Saturday, May 4, 2019

राजभवन में समर कैम्प में बच्चों ने समझे ग्लोबल वार्मिंग के खतरे

राजभवन में समर कैम्प में बच्चों ने समझे ग्लोबल वार्मिंग के खतरे

भोपाल। गोंडवाना समय।
राजभवन में समर कैम्प में भविष्य के कर्णधारों को ग्लोबल वार्मिंग के खतरों और उससे बचाव की जानकारी दी गई। कैम्प में राजभवन कर्मियों के बच्चों सहित कमला नेहरू स्कूल, कुम्हारपुरा और रोशनपुरा स्कूल, भोपाल के बच्चे भाग ले रहे हैं। कैम्प 20 जून तक जारी रहेगा। भारतीय वन सेवा के पूर्व अधिकारी श्री अजित सोनकिया ने बच्चों को जलवायु परिवर्तन संबंधी विषय पर दृश्य-श्रव्य माध्यम से पृथ्वी पर बढ़ती जनसंख्या, मानवीय लापरवाही, स्वच्छ और स्वस्थ पर्यावरण के प्रति जागरूकता के अभाव के दुष्परिणाम तथा जलवायु परिवर्तन के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि पृथ्वी पर तेजी से फैलते प्रदूषण की रोकथाम के लिये भावी पीढ़ी को जागरूक बनाने की जरूरत है। श्री सोनकिया ने समाज में पर्यावरणीय चेतना के विस्तार के लिये बच्चों को 'सामाजिक अध्ययन' और 'ग्लोबल वार्मिंग एंड क्लाइमेट चेंज'' विषय के अध्ययन के लिए प्रेरित किया।

बच्चों का नृत्य व गायन प्रशिक्षण शुरू

राजभवन में समर कैम्प में बच्चों के लिये नृत्य और गायन का प्रशिक्षण शुरू हुआ। प्रशिक्षकों ने नृत्यकला का परिचय देते हुए विभिन्न मुद्राओं के बारे में बताया। बच्चे गायन कला की बारीकियों से अवगत हुए। कैम्प में बच्चों ने बड़ी संख्या में भाग लिया। गायन प्रशिक्षक श्री विजय सप्रे ने बच्चों को हारमोनियम के साथ सप्त स्वरों का अभ्यास, राष्ट्रगीत और  राष्ट्रगान का  गायन भी कराया। बच्चों को सुगम संगीत और गीत की जानकारी दी गई। नृत्यकला प्रशिक्षक सुश्री संघमित्रा तायवाड़े ने कैम्प में बच्चों को नृत्य कला और उसके स्वरूप का परिचय दिया। लोक नृत्य और शास्त्रीय नृत्य के संबंध में जानकारी दी।

No comments:

Post a Comment

Translate