Tuesday, March 21, 2023

आदिवासियों के हितों के लिए केंद्रीय सब प्लान के खर्चों का जनहित याचिका दायर कर लेंगे हिसाब-महमूद प्राचा

आदिवासियों के हितों के लिए केंद्रीय सब प्लान के खर्चों का जनहित याचिका दायर कर लेंगे हिसाब-महमूद प्राचा

दिल्ली सुप्रीम कोर्ट से पहुंचे अधिवक्ता एवं गोंगपा के कानूनी सलाहकार ने दिया संदेश 

छत्तीसगढ़ में पुलिस अपने कलम का नाजायज फायदे उठा कर झूठे मुकदमे कर रही है दर्ज 

20 मार्च 2023 को गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के तत्वाधान में बिलासपुर मुंगेली नाका समीप एक ग्राउंड में दिल्ली सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता तथा गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री तुलेश्वर सिंह मरकाम के नेतृत्व में दिल्ली सुप्रीम कोर्ट से पहुंचे अधिवक्ता एवं पार्टी के राष्ट्रीय कानूनी सलाहकार महमूद प्राचा के द्वारा देश में मूल मालिक जनजाति समुदायों को सावैंधानिक अधिकारों से हो रही कटौती पर कड़ी आपत्ति जताई तथा मूल निवासी तथा गरीब तबकों पिछड़े तथा अल्प संख्यक समाज के लोगों को गोंडवाना गणतंत्र पार्टी की राजनीति में सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ जुड़ने के लिए आव्हान किया। जनजाति समाज इस देश के मूल निवासी हैं जो जल, जंगल और जमीन को बचाने के लिए लड़ाई लड़ते हैं जिससे मानव अस्तित्व जुड़ा है। जिस पर हमें गर्व है। देश में आदिवासियों के संरक्षण के लिये बने कानून को जिस तरीके से सावैंधानिक रुप से कुरेद कुरेद कर आदिवासियों के अधिकार के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। जिसका शांति पूर्वक विरोध करना आपका नैतिक दायित्व है। सत्तारूढ सरकार आपके विकास मद का दुरुपयोग कर रही है। इसके खिलाफ अब हमें कोर्ट में अपने अधिकार को लेकर लड़ना होगा। 


बिलासपुर/छत्तीसगढ़। गोंडवाना समय।  

व्यावहारिक दृष्टि कोण से नैसर्गिक व प्राकृतिक तौर से जुड़े आदिवासी समुदाय जो जल, जंगल और जमीन के संरक्षणकर्त्ता मानें जाते हैं। पर्यावरण सहेजने में जिनका महत्वपूर्ण योगदान है। मैं इस समाज को बेहद ईमानदार और होशियार मानता हूं।
                


रहन-सहन व संस्कृति का सम्मान करता हूं। जिन्होंने जंगल बचाने के लिए जिनका संघर्ष आज भी जारी है।

आज बड़े बड़े कापोर्रेट घरानों को सरकार खनिज संपदा की उत्खनन के लिए वर्जित क्षेत्र जहां पांचवीं अनुसूची लागू है तथा सरकार आदिवासियों के हितों की संरक्षण के लिए पेशा कानून तो बनाया पर बेहद कमजोर बनाया है।
                

इसके बावजूद भी इस कानून को यदि ईमानदारी से लागू किया जाए। कुछ हद तक भला हो सकता है उक्त बातें गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के राष्ट्रीय सलाहकार एवं दिल्ली सुप्रीम कोर्ट के जाने मानें अधिवक्ता महमूद प्राचा ने बिलासपुर में आयोजित  पार्टी के एक विशाल कार्यक्रम में कहा। 

केंद्रीय सब प्लान के बजट का दुरूपयोग कर रही सरकार 


गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के राष्ट्रीय सलाहकार महमूद प्राचा ने आगे संदेश देते हुये कहा कि आदिवासियों के हितों की संरक्षण व संवर्धन के लिए जुड़ी केंद्रीय सब प्लान, उप योजना में तत्कालीन तथा वर्तमान सत्तारूढ सरकारो ने आदिवासियों के बुनियादी सुविधाएं तथा समग्र विकास के लिए इनके हिस्से की राशि का दुरुपयोग किया है, लिहाजा आज तक यह समुदाय विकास की मुख्य धारा वंचित है।
            

हमारी पार्टी आजादी के बाद से अब तक आदिवासियों के नाम पर जारी केंद्रीय सब प्लान के खर्चों का हिसाब को लेकरअब हम लामबंद हैं और अतिशीघ्र सरकार द्वारा प्रदत संवैधानिक अधिकार के तहत आदिवासियों के विकास के नाम पर मिली राशि की कथित दुरुपयोग को लेकर जनहित याचिका दायर कर हिसाब लेंगे। 

शांतिपूर्ण आंदोलन करना आपका नैतिक दायित्व है 


गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के राष्ट्रीय सलाहकार महमूद प्राचा ने पार्टी जन सभा में उपस्थित लोगों को जोर देते हुए कहा कि अपने मौलिक अधिकारों के लिए शांतिपूर्ण आंदोलन करना आपका नैतिक दायित्व है। इसे कोई रोक नहीं सकता। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में भोले भाले आदिवासियों के साथ पुलिस अपने कलम का नाजायज फायदे उठा कर झूठे मुकदमे करते हैं। अब संवैधानिक रुप से कानून के खिलाफ यदि कोई काम करता है तो आज हम खड़े हैं।

पर्यावरण संरक्षण करने वाले आदिवासी समुदाय पर हमें गर्व है 


गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के राष्ट्रीय सलाहकार महमूद प्राचा ने आगे कहा कि आदिवासियों जनता को देश का मूल मालिक बताते हुए कहा कि देश के नौकर शाहों से लेकर विधायक, सांसद, मंत्री सहित चाहे देश का सर्वोच्च न्यायाशीश क्यों न हो, ये सब आपके नौकर हैं, इस बात को जानने की जरूरत है। उन्होंने कहा यहां के आदिवासी जिन्होंने जल, जंगल और जमीन को बचाने लिए लड़ाई लड़ रहे हैं।
                

जो सबसे होशियार तथा बुद्धिजीवी हैं।  मानव जीवन का अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहे हैं। आज संरक्षित जंगलों से ही हमें आक्सीजन मिलता है। ऐसे पर्यावरण संरक्षण करने वाले आदिवासी समुदाय पर हमें गर्व है। उन्होंने कहा ऐसे देश के मूल मालिको के सावैंधानिक अधिकारों से हो रही कटौती पर कड़ी आपत्ति है तथा उन्होंने जन सभा में पहुंचे सभी वर्गो के गरीब  पिछड़े तथा अल्प संख्यक समाज के लोगों को गोंडवाना गणतंत्र पार्टी की राजनीति में सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ जुड़ने के लिए आव्हान किया तथा कहा कि आप इस देश के मूल निवासी हैं।

सवैंधानिक कानूनों को कुरेद कुरेद कर आपके अधिकारो के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है 

जो जल, जंगल और जमीन को बचाने के लिए लड़ाई लड़ते हैं जिससे मानव अस्तित्व जुड़ा है जिस पर हमें गर्व है। जिस देश में आदिवासियों की संरक्षण के लिए बने कानून को जिस तरीके से सरकार द्वारा सवैंधानिक कानूनों को कुरेद कुरेद कर आपके अधिकारो के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। जो भविष्य के पीढ़ी के लिए बेहद खतरा है। जिसका विरोध करना आपका नैतिक दायित्व है। सत्तारूढ सरकार आपके केंद्रीय विकास मद का दुरुपयोग कर रही है। इसके खिलाफ अब हमें कानूनी तौर पर कोर्ट में याचिका दायर कर चुनौती देना होगा । 

कार्यक्रम में ये रहे मौजूद 

इस कार्यक्रम में प्रमुख रूप से तुलेश्वर सिंह मरकाम राष्ट्रीय अध्यक्ष, श्याम सिंह मरकाम पार्टी राष्ट्रीय महासचिव, राष्ट्रीय किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष दरबू सिंह उईके, डा एल एस उदय सिंह पार्टी राष्ट्रीय महामंत्री, किसान मोर्चा पार्टी राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं प्रदेश प्रभारी छत्तीसगढ़, राष्ट्रीय संगठन सचिव मनोहर सिंह ध्रुव तथा एन के राज पार्टी राष्ट्रीय संगठन मंत्री के अलावा राष्ट्रीय अध्यक्ष हेमलाल मरकाम तथा संतोष चंद्राकर, प्रदेश अध्यक्ष संजय सिंह कमरों, प्रदेश महासचिव डा बाल मुकुंद सिंह मरावी सहित सैकड़ों राष्ट्रीय एवम प्रदेश पदाधिकारियों सहित हजारों लोगों ने आयोजित इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

No comments:

Post a Comment

Translate