Saturday, April 9, 2022

विक्रांत सिंह कुमरे बने जनजाति प्रकोष्ठ में राज्यपाल के विधि सलाहकार

विक्रांत सिंह कुमरे बने जनजाति प्रकोष्ठ में राज्यपाल के विधि सलाहकार


भोपाल/सिवनी। गोंडवाना समय। 

देश में पहली बार मध्य प्रदेश के  मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने अनुच्छेद 244 के अधिकारों को मजबूत करने के लिए जनजातीय समाज के प्रबुद्ध लोगों को जनजातिय प्रकोष्ठ में स्थान दिया है। इस कार्य के लिए लक्ष्मण सिंह मरकाम उप सचिव मुख्यमंत्री धन्यवाद ज्ञापित किया गया है। मध्यप्रदेश सरकार द्वारा अनुसूचित जनजातियों से संबंधित जनजातीय प्रकोष्ठ का गठन किया गया है। प्रकोष्ठ में विधि सलाहकार के पद पर विक्रांत सिंह कुमरे का चयन किया गया है। 

बरघाट ब्लॉक के ग्राम जावरकाठी के निवासी है विक्रांत सिंह कुमरे

जनजातीय मंत्रणा परिषद सेल का गठन महामहिम राज्यपाल के अधीन राजभवन में बनाया गया है। जिसमें अब मध्यप्रदेश के सभी अनुसूचित क्षेत्र के लोग अपनी समस्याएँ सेल के माध्यम से सुलझा सकेंगे। अनुसूचित जनजाति से संबंधित विषयों में सलाह देने के लिए राजभवन में राज्यपाल के अधीन गठित सेल में विधिक सलाहकार के पद पर विक्रांत सिंह कुमरे का चयन हुआ है। हम आपको बता दे कि विक्रांत सिंह कुमरे सिवनी जिले के बरघाट तहसील अंतर्गत जावरकाठी गांव के डॉ श्याम सिंह कुमरे आईएएस पूर्व कलेक्टर, सचिव मध्यप्रदेश के सुपुत्र है। 

विक्रांत सिंह कुमरे को दी गई बधाई 

विक्रांत सिंह कुमरे का जनजातीय प्रकोष्ठ में विधि सलाहकार जैसे महत्वपूर्ण पद पर चयन होने पर सिवनी जिलेवासियों में हर्ष व्याप्त है। सिवनी जिलेवासियों ने विक्रांत सिंह कुमरे को बधाई दी है। जिसमें भाजपा जिला अध्यक्ष आलोक दुबे, जिला महामंत्री गजानन्द पंचेश्वर, अजय डागोरिया, जयदीप सिंह चौहान, जनपद अध्यक्ष सुनील तेकाम, भाजपा नेता अजय त्रिवेदी, मण्डल अध्यक्ष विजय राहंगडाले, पूर्व मण्डल अध्यक्ष नवलसिंह कटरे, गजानन्द बिसेन, नन्दकिशोर हनवत सहित क्षेत्रवासियों व जिलेवासियों ने बधाई दी और उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।

जनजातिय प्रकोष्ठ का प्रशासकीय विभाग जनजातिय कार्य विभाग होगा


मध्यप्रदेश शासन सामान्य प्रशासन विभाग मंत्रालय, वल्लभ भवन भोपाल द्वारा 8 अप्रैल 2022 को जारी आदेश अनुसार मध्य प्रदेश की अनुसूचित जनजातियों से संंबंधित विभिन्न विषयों पर महामहिम राज्यपाल महोदय के निर्देशों अनुरूप कार्य करने हेतु जनजातिय प्रकोष्ठ का गठन किया गया है। जिसमें श्री दीपक खाण्डेकर सेवानिवृत्त भाप्रसे अध्यक्ष, श्री बी एस जामोद सदस्य सचिव, श्री भग्गू सिंह रावत विधि विशेषज्ञ, डॉ दीपमाला रावत विषय विशेषज्ञ, श्री विक्रांत सिंह कुमरे विधि सलाहकार नियुक्त किया गया है। जनजाति प्रकोष्ठ का कार्यालय राजभवन सचिवालय होगा। जनजाति प्रकोष्ठ को सचिवालयीन सहायता जनजातिय कार्य विभाग द्वारा प्रदान की जायेगी। उक्त जनजातिय प्रकोष्ठ का प्रशासकीय विभाग जनजातिय कार्य विभाग होगा। 

No comments:

Post a Comment

Translate