Monday, October 7, 2019

14 आदिवासी संगठनों से बना महापंचायत करेगा आदिवासियों के हक अधिकारों के लिये संघर्ष

14 आदिवासी संगठनों से बना महापंचायत करेगा आदिवासियों के हक अधिकारों के लिये संघर्ष 

सर्व आदिवासी समाज की छिंदवाड़ा में बैठक संपन्न

छिंदवाड़ा। गोंडवाना समय। 
आदिवासी बाहुल्य जिला छिंदवाड़ा में अब आदिवासी समाज की समस्याओं के समाधान, उनके हक अधिकारों व उन्हें न्याय दिलाने के लिये 14 आदिवासी समाजिक संगठनों ने एकता का परिचय देते हुये महापंचायत का गठन कर लिया है और सब मिलकर एकता के साथ राजनैतिक भावना से ऊपर उठकर सिर्फ समाज के लिये संघर्ष करेंगे ।
सर्व आदिवासी समाज की बैठक खजरी चौक आदिवासी संग्रहालय छिंदवाड़ा में 5 अक्टूबर को संपन्न हुई उक्त जानकारी जारी प्रेस विज्ञप्ति में सर्व आदिवासी समाज के दशरथ उईके ने जानकारी देते हुये बताया जिसमें जिले में संचालित 14 सामाजिक संगठनों के प्रमुखों की उपस्थिति रही और सर्वसम्मिति से सर्व आदिवासी महापंचायत संगठन का गठन किया गया । जिसमें 11 सदस्यीय लोगों को शामिल किया गया वहीं समिति गैर राजनैतिक होगी जो आदिवासियों की जनभावनाओं ओर पीड़ित के लये कार्य करेगी ।

गैर राजनैतिक संगठन में सभी राजनैतिक दलों के लोग शामिल

14 संगठनों से मिलकर बना महापंचायत में सभी राजनैतिक पार्टी के लोग शामिल किये गये है। जिनमें रूप से नेपाल सिंह उईके, विजय सिंह कुसरे, शामराव उईके, अघ्घनशा उईके, एस आर परतेती, दशरथ उईके, संजय परतेती, झमक लाल सरयाम, जितेन्द्र शाह ठाकुर, केवलराम परतेती, संतराम तेकाम ये सभी फाउण्डेशन मेंबर रहेंगे और आदिवासी समाज के हितों की रक्षाा के लिये राजनीति से ऊपर उठकर काम करेंगे और शोषित पीड़ितों लोगो की मदद कर उन्हें न्याय दिलाने का कार्य करेंगे। इस अवसर पर शिव कुमार मरकाम, पी आर मसराम, अतुलरााज उईके, लाल सिंसग भलावी, सुरेश कुमरे, सरजू उईके, संजय उईके, पवन शाह सरयाम, मनेश कुमरे, शुभम उईके, ब्रजमोहन सरयाम सहित अन्य पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

  

No comments:

Post a Comment

Translate