Monday, September 2, 2019

निर्वाचन आयोग बेंगलुरु में एसोसिएशन आॅफ वर्ल्ड इलेक्शन बॉडीज की चौथी महासभा की करेगा मेजबानी


निर्वाचन आयोग बेंगलुरु में एसोसिएशन आॅफ वर्ल्ड इलेक्शन बॉडीज की चौथी महासभा की करेगा मेजबानी 

ए-वेब अध्‍यक्ष के रूप में वर्ष 2019-21 का पदभार संभालेगा निर्वाचन आयोग

सिवनी। गोंडवाना समय। 
भारत का निर्वाचन आयोग 3 सितंबर 2019 को एसोसिएशन ऑफ वर्ल्ड इलेक्शन बॉडीज़ (ए-वेब) की बेंगलुरु में होने वाली चौथी महासभा की मेजबानी करेगा। भारत 2019-21 के लिए ए-वेब के अध्यक्ष के रूप में कार्यभार संभालेगा। दुनिया भर के 50 से अधिक देश बेंगलुरु में होने वाली बैठक में शामिल होंगे। बैठक 02 से 04 सितंबर, 2019 तक आयोजित की गई है। "चुनावों में सोशल मीडिया और सूचना प्रौद्योगिकी के पहल और चुनौतियां" विषय पर एक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन भी 04 सितंबर, 2019 को आयोजित किया जाएगा।
एसोसिएशन ऑफ वर्ल्ड इलेक्शन बॉडीज (ए-वेब) दुनिया भर में चुनाव प्रबंधन संगठनों (ईएमबी)  का सबसे बड़ा एसोसिएशन है। ए-वेब की स्थापना 14 अक्टूबर, 2013 को सांग-डो, दक्षिण कोरिया में हुई थी। ए-वेब का स्थायी सचिवालय सियोल में स्थित है। ए-वेब की संकल्‍पना  दुनिया भर में स्वतंत्र, निष्पक्ष, पारदर्शी और सहभागिता के साथ चुनाव कराने में दक्षता और प्रभावशीलता को बढ़ावा देना है। इसकी गतिविधियां लोकतांत्रिक निर्वाचन प्रबंधन और निर्वाचन संबंधी प्रक्रियाओं में नवीनतम रुझानों, चुनौतियों और विकास की पहचान करने और दुनिया भर के चुनाव संबंधी लोकतंत्र को मजबूत बनाने के उद्देश्य से सदस्यों के बीच अनुभव और विशेषज्ञता के उचित आदान-प्रदान को आसान बनाने के मिशन से निर्देशित हैं।
भारत का निर्वाचन आयोग 2011-12 से ए-वेब के गठन की प्रक्रिया के साथ बहुत निकटता से जुड़ा हुआ है। आयोग अक्टूबर 2013 में ए-वेब के अस्तित्‍व में आने के बाद से लगातार दो बार (2013-15 और 2015-17) में इसके कार्यकारी बोर्ड का सदस्‍य रह चुका है। पिछली ए-वेब महासभा 31 अगस्त, 2017 को बुखारेस्ट में आयोजित की गई थी, जिसमें रोमानिया ने अध्यक्ष का पदभार संभाला और आयोग को सर्वसम्मति से ए-वेब 2017-19 के लिए उपाध्यक्ष चुना गया। भारत 2019-21 की अवधि में अध्‍यक्ष का पद संभालने के लिए पूरी तरह तैयार है।
वर्तमान में ए-वेब के सदस्‍य के रूप में 115 ईएमबी और 20 क्षेत्रीय एसोसिएशने/संगठन सहयोगी सदस्‍य  हैं। एशिया से 24 ईएमबी, अफ्रीका से 37, अमेरीका से 31, यूरोप से 17 और ओशनिया से 6 वर्तमान में ए-वेब के सदस्‍य हैं। आयोग ए-वेब के कार्यकारी बोर्ड में 2021-23 तक ए-वेब के तात्‍कालिक पूर्व सदस्‍य के रूप में अपनी क्षमता में बना रहेगा।  
ए-वेब 2017-19 के वर्तमान कार्यकारी बोर्ड में 21 सदस्य हैं, जिसमें डोमिनिकन रिपब्लिक के तत्काल अतीत के अध्यक्ष के रूप में; अफ्रीका से 5 सदस्य अर्थात् बर्किना फासो/गिनी/केन्या / मलावी/ट्यूनीशिया; अमेरिका से चार सदस्‍य- अर्जेंटीना/कोलम्बिया/ अल सल्वाडोर/ पराग्वे; एशिया से 4 सदस्य - बांग्लादेश/फिलिस्तीन/ताइवान/ उजबेकिस्तान; ओशिनिया के सदस्य के रूप में यूरोप से 3 सदस्य - अल्बानिया/बेलारूस/क्रोएशिया और फिजी शामिल हैं।
दुनिया भर के 50 से अधिक देशों के 120 से अधिक प्रतिभागी 02 से 04 सितंबर, 2019 तक बेंगलुरु में होने वाले ए-वेब कार्यक्रमों में शामिल होंगे। अब तक यह भारत में ईएमबी प्रतिनिधियों का सबसे बड़ा समागम है। ए-वेब के कार्यकारी बोर्ड की बैठक 02 सितंबर, 2019 को होगी; अगले दिन मंगलवार यानी, 3 सितंबर को, ए-वेब की आम सभा आयोजित की जाएगी, जहाँ भारत 2019-2021 के कार्यकाल के लिए ए-वेब के अध्यक्ष के रूप में पदभार संभालेगा। भारत के मुख्य निर्वाचन आयुक्त श्री सुनील अरोड़ा महासभा की बैठक की अध्यक्षता करेंगे। ए-वेब महासभा में ईएमबी के बीच साझेदारी को आगे बढ़ाने की चुनौतियों और उसके भविष्‍य; 2020 के दौरान ए-वेब द्वारा पदाधिकारियों की नियुक्ति; कार्यक्रम और गतिविधियाँ के बारे में विस्‍तार से चर्चा की जाएगी।
4 सितंबर को "चुनावों में सोशल मीडिया और सूचना प्रौद्योगिकी की पहल और चुनौतियां" विषय पर एक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित किया जाएगा। इस विषय पर बेनिन, भूटान, बोस्निया - हर्ज़ेगोविना,कैमरून, मलावी, मॉरीशस, फिलिस्तीन, रोमानिया, रूस, सिएरा लियोन और टोगो अपनी प्रस्तुतियां देंगे।
दुनिया भर में स्थायी लोकतंत्र हासिल करने के अपने सदस्यों की साझा कल्‍पना के साथ ए-वेब की स्थापना की गई थी। ए-वेब का उद्देश्य सदस्य देशों में चुनाव प्रबंधन की प्रक्रियाओं को मजबूत बनाना है। अपने अस्तित्‍व में आने के बाद से ए-वेब ने किर्गिस्तान, उज्बेकिस्तान, फिजी, पापुआ गिनी और समोआ जैसे विभिन्न देशों में चुनाव आईसीटी कार्यक्रम किए हैं। ए-वेब विभिन्न चुनाव प्रबंधन कार्य प्रणालियों का अध्ययन करने और ईएमबी के अन्य सदस्यों  के साथ ज्ञान साझा करने के लिए विभिन्न देशों में चुनाव आगंतुक और अवलोकन कार्यक्रम आयोजित करता है। एसोसिएशन ने बोस्निया और हर्जेगोविना, इक्वाडोर में इस तरह के ईवीपी आयोजित किए हैं। ए-वेब सचिवालय सदस्य अधिकारियों और ईएमबी सदस्‍यों के लिए चुनाव प्रबंधन क्षमता निर्माण कार्यक्रम भी कराता है। 2014 से, इसने 70 से अधिक देशों के 645 से अधिक प्रतिभागियों के लिए 89 से अधिक कार्यक्रमों का आयोजन किया है।

No comments:

Post a Comment

Translate