Friday, July 5, 2019

बजट में आदिवासियों के लिये यह रखी बात तो 10 बिंदुओं को किया चिहिन्त

बजट में आदिवासियों के लिये यह रखी बात तो 10 बिंदुओं को किया चिहिन्त

नई दिल्ली। गोंडवाना समय।
आदिवासियों के दस्तावेज, लोकगीतों-नृत्य-कला, उत्तपत्ति, वास्तुकला, जीवनशैली सहित अन्य विषयों पर होगा डिजीटल संग्रह वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार 17 प्रतिष्ठित पर्यटन स्थलों को विश्व स्तरीय पर्यटन स्थल के रूप में विकसित कर रही है, जो अन्य पर्यटन स्थलों के लिए एक मॉडल के रूप में कार्य करेंगे। ये प्रतिष्ठित पर्यटन स्थल सैलानियों को बेहतर अनुभव प्रदान करेंगे, जिससे इन स्थलों पर देशी और विदेशी दोनों पर्यटक बड़ी संख्या में आएंगे। उन्होंने कहा कि समृद्ध आदिवासी सांस्कृतिक विरासत का परिरक्षण करने के उद्देश्य से, एक डिजिटल संग्रह बनाया गया है, जिसमें भारत में आदिवासियों के दस्तावेजों, लोक गीतों, उनके विकास क्रम के फोटोचित्रों और वीडियों, उत्पत्ति स्थल, जीवनशैली, वास्तुकला, शिक्षा स्तर, पारंपरिक कला, लोकनृत्य तथा अन्य मानव विकास का संग्रह किया जाता है। उन्होंने कहा कि इस संग्रह को और अधिक समृद्ध और सुदृढ़ बनाया जाएगा।

10 बिंदुओं को किया चिहिन्त

वित्त मंत्री ने सरकार के दृष्टिकोण के 10 बिन्दुओं को चिन्हित किया जिसमें वास्तविक और सामाजिक बुनियादी ढांचा तैयार करना, डिजिटल इंडिया को अर्थव्यवस्?था के प्रत्येक क्षेत्र तक पहुंचाना, हरी-भरी धरती और नीले आकाश के साथ प्रदूषण मुक्त भारत, विशेषकर एमएसएमई, स्टार्ट-अप्स, रक्षा निर्माण, वाहनों, इलेक्ट्रॉनिक्स, वस्त्रों और बैटरियों तथा चिकित्सा उपकरणों के साथ मेक इन इंडिया, जल, जल प्रबंधन, स्वच्छ नदियां, नीली अर्थव्यवस्था, अंतरिक्ष कार्यक्रम, गगनयान, चन्द्रयान और उपग्रह कार्यक्रम, खाद्यान्नों, दालों, तिलहनों, फलों और सब्जियों में आत्मनिर्भरता और निर्यात, स्वस्थ समाज आयुष्मान भारत, अच्छी तरह से
पोषित महिला और बच्चा। नागरिकों की सुरक्षा, जन भागीदारी के साथ टीम इंडिया, न्यूनतम सरकार अधिकतम शासन।

No comments:

Post a Comment

Translate