Sunday, October 20, 2019

जिला मुख्यालय सहित ब्लॉकों में बनेंगे आदिवासी सामुदायिक भवन, अन्याय-अत्याचार के मामलों में

जिला मुख्यालय सहित ब्लॉकों में बनेंगे आदिवासी सामुदायिक भवन, अन्याय-अत्याचार के मामलों में कार्यवाही को लेकर कलेक्टर-एसपी से करेंगे चर्चा

मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार कर रही आदिवासियों के सर्वांगीण विकास को लेकर कार्य

छिंदवाड़ा। गोंडवाना समय। 
स्थानीय रानी कोठी में आयोजित आदिवासी कांग्रेस प्रकोष्ठ की बैठक में मध्य प्रदेश सरकार द्वारा कम समय में लिये गये आदिवासियों के लिये ऐतिहासिक निर्णयों और सरकार द्वारा आदिवासियों के हित में किये जा रहे कार्याें को बताते हुये सांसद नकुल नाथ ने कहा कि कांग्रेस की सरकार आदिवासियों के सर्वांगीण विकास के लिये अनेकों योजनायें बनाकर उन्हें क्रियान्वयन भी कराना प्रारंभ कर दिया है। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ के द्वारा आदिवासियों के संबंध में वचन पत्र में जिन बातों को शामिल किया गया था उनमें से अधिकांश वचनों को सरकार पूरा करने के योजना बनाकर लाभ भी देना प्रारंभ कर दिया है। सांसद नकुल नाथ ने आदिवासी कांग्रेस प्रकोष्ठ की बैठक में सरकार की उपलब्धी के साथ साथ संगठन को मजबूत करते हुये आगामी समय में होने वाले पंचायत चुनाव को लेकर भी आदिवासी कांग्रेस प्रकोष्ठ के पदाधिकारियों से सदस्यता अभियान, संगठनात्मक विषयों पर विचार मंथन किया गया और चुनावी तैयारियों को लेकर दिशा निर्देश भी दिये। सांसद नकुलनाथ द्वारा ली गई आदिवासी कांग्रेस प्रकोष्ठ की बैठक में आदिवासी कांग्रेस प्रकोष्ठ के जिला, ब्लॉक सहित प्रमुख पदाधिकारी व सदस्यगण के साथ कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष सहित अन्य कांग्रेस के पदाधिकारी भी मौजूद रहे।

आर्थिक उत्थान ही नहीं धर्म, भाषा, संस्कृति, कला को लेकर कांग्रेस सरकार ले रही निर्णय

आदिवासी कांग्रेस प्रकोष्ठ की बैठक में सासंद नकुल नाथ ने कहा कि मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ के द्वारा आदिवासियों के आर्थिक उत्थान विकास के साथ साथ, आदिवासी संस्कृति, धर्म, भाषा, शैक्षणिक, स्वरोजगार, व्यापार, उनकी ऐतिहासिक उपलब्धी को सुरक्षित संरक्षित करने का काम भी किया जा रहा है। आदिवासी समाज के वीर बलिदानियों के नाम पर प्रेरणा केंद्र के रूप में जबलपुर में स्थापित किया जा रहा है। विश्व आदिवासी दिवस पहली बार मध्य प्रदेश में अवकाश घोषित करने का निर्णय मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ द्वारा लिया गया था और आदिवासी दिवस को सरकार के द्वारा  बजट उपलब्ध करवाकर भव्य आयोजन किया गया था। मुख्यमंत्री मदद योजना के तहत आदिवासी समाज के जन्म-विवाह, मृत्यू संस्कार को लेकर भी सरकार ने योजना प्रारंभ किया गया है। वहीं 1 नवंबर को मध्य प्रदेश क स्थापना दिवस पर इस बार मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार ने फैसला लिया है कि गोंड जनजाति कला वर्ष के रूप में मनाया जायेगा । इस तरह आदिवासी समाज के इतिहास से भविष्य को लेकर कार्य करते हुये आदिवासी समाज को विकास की मुख्य धारा से जोड़ने का कार्य मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार के द्वारा किया जा रहा है।

मुख्यालय सहित प्रत्येक ब्लॉक में बनेगा आदिवासी भवन

आदिवासी कांग्रेस प्रकोष्ठ की बैठक में सांसद नकुल नाथ ने जानकारी देते हुये बताया कि जिला मुख्यालय सहित जिले समस्त ब्लॉकों में सर्वसुविधायुक्त आदिवासी सामुदायिक भवन का निर्माण कराया जायेगा। सबसे बड़ी बात यह है भवन के लिये भूमि भी उपलब्ध करवाई जायेगी । जिससे आदिवासी समाज के सामुहिक रूप से होने वाले कार्यक्रमों को आयोजित करने में भवन को लेकर समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ेगा। मध्य प्रदेश सरकार के द्वारा मध्य प्रदेश अन्य आदिवासी बाहुल्य जिलो में आदिवासी सामुदायिक भवन बनाने का निर्णय मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ के द्वारा लिया गया है। जिससे मध्य प्रदेश के अनेक आदिवासी बाहुल्य जिलों में अपने अपने सामाजिक कार्यक्रमों के दौरान भवन को लेकर की जाने वाली चिंता से आदिवासी समाज को मुक्ति मिल जायेगी। आदिवासी सामुदायिक भवन सुविधाजनक होंगे ताकि कार्यक्रम सुचारू रूप से संपन्न हो सके। 

पुलिस थाना में आदिवासियों के मामलों को लेकर करेंगे कलेक्टर-एसपी से चर्चा

आदिवासियों के साथ होने वाले अन्याय, अत्याचार, शोषण को लेकर पुलिस थाना में होने वाली शिकायतों पर संवेदनशीलता, गंभीरता के साथ कार्यवाही करने के लिये सांसद नकुल नाथ ने आदिवासी कांग्रेस प्रकोष्ठ की बैठक में पदाधिकारी से कहा कि ऐसी शिकायतों व मामलों को लेकर वे पुलिस अधीक्षक, कलेक्टर से चर्चा करेंगे । आदिवासी वर्ग के लोगों के साथ होने वाले अन्याय, अत्याचार के मामले में मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार और मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ भी संवेदनशील है और उनके अधिकारों को लेकर सजग है। आदिवासी समाज के लिये साहूकार अधिनियम को लेकर बनाये जा रहा मध्य प्रदेश में कानून आदिवासी को शोषण व अत्याचार से बचाने में विशेष रूप से सहायक होगा । इसके साथ ही मध्य प्रदेश सरकार ने यह भी फैसला लिया है आदिवासी समाज के लोगों को जरूरत पड़ने पर कर्ज न लेना पड़े इसके लिये आदिवासी को बैंक से सीधे स्वयं पैसा निकालने के लिये योजना बनाई जा रही है जिससे आदिवासी समाज के जरूरतमंद लोगों को सेठ साहूकारों से कर्ज नहीं लेना पड़ेगा।

आदिवासी कांग्रेस प्रकोष्ठ ने किया आभार व्यक्त तो बैठक में ये रहे मौजूद 

आदिवासी कांग्रेस प्रकोष्ठ की बैठक में मध्य प्रदेश कांग्रेस सरकार, मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ द्वारा मध्य प्रदेश में आदिवासियों के हित में लिये जा रहे निर्णय व सांसद नुकल नाथ के द्वारा जिले में आदिवासियों विकास के लिये किये जा रहे कार्यों पर आदिवासी कांग्रेस प्रकोष्ठ के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ व सांसद नकुल नाथ का आभार व्यक्त किया। वहीं रानी कोठी में आयोजित आदिवासी कांग्रेस प्रकोष्ठ की बैठक में जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष श्री गंगा प्रसाद तिवारी, श्री विश्वनाथ ओक्टे, श्री अमित सक्सेना, श्री जय सक्सेना, आदिवासी कांग्रेस प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष महेश धुर्वे, सहित श्री संजय परतेती, श्री दशरथ ऊइके, श्री बीरपाल इनवाती, श्री संतोष भारती, श्री प्रेमशा भलावी, श्री अशोक ऊइके, श्री उदय सिंह मसराम, श्री बी एल उइके, श्री जुगराज पन्द्राम, श्री राजू ऊइके, श्री तानुराम धुर्वे संगीता परतेती, श्री संगीत तिरगं, अनुसुइया सिललं, ब्रजकुमारी सरयाम, पुराण परानी, जगदीश धुर्वे, जय सिंह इरपची, दुर्गेश उइके सहित सभी ब्लॉकों के अध्यक्ष गण उपस्तिथ रहे।

No comments:

Post a Comment

Translate