Saturday, May 7, 2022

9 मई को सिवनी बंद का एलान, 2 आदिवासियों की हत्या के विरोध में रखेंगे मांग

9 मई को सिवनी बंद का एलान, 2 आदिवासियों की हत्या के विरोध में रखेंगे मांग 

सिवनी बंद, सिवनी बंद, सिवनी बंद, सिवनी चलो, सिवनी चलो, सिवनी चलो का आहवान 

मूलनिवासी/आदीवासी संघर्ष समिति के तत्वावधान में सिवनी बंद महा आंदोलन


सिवनी। गोंडवाना समय। 

आदिवासी बाहुल्य जिला सिवनी के अनुसूचित क्षेत्र कुरई पुलिस थाना के बादलपार पुलिस चौकी अंतर्गत ग्राम सिमरिया में 2 आदिवासियों की पीट पीटकर हत्या करने के मामले में घटना के दिन से ही आदिवासी समुदाय सहित अन्य समाजिक संगठनों व राजनैतिक संगठनों में आक्रोश व्याप्त है। घटना के दिन ही नेशनल हाईवे लगभग 7 घंटे तक जाम रहा था। वहीं घटना के बाद निरंतर समाजिक व राजनैतिक संगठनों के प्रतिनिधि घटना स्थल ग्राम सिमरिया में पीड़ित परिवारजनों को सांत्वना देने व मदद देने के लिये पहुंच रहे है। इसके साथ ही घटना को अंजाम देने वाले आरोपियों के विश्व हिन्दु परिषद, बजरंग दल, श्रीराम सेना सहित अन्य संगठनों से संबंध होने के कारण विरोध और बढ़ते जा रहा है। आरोपियों पर कड़ी कार्यवाही व सजा दिये जाने की मांग को लेकर मध्यप्रदेश में निरंतर धरना प्रदर्शन व ज्ञापन का सिलसिला जारी है। वहीं सिवनी जिले में इस मामले को आक्रोश बढ़ता जा रहा है उक्त घटना के विरोध में आगामी 9 मई 2022, दिन - सोमवार को समय सुबह 7.30 बजे, स्थान नगर पालिका चौक सिवनी के सामने होकर मूलनिवासी/आदीवासी संघर्ष समिति के तत्वावधान में सिवनी बंद महा आंदोलन किये जाने का एलान किया गया है। 

2 आदिवासियों की हत्या के साथ महिलाओं से भी किया अभद्रता 

मूलनिवासी/आदीवासी बहुजन समाज (एससी, एसटी, ओबीसी और धर्म परिवर्तित, मुस्लिम,सिख ईसाई बौद्ध) के सामाजिक बुद्धिजीवियों साथियों को अपील करने के साथ ही सूचित किया गया है। जिसमें बताया गया है कि सिवनी जिले की तहसील कुरई , ग्राम सिमरिया, ग्राम पंचायत सागर के आदीवासी परिवार के 1. धनसा इनवाती सिमरिया (मृतक) 2.संपत वट्टी सागर (मृतक) 3.बृजेश वट्टी सिमरिया (घायल) को रात्रि में दो बजे योजना बद्ध तरीके से ब्राह्मण वादी/आतंकवादी संगठनों आर एस एस, बजरंग दल, और श्रीराम सेना के 20 - 25 गुंडों के द्वारा , गौकशी की बेबुनियाद शक के आधार पर आदीवासी परिवार के घर में घुसकर घसीटते हुए बाहर निकाल कर  जानलेवा हमला करते हुए दो व्यक्तियों को मार मार कर मार ही डाला और तीसरे को भी मार मार कर घायल कर दिया गया। पीड़ित परिवार की महिलाओं के साथ भी अभद्र अश्लीलता पूर्ण मारपीट की गई।

सामाजिक संगठनों व राजनैतिक दलों ने किया घटना की निंदा

आगे जानकारी देते हुये बताया गया है कि उक्त जघन्य घटना और हत्या पुलिस चौकी बादलपार की पुलिस प्रशासन की उपस्थिति में घटना को अंजाम दिया गया है।  जिससे समस्त मूलनिवासी आदीवासी, बहुजन, समाज (अनुसूचित जाति, जनजाति , ओबीसी, और मुस्लिम सिख ईसाई बौद्ध) आहत और आक्रोशित होकर ऐसे आतंकी संगठनों, तथाकथित राजनैतिक दलों और जिला प्रशासन की घोर निन्दा करता है, तथा अपनी विभिन्न मांगों को लेकर 9 मई दिन सोमवार को  मूलनिवासी/आदीवासी संघर्ष समिति एवं सिवनी जिले के सभी सामाजिक संगठनों के समर्थन पर जिला सिवनी बंद का आह्वान किया गया है।

आंदोलन की ये है प्रमुख मांग

सभी मूलनिवासी बहुजन समाज के बुद्धिजीवियों, समाजसेवियों,छात्र, छात्राओं बेरोजगार युवाओं, मूलनिवासी महिलाओं, किसानों, वकीलों सभी से अनुरोध करते हुये अपील की गई है कि इंसाफ कायम करने के लिए और जालिमों के जुल्म को रोकने के लिए एक दिवसीय जिला सिवनी बंद को तन मन धन से सहयोग प्रदान करते हुए सफल बनायें। वहीं आंदोलन के दौरान प्रमुख रूप से ये मांग रखी जायेंगी। जिसमें 1. ग्राम सिमरिया के पीड़ित परिवार को एक एक करोड़ की आर्थिक सहायता राशि मुख्यमंत्री सहायता कोष से तत्काल दिलाई जाये, तथा पीड़ित परिवार के आश्रितों को स्थाई शासकीय नौकरी तत्काल दिलाई जाये, 2. जघन्य हत्या कांड की सी.बी.आई.जांच कराई जाये, 3. पीड़ित परिवारों को तत्काल पुलिस सुरक्षा प्रदान किया जाये, 4. आरोपी गणों पर धारा 147  ,148,149,211,120ु,302, 307,354,रउ/रळ अू३ भारतीय दंड विधान के तहत् मामला दर्ज किया जाये, 5. पीड़ित परिवारों की महिलाओं के साथ हमला वरों द्वारा मारपीट, अभद्रता और अश्लीलता की गई है इसलिए उनकी अलग से एफ.आई.आर.दर्ज कराई जाये, 6.आरोपी गणों के अबैध कब्जे को तत्काल तोड़ा जाये, 7. आरोपी गणों पर दर्ज मामले की तत्काल सुनवाई हेतु फास्ट ट्रैक कोर्ट का गठन कर दोषियों को जघन्य हत्या जैसे अपराध के लिए मृत्यु दंड से दंडित किया जाये, 8. आरोपी गणों के संगठन (आर एस एस, बजरंग दल, श्रीराम सेना) प्रमुखों द्वारा अपराध कारित करने के लिए उकसाना, समाज में विद्वेष फैलाने के अपराध में  गिरफ्तार किया जाये, तथा ऐसे आतंकी संगठनों पर प्रतिबंध लगाया जाये, 9. पीड़ित परिवारों की महिलाओं को एवं साक्षियों को तत्काल सुरक्षा प्रदान किया जाये, 10. इस जघन्य हत्या कांड से पीड़ित बृजेश वट्टी को सुरक्षा एवं 10 लाख रुपए की आर्थिक सहायता राशि तत्काल प्रभाव से प्रदान किया जाये । 

महाबंद के दौरान ये संगठन देंगे सहयोग

घटना के विरोध में सिवनी महाबंद को लेकर विभिन्न समाजिक संगठनों में प्रमुख रूप से भाईचारा संघर्ष समिति सिवनी, राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग मोर्चा सिवनी, ओबीसी महासभा सिवनी, बिरसा बिग्रेड सिवनी, राष्ट्रीय आदीवासी एकता परिषद सिवनी,भारत मुक्ति मोर्चा सिवनी, बहुजन क्रांति मोर्चा सिवनी, इंडियन लायरस एसोशिएशन सिवनी, गौड़ समाज महासभा, प्रधान महासभा, सिवनी, वाल्मीकि समाज सिवनी,भीम आर्मी सिवनी, आर इंडिया समता सैनिक दल सिवनी,कोयतूर गौंडवाना महासभा सिवनी, राष्ट्रीय मूलनिवासी महिला संघ सिवनी, आदीवासी विकास परिषद सिवनी,जयस सिवनी, डहेरिया मेहरा समाज सिवनी,कतिया समाज सिवनी,खटीक समाज सिवनी, बंसकार समाज सिवनी,कुचबुंदिया समाज सिवनी, अखिल भारतीय आदिवासी जन कल्याण परिषद सिवनी,संत रविदास समाज सिवनी, अनुसूचित जाति विकास परिषद सिवनी, बौद्ध समाज सिवनी सहित अन्य संगठन शामिल रहेंगे। 

No comments:

Post a Comment

Translate