Thursday, October 3, 2019

मजदूरों का हक छीनकर नहर की सफाई में दवा का छिड़काव

मजदूरों का हक छीनकर नहर की सफाई में दवा का छिड़काव

सिवनी। गोंडवाना समय। 
जलसंसाधन विभाग के भोमा डिवीजन में नहर की साफ-सफाई का काम शुरू हो गया है। जलसंथा और ऐरीकेशन विभाग के इंजीनियर नहर की साफ-सफाई का काम मजदूरों से कराए जाने की बजाय उनकी रोजी-रोटी छीनकर नहर की सफाई के लिए उसमें खरपतवार नाशक दवा का छिड़काव कर रहे हैं। दवा का छिड़काव भोमा से भोमाटोला, पिण्डरई और मुण्डरई स्थित नहर में हो रहा है। ताकि साफ-सफाई के नाम पर भारी बिल-बाउचर बनाकर राशि में घालमेल किया जा सके।

तत्कालीन राहत, मवेशियों के  लिए खतरा-

खरपतवार नाशन दवा का छीड़काव करने से तत्काल में तो हरी-भरी खास सूख जाएगी लेकिन पानी पड़ते ही फिर हरी-भरी हो जाएगी। वहीं दूसरी तरफ यदि मवेशियों ने यदि दवा छीड़काव वाली चारा-घास खा ली तो उनके लिए खतरा बन सकती है। इसके अलावा नहर में डाली गई दवा बारिश के पानी में इधर-उधर घुलकर पानी के सहारे इधर-उधर पहुंचकर कई लोगों व जीव-जंतु के लिए घातक हो सकती है। ग्रामीणों ने ऐरीकेशन विभाग की इस मनमानी पर अंकुश लगाकर मजदूरों से काम कराए जाने की मांग की है।

No comments:

Post a Comment

Translate