Thursday, May 26, 2022

गाय का निबंध जिनको ढंग से लिखते नहीं आता वह आदिवासियों को गौरक्षा का पाठ पढ़ा रहे है-गोंगपा

गाय का निबंध जिनको ढंग से लिखते नहीं आता वह आदिवासियों को गौरक्षा का पाठ पढ़ा रहे है-गोंगपा 

2 आदिवासियों के हत्याकांड के विरोध में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी ने न्याय अधिकार रैली निकालकर दर्ज कराया विरोध 


सिवनी। गोंडवाना समय। 

आदिवासी बाहुल्य ब्लॉक कुरई के अंतर्गत बादलपार पुलिस चौकी के तहत ग्राम सिमरिया में बीते दिनों 2 आदिवासियों की हत्या का मामला शांत नहीं होने का नाम नहीं ले रहा है।
        


पीड़ित परिवारजनों को न्याय दिलाने के लिये गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के द्वारा 26 मई 2022 को न्याय अधिकार रैली निकाली गई जिसमें सैकड़ों वाहनों के काफिला के साथ राष्ट्रीय अध्यक्ष तुलेश्वर सिंह मरकाम, मध्यप्रदेश प्रभारी श्याम सिंह मरकाम सहित राष्ट्रीय व प्रांतीय पदाधिकारी की मौजूदगी में पीड़ित परिवारजनों से मिलने पहुंचे।


        वहीं सिवनी जिला मुख्यालय में न्याय अधिकार रेली के तहत आमसभा का आयोजन किया गया जहां पर हजारों की संख्या में आदिवासी समुदाय सहित गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के पदाधिकारी व कार्यकर्ता शामिल हुये। जहां पर शिवराज सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुये स्थानीय प्रशासन के माध्यम से पीड़ित परिवारजनों को न्याय दिलाने के लिये ज्ञापन सौंपा गया। 

पीड़ितों को न्याय दिलाने के लिए तत्काल सुधारात्मक कदम उठाये शिव राज सरकार


सिमरिया हत्याकांड के विरोध में गोंगपा के न्याय अधिकार रैली के दौरान गोंगपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तुलेश्वर सिंह मरकाम सहित राष्ट्रीय, प्रांतीय, जिला व ब्लॉक के पदाधिकारीगण पीडितजनों से मिलने घटना स्थल सिमरिया पहुँचे। राष्ट्रीय अध्यक्ष तुलेश्वर मरकाम सहित समस्त पदाधिकारियों ने पीड़ित परिवार से मिलकर अपनी सवेंदनाये व्यक्त की एव उनकी व्यथा को सुनकर परिजनों को न्याय दिलाने की बात कही।

वही सिवनी जिला मुख्यालय में आयोजित न्याय अधिकार मंच के माध्यम से अपनी बात रखते हुये मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पीड़ितों को न्याय दिलाने के लिए तत्काल सुधारात्मक कदम उठाये जाने की बात कही।

इसके साथ ही हत्याकांड के आरोपियों  की सुनवाई फास्ट ट्रक में करते हुए मृतकों के आश्रितों को एक एक करोड़ रुपये की सरकारी मुवावजा प्रदान करने की मांग की गई। इसके साथ ही परिवार के सदस्यों को सरकारी नोकरी दी जाने की मांग किया है।

इसके साथ ही आदिवासी क्षेत्रों में बजरंग दल, आरएसएस जैसे संगठनों को बेन करने की बात कही है। 

आदिवासियों के साथ मध्यप्रदेश में अत्याधिक अन्याय, अत्याचार, शोषण किया जा रहा है


न्याय अधिकार रैली मंच के माध्यम से गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के वक्ताओं ने कहा कि जिन्हें गाय का निबंध ढंग से लिखते नहीं आता है वे आदिवासियों को गौ रक्षा का पाठ पढ़ा रहे है। आदिवासी समाज जल, जंगल, जमीन, जीव जंतु सहित प्रकृति के समस्त उपहारों का सम्मान सबसे अच्छे तरीके से करना जानता है।

सिमरिया की घटना के मामले में प्रदेश के गृहमंत्री का बयान भी निदांत्मक है। प्रदेश सरकार ने हत्याकांड को अंजाम देने वालों को बचाने का भरपूर प्रयास किया है। आदिवासियों के साथ मध्यप्रदेश में अत्याधिक अन्याय, अत्याचार, शोषण किया जा रहा है।

सिवनी जिले के सिमरिया सहित अनेक जिलों में भी यही स्थिति है। शिवराज सरकार के द्वारा सिमरिया हत्याकांड के मामले में आरोपियों को बचाने का प्रयास किया है। पीड़ित परिवारों को न्याय अभी तक नहीं मिला है, गोंडवाना गणतंत्र पार्टी का आंदोलन पीड़ित परिवारजनों को न्याय दिलाने तक संघर्ष करते हुये जारी रहेगा। इसके साथ ही गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के वक्ताओं ने कहा कि जिसका शासन सत्ता होता है उसके साथ और परिवार के लोगों के साथ अन्याय, अत्याचार, शोषण नहीं होता है इसलिये गोंडवाना गणतंत्र पार्टी को शासन सत्ता पर अपना अधिकार करना होगा। 

न्याय अधिकार रैली में विशेष रूप से ये रहे मौजूद

गोंडवाना गणतंत्र पार्टी द्वारा निकाली गई न्याय अधिकार रेली में सिवनी जिला मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम में प्रमुख रूप से गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष तुलेश्वर सिंह मरकाम, मध्यप्रदेश प्रभारी राष्ट्रीय महासचिव श्याम सिंह मरकाम, प्रदेश अध्यक्ष अमान सिंह पोर्ते, राष्ट्रीय किसान मोर्चा अध्यक्ष दरबू सिंह उईके, प्रदेश संगठन मंत्री हरेन्द्र सिंह मार्कों, राष्ट्रीय महासचिव कुंवर बलवीर सिंह तोमर, युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल सिंह गोंड, महिला मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष हेमंत कुमारी बरकड़े, गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के जिला अध्यक्ष रामगुलाम उईके सहित राष्ट्रीय, प्रांतीय, जिला व ब्लॉक के पदाधिकारीगण मौजूद रहे। 

No comments:

Post a Comment

Translate