Monday, October 7, 2019

आदिवासी विद्यार्थियों को कराया जायेगा देश के गाँधी स्मृति स्थलों का भ्रमण

आदिवासी विद्यार्थियों को कराया जायेगा देश के गाँधी स्मृति स्थलों का भ्रमण

उत्कृष्ट छात्रावासों को 25 हजार व विशिष्ट विद्यालयों को 50 हजार की राशि स्वीकृत

भोपाल। गोंडवाना समय। 
मध्य प्रदेश के आदिवासी छात्रावासों और शालाओं के विद्यार्थियों को इस वर्ष देश के गाँधी स्मृति स्थलों का शैक्षणिक भ्रमण कराया जायेगा। आदिम जाति कल्याण विभाग ने भ्रमण कार्यक्रम के लिये जिला स्तरीय उत्कृष्ट छात्रावासों को छात्रावास 25-25 हजार रुपए और विशिष्ट विद्यालयों को 50-50 हजार रुपए की राशि स्वीकृत कर दी है।
      सभी सहायक आयुक्त और जिला संयोजक से कहा गया है कि शैक्षणिक भ्रमण कार्यक्रम में देश के प्रतिष्ठित औद्योगिक परिसरों और विशिष्ट शैक्षणिक महाविद्यालयों जैसे आईआईटी और आईआईएम परिसर को भी शामिल करें।

दीपावली पर रहेगा अवकाश

मध्यप्रदेश ट्रायबल वेलफेयर रेसिडेंशियल एण्ड आश्रम एजुकेशनल इंस्टीट्यूशंस सोसायटी द्वारा संचालित एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों में इस वर्ष दीपावली का अवकाश 25 अक्टूबर से 28 अक्टूबर तक रहेगा। इसके साथ 6 दिन जोड़कर 25 अक्टूबर से 3 नवम्बर तक बच्चों को घर जाने की छूट रहेगी। प्राचार्यों से विद्यार्थियों की अर्ध-वार्षिक परीक्षाएँ 24 अक्टूबर तक पूर्ण कराने को कहा गया है। इन विद्यालयों में दशहरा का अवकाश 7 से 10 अक्टूबर तक स्वीकृत किया गया है।

आदिवासी विद्यार्थियों की कोचिंग

कक्षा 10 की परीक्षा में 60 प्रतिशत या उससे अधिक अंक प्राप्त अनुसूचित जनजाति के विद्याथीर्यों के लिये आकाँक्षा योजना शुरू की गई है। इसमें कक्षा कक्षा 11वीं और 12वीं में अध्यनरत रहते हुए जे.ई.ई.,नीट,एम्स और क्लेट की राष्ट्रीय प्रवेश परीक्षा की तैयारी के लिये जबलपुर, इंदौर, भोपाल और ग्वालियर में आदिवासी विद्यार्थियों के लिये दो वर्षीय कोचिंग की व्यवस्था की गई है। आकांक्षा योजना में 800 विद्यार्थियों को कोचिंग दिये जाने की व्यवस्था की गई है। प्रत्येक कोचिंग सेन्टर में इंजीनियरिंग के लिये 100-100 तथा मेडिकल और क्लेट के लिये 50-50 विद्यार्थियों को कोचिंग दी जाएगी। इस योजना में जबलपुर की मोमेंटम कोचिंग क्लास के लिये करीब 49 लाख 22 हजार रुपए की राशि विभाग द्वारा जारी की गई है।

No comments:

Post a Comment

Translate