गोंडवाना समय

Gondwana Samay

गोंडवाना समय

Gondwana Samay

Monday, August 19, 2019

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क की धंसक रही पुलिया, पानी में कटाव भी

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क की धंसक रही पुलिया, पानी में कटाव भी

शहरी क्षेत्र छिड़िया से नगझर बायपास तक बनी सड़क का मामला

सिवनी। गोंडवाना समय। 
डूंडासिवनी क्षेत्र के छिड़िया गांव से लेकर नगझर खैरीटेक बायपास मार्ग तक बनाई गई प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की पुलिया में ठेकेदार ने घोरलापरवाही बरत दी है। घटिया निर्माण की वजह से पुलिया धंसक रही है। वहीं तकनीकी रूप से गलत बनाई गई पुलिया की वजह से सड़क का कटाव भी हो रहा है। ठेकेदार की गुणवत्ता की पोल पुलिया और सड़क ने चार महीने में ही खोलकर रख दी है।

118.25 लाख रुपए की लागत से निर्मित है सड़क और पुलिया

नगझर-खैरी बायपास मार्ग से लेकर छिड़िया मार्ग तक तकरीबन 2 किलोमीटर लंबी सड़क का निर्माण कार्य प्रधानमंत्री ग्राम सड़क इकाई एक के तहत 118.25 लाख रुपए की लागत से किया गया है। जिसमें सड़क का बेस छिड़िया के सरकारी तालाब को खोदकर वहां से निकाली गई मुरम से किया गया है। गांव के समीप तकरीबन 300 मीटर सीसी सड़क छोड़कर शेष भाग पर डामरीकरण किया गया है।

मापदंड के आधार पर सड़क में नहीं हुआ काम

दो किलोमीटर लंबी प्रधानमंत्री ग्राम सड़क में ठेकेदार ने अधिक से अधिक राशि बचाने के चक्कर में सड़क और पुलिया की गुणवत्ता पर सेंध लगा दिया है। नियमानुसार सड़क पर 20 मीटर की डामर की परत, 75 मीटर डब्ल्यू बीएम परत और 150 मीटर दानेदार उपपरत होनी चाहिए लेकिन प्रधानमंत्री ग्राम सड़क ईकाई एक के तकनीकी अमला से सांठगांठ करके डामर की परत से लेकर डब्ल्यू बीएम और दानेदार परत उपपरत की मोटाई पर सेंध लगा दिया गया है जिससे सड़क की गुणवत्ता प्रभावित हो गई है।

धंसक रही पुलिया 

बायपास मार्ग के पास प्रधानमंत्री ग्राम सड़क में नाले के पानी की निकासी के लिए बनाई गई पुलिया एक तो गुणवत्ता और दूसरी तकनीकी रूप से गड़बड़ नजर आ रही है।जिसकी वजह से पानी के बहाव में डामर की सड़क और पटरी की मिट्टी का कटाव हो रहा है। मौका स्थल का नजारा खुद व खुद बयां कर रहा है। नाले में एक रो की छोटी सी पुलिया बना दी गई है जबकि बायपास सड़क का पानी बड़ी मात्रा में और तेज बहाव से प्रधानमंत्री ग्राम सड़क से होकर किसान के खेतों में जा रहा है जिससे सड़क का कटाव तो हो रहा है। वहीं किसान के खेत पर भी पानी भर रहा है। पुलिया में घटिया काम करने की वजह से पिल्लर की दीवार टूट-फूट रही है। वहीं पुलिया धंसक भी रही है। पुलिया के पास दो जगह धंसकते हुए नजारे अलग ही दिखाई दे रहे हैं।

No comments:

Post a Comment

Translate