमारीखुर्द तहसील छपारा जिला सिवनी से क्षेत्रीय ग्रामीण व किसान अत्याधिक परेशान है। बिना चढ़ौत्तरी के कोई भी काम नहीं करने के नाम पर अपनी विशेष पहचान बनाने वाले पटवारी दीपनारायण तिवारी के कार्यकलापों से विभाग के वरिष्ठ अधिकारी कर्मचारी भी परिचित है उन तक शिकवा शिकायते भी होती है परंतु कार्यवाही नहीं हो पाती है। 

कार्यवाही न होने से पटवारी के हौंसले बुलंद 


हम आपको बता दे कि रामस्वरूप गोंड, तुलसीराम गोंड, फूलमानसा गोंड, सुखलाल गोंड सभी जनजाति वर्ग के सदस्यणगण है इनके द्वारा कलेक्टर तक शिकायत कर चुके है लेकिन पटवारी दीपनारायण तिवारी के हौंसले कार्यवाही न होने के कारण बुलंद होते जा रहे है। 

23 नवंबर 2021 को नक्शा दुरूस्ती का किया गया था आदेश पारित

पीड़ित शिकायतकर्ताओं के द्वारा कलेक्टर को शिकायत में बताया गया कि ग्राम बकोड़ा प.ह.नं. 31 राजस्व निरीक्षक मंडल चमारीखुर्द तहसील छपारा जिला सिवनी में स्थित खसरा नंबर 284/1, रकबा 2.04, खसरा नंबर 284/2 रकबा 2.03 हे. भूमि का नक्शा दुरस्ती किये जाने हेतु एक एसडीएम लखनादैन की ओर प्रस्तुत किया गया था जो कि जांच उपरांत नक्शा दुरूस्त किये जाने के लिये 23 नवंबर 2021 को आदेश पारित कर दिया गया था। 

आदेश के बाद भी नहीं किया नक्शा दुरूस्ती

उक्त पारित आदेश के तहत नक्शा दुरूस्त किये जाने हेतु पारित आदेश की प्रति भी आवेदक के द्वारा संबंधित हल्का पटवारी दीपनारायण तिवारी को प्रदान की जा चुकी है। जिस पर संबंधित हल्का पटवारी के द्वारा आवेदकों से पृथक-पृथक कुल 11 हजार रूपये भी रिकार्ड दुरूस्त करने व बंटवारा करेन के लिये लिया गया था लेकिन इसके बाद भी उनका काम नहीं किया जा रहा था। 

पटवारी दीपनारायण तिवारी की मनमानी से प्रताड़ित है किसान व ग्रामीणजन

वहीं पीड़ित आवेदकगण द्वारा संबंधित हल्का पटवारी दीपनारायण तिवारी से नक्शा दुरूस्त किये जाने के लिये 11 हजार रूपये वापस मांगे जाते है तो पटवारी साहब कहते है कि मैं पैसे वापस नहीं दुंगा तुमने जो बने सो कर लो, इसी आधार पर परेशान होकर कलेक्टर को शिकायत करने 11 हजार रूपये वापस दिलाये जाने की मांग किया गया है। वहीं पीड़ित आवेदकगणों का यह भी कहना है कि संबंधित हल्का पटवारी दीपनारायण तिवारी के कारनामों से अन्य कृषकगण व गांव के लोग मनमानी से शारीरिक व आर्थिक रूप से प्रताड़ित हो रहे है। पटवारी दीपनारायण तिवारी पर यह भी आरोप लगाया है बिना पैसे लिये किसी भी किसान का कोई काम नहीं करते है। 

No comments:

Post a Comment

Translate