Monday, May 27, 2019

माता-पिता के छलक आये आंसू जब पुलिस ने सौंपा गोद में नवजात बेटा

माता-पिता के छलक आये आंसू जब पुलिस ने सौंपा गोद में नवजात बेटा 

आदिवासी महिला का जिला अस्पताल से 24 मई को हुआ नवजात बच्चा चोरी 
108 एंबूलेंस चालक व सिवनी की महिला से मदद से दिया वारदात को अंजाम 

संतान न होने के चलते परेशान चल रही महिला और आए दिन मारपीट कर परेशान करने व वंश खत्म हो जाने की बात कहते हुये लड़का नहीं लाई तो घर से निकाल दुंगा की धमकियों से तंग आकर ऐसा कदम उठाया कि उक्त महिला ने सिवनी अस्पताल से नवजात बच्चा ही चोरी कर लिया हालांकि पुलिस की सक्रियता के चलते नवजात बच्चा भी उसकी मां को वापस मिल गया वहीं नवजात बच्चा चोरी के मामले में महिला समेत अन्य सहयोगी को गिरफतार किया है । वहीं जब पुलिस सुरक्षित व स्वस्थ्य स्थिति में नवजात बच्चा को उसके मां-पिता को वापस सौंपा तो उनके आंखों में आंसू छलक आये ।

सिवनी। गोंडवाना समय। 
इंदिरा गांधी जिला चिकित्सालय सिवनी से 24 मई को सुबह लगभग 6.30 बजे पी एन सी वार्ड से डिलेवरी के पश्चात भर्ती महिला श्रीमती मोनिका उईके पति संतोष उईके ग्राम पोरतलई थाना कुरई से से उसके दो दिन के नवजात बच्चे को एक अज्ञात महिला के द्वारा खिलाने के बहाने मांग कर ले जाने के बाद बच्चा गायब हो जाने से हल्ला मच गया तो वहीं अस्पताल प्रबंधन व सुरक्षा एजेंसी पर प्रश्न उठे थे । वहीं कोतवाली पुलिस द्वारा अपराध क्रमांक 363/19 धारा 363 भा.द.वि. पंजीबद्ध कर गंभीरता से लिया जाकर कार्यवाही प्रारंभ की गई ।

टीम बनाकर रखा था नगद ईनाम

नवजात के गायब हो जाने के बाद पुलिस अधीक्षक श्री ललित शाक्यबार के द्वारा अज्ञात आरोपी महिला की पतासाजी पर 10000 हजार रूपये नगद ईनाम दिये जाने की घोषणा की गई थी वहीं कार्यवाही के लिये टीम का गठन किया गया था जिसमें अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री गोपाल खांडेल एवं एसडीओपी श्री संजीव कुमार पाठक के निर्देशन में कोतवाली टी आई श्री अरविंद जैन ने अपने स्टाफ के साथ साथ अलग टीम बनाकर सूक्ष्मता से जांच करते हुये अस्पताल में भर्ती में अन्य महिलाओं, नर्सिंग स्टाफास, सुरक्षा गार्ड, उपचार कर रहे मरीजों, राहगीरों से पूछताछ कर जानकारियां एकत्र किया ।

सीसीटीव्ही कैमरों से मिली मदद

इसके साथ ही पुलिस को नगर में लगे सीसीटव्ही कैमरों में नवजात बच्चे को सड़क पर जाते हुये एक महिला एवं एक अन्य नाबालिग लड़की फुटेज हाथ लगे जिसके संबंध में पुुलिस ने तत्काल युद्धस्तर पर अनेकों लोगों से पूछताछ करने पर 108 एंबुलेंस वाहन में चालक का काम करने वाले आसिफ खान निवासी बंडोल के साथ सीसीटीव्हीं फुटेज में दिख रही संदिग्घ महिला देखे जाने की जानकारी मिलने पर पुलिस द्वारा आसिफ खान निवासी बंडोल को हिरासत में लेकर पूछताछ किया गया । तब पूछताछ पर संदिग्ध महिला का मोबाईल नंबर पुलिस को मिला और साईबर सेल से ट्रेक कराये जाने पर उक्त संदिग्ध महिला का मोबाईल दिनांक घटना वारदात के बाद सिवनी से चौरई, छिंदवाड़ा भोपाल होते हुये शिवपुरी जिले में मिला ।

शिवपुरी से व सिवनी से सहयोगी महिला को किया गिरफतार

पुलिस अधीक्षक सिवनी के निर्देशन में थाना कोतवाली से जिला शिवपुरी भेजी गई पुलिस टीम ने स्थानीय पुलिस टीम के साथ मिलकर ग्राम सुनाज थाना कोलारस में छापामार कार्यवाही करते हुये संदिग्ध महिला दुर्गा पटेल पति बंटी शर्मा उम्र करीब 30 वर्ष निवासी ग्राम सुनाज थाना कोलारस शिवपुरी एवं उसके पति बंटी र्श्मा पिता शिवराम शर्मा उम्र करीब 25 साल निवासी ग्राम सुनाज थाना कोलारस शिवपुरी एवं 16 साल की एक अन्य नाबालिग लड़की के साथ अपहृत नवजात बालक को पकड़ने में सफलता मिली । नवजात बालक के साथ शिवपुरी में पकड़ी गई महिला दुर्गा पटेल ने पुलिस को पूछताछ पर बताया कि सिवनी की महिला कविता रजक पति स्वर्गीय प्रमोद कुमार रजक उम्र करीब 50 साल निवासी मदीना मस्जिद के पास हड्डी गोदाम सिवनी द्वारा बच्ची चोरी में सहयोग करने की जानकारी दिये जाने पर सिवनी से उक्त महिला को भी गिरफतार कर लिया गया है ।

लड़का नहीं लाई तो घर से निकाल दुंगा

पुलिस को पकड़े गये आरोपियों से पूछताछ पर जानकारी मिली कि मुख्य आरोपी दुर्गा पटेल का विवाह अपनी बड़ी बहन की मृत्यू हो जाने पर जीजा अन्नी लाल लोधी से पनागर जिला जबलपुर से कम कम उम्र में ही हो गया था लेकिन दुर्गा को विवाह के पश्चात कोई संतान नहीं हुई ओर शादी के करीबन 6 वर्ष पति की मृत्यू हो जाने पर वह सिवनी आकर पुराना शिव मंदिर के पास मंगलीपेठ में रहने लगी जहां उसकी मुलाकात कविता रजक से हुई जिसने दुर्गा लोधी को लखनादौन के पास ग्राम मढ़ई में एक चाय की दुकान पर काम पर लगा दिया जहां दुर्गा के संबंध ट्रक चालक बंटी शर्मा निवासी शिवपुरी से हो गये और करीब डेढ़ साल से वह शिवपुरी से  बंटी शर्मा के साथ रह रही है । बंटी र्श्मा अपने खानदान का इकलौता लड़का है और दुर्गा पटेल से कोई संतान न होने से आये दिन उसके साथ मारपीट और परेशान करता रहता था और वंश खत्म हो जाने की बात कहकर बंटी शर्मा ने उसे साफ कहकर रखा हुआ था कि लड़का नहीं लाई तो घर से निकाल दुंगा ।

50000 हजार रूपये की बात पर किया था सहयोग 

वहीं संतान न होने से परेशान चल रही दुर्गा पटेल को सिवनी निवासी कविता रजक और 108 एंबूलेंस के चालक आसिफ ने 50000 रूपये में अस्पताल से नवजात बच्चा दिलाने में सहयोग की बात की और दोनों ने मिलकर घटना वारदात के दो दिन पहले जिला अस्पताल में दुर्गा पटेल को पीएनसी वार्ड में घुमाया और बच्चा अस्पताल से चोरी करने के बाद शहर से बाहर निकलने में मदद किया । पुलिस ने नाबालिग बालिका सहित चारों उक्त आरोपियों गिरफतार कर लिया है ।

कार्यवाही इनका रहा योगदान 

पुलिस अधीक्षक श्री ललित शाक्यवार ने अपहृत नवजात बालक को सुरक्षित दस्तयाब कर आरोपियों को गिरफतार करने में कड़ी मेहनत और लगन से कार्य करने हेतु कोतवाली टी आई श्री अरविंद जैन, उप निरीक्षक खेमेन्द्र जैतवार, सहायक उपनिरीक्षक सी एल सिंगमारे, प्रधान आरक्षक संजय यादव, सायबर सेल सिवनी में पदस्थ प्रधान आरक्षक देवेन्द्र जैसवाल, प्रधान आरक्षक योगेश ठाकुर, आरक्षक श्याम सुंदर तिवारी, आरक्षक अजय बघेल, थाना कोतवाली से आरक्षक सुधीर मिश्रा, राकेश ठाकुर, नीतेश राजपूत, बालमुकुन्द बघेल, धर्म चंद सिंह नितिन तिवारी को पुरष्कृत करने की घोषणा किया । 

No comments:

Post a Comment

Translate